आरटीआई अधिनियम के प्रावधानों पर प्रशिक्षण सत्र का आयोजन

फरीदाबाद(Abtaknews.com) 11 जून, 2021: जे.सी. बोस विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा गैर-शिक्षण कर्मचारियों के लिए आयोजित तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत आरटीआई अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों पर सत्र का आयोजन किया, जिसमें जन सूचना अधिकारियों तथा गैर शैक्षणिक कर्मचारियों सहित 90 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया।


हरियाणा लोक प्रशासन संस्थान, गुरुग्राम में लोक प्रशासन की संकाय आरती दुडेजा सत्र की विशेषज्ञ वक्ता रहीं। सत्र की अध्यक्षता कुलसचिव डॉ. एस.के. गर्ग ने की और उप कुलसचिव (स्थापना) डॉ मेहा शर्मा द्वारा समन्वयित किया गया। इस अवसर पर बोलते हुए कुलसचिव डॉ. एस.के. गर्ग ने आरटीआई अधिनियम के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि यह अधिनियम भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने में अत्यधिक प्रभावी उपकरण साबित हुआ है।

अधिनियम की मुख्य विशेषताओं के बारे में बताते हुए आरती डूडेजा ने कहा कि आरटीआई पारदर्शिता लाने और प्रशासन की जवाबदेही सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। उन्होंने आरटीआई अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों का विस्तार से वर्णन किया और अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों की जानकारी उदाहरण के साथ दी। सत्र संवादात्मक रहा, जिसमें प्रतिभागियों ने विशेषज्ञ वक्ता से अपनी शंकाओं से संबंधित प्रश्न पूछे, जिनका समाधान विशेषज्ञ वक्ता द्वारा किया गया।

No comments

Powered by Blogger.