एबीवीपी ने किया गुरुग्राम विश्वविद्यालय का घेराव,ऑफ़लाइन-ऑनलाइन विकल्प, बदलेंगें

गुरुग्राम(abtaknews.com)23 फरवरी,2021: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने छात्रों की परीक्षा से जुड़ी माँग को लेकर गुरुग्राम विश्वविद्यालय का घेराव किया। सुबह मुख्य गेट पर पहले तालाबंदी की गयी और जमकर नारेबाजी हुई। इसके बाद सैकड़ों छात्र विश्वविद्यालय के अंदर प्रवेश कर गए और मुख्य ब्लाक के बाहर धरने पर बैठ गए। इस विरोध प्रदर्शन में द्रोणाचार्य राजकीय महाविद्यालय, राजकीय कन्या महाविद्यालय, सेक्टर 14, राजकीय पीजी कॉलेज, सेक्टर 09 और गुरुग्राम विश्वविद्यालय कैंपस के सैकड़ों छात्र शामिल हुई। एबीवीपी के नेतृत्व में हुए इस आंदोलन में छात्रों की प्रमुख मांग ऑफलाइन - ऑनलाइन दोनों विकल्प    मिलने और पैटर्न में बदलाव करना शामिल था। #ABVP besieges Gurugram University, offering offline-online options and change pattern

मीडिया प्रभारी आशीष राजपूत ने बताया कि एबीवीपी के प्रतिनिधिमंडल ने एक सप्ताह पहले विगत सोमवार को विश्वविद्यालय प्रशासन को एक ज्ञापन दिया था जिसमें छात्रों को ऑफ़लाइन और ऑनलाइन दोनों विकल्प दिए जाने एवं पैटर्न बदलने की मांग शामिल थी। पारिजात शास्त्री के नेतृत्व में इस प्रतिनिधिमंडल को विश्वविद्यालय ने आश्वस्त किया था कि दो-तीन दिन में आधिकारिक घोषणा हो जायेगी। लेकिन एक सप्ताह बीतने पर भी कोई घोषणा नही हुई। विभाग संयोजक गौरव ने कहा कि कॉलेजों में ऑफ़लाइन कक्षा बहुत कम हुई हैं जिस वजह से सिलेबस पूरा नही हुआ है। ऑनलाइन क्लास में सिर्फ खानापूर्ति ही हुई। इसलिए हमने ये मांगे रखी हैं। छात्र नेत्री सिमरन राघव ने बताया कि जब ऑफ़लाइन पढ़ाई नही हुई तो ऑफ़लाइन परीक्षा को क्यों अनिवार्य किया जा रहा है। पैटर्न में बदलाव किया जाना ही छात्रों की समस्या का हल है।

विभिन्न महाविद्यालयों से आये छात्र करीब चार घण्टे तक मुख्य ब्लाक के बाहर धरने पर बैठे रहे। इसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने कई बार मीटिंग करने का समय देने की बात कही जिसे छात्रों ने नकार दिया। अंत में विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्रों की मांग मानने की घोषणा की और प्रदर्शन खत्म करने का अनुरोध किया। कॉमर्स हेड डॉ. अशोक खन्ना , डीन ऑफ़ कॉलेज अमन वशिष्ठ व अन्य स्टाफ की उपस्थिति में परीक्षा नियंत्रक डॉ. बदरुद्दीन ने छात्रों को ऑफ़लाइन - ऑनलाइन दोनों विकल्प देने की घोषणा की एवं पैटर्न बदलाव की मांग को भी स्वीकार किया। छात्रों को परीक्षा में अब बिना यूनिट सिस्टम के कोई भी पाँच सवाल करने होंगे। इस घोषणा के बाद प्रदर्शन समाप्त हो गया। एबीवीपी नेतृत्व में पारिजात शास्त्री, श्याम तोमर, सिमरन राघव, दक्ष धुल, नितिन कौशिक, योगेश, साहिल, राहुल, अक्षय शर्मा आदि भी उपस्थित रहे।


No comments

Powered by Blogger.