हरियाणा लार्ज स्केल मैपिंग परियोजना’ और ‘स्वामित्व योजना’ में ड्रोन फ्लाइंग कार्य जनवरी में पूरा

चंडीगढ़(abtaknews.com)21 नवंबर,2020: हरियाणा सरकार हरियाणा लार्ज स्केल मैपिंग परियोजना’ और स्वामित्व योजना’ के तहत प्रदेश में किए जा रहे ड्रोन फ्लाइंग कार्य को जनवरी 2021 तक पूरा कर लेगी और मार्च, 2021 तक फीचर एक्सट्रेक्शन कार्य को भी अंतिम रूप दे दिया जाएगा।यह जानकारी आज यहां मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में भारत के महासर्वेक्षक लेफ्टिनेंट जनरल गिरीश कुमार और राज्य के सभी जिला उपायुक्तों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित हरियाणा लार्ज स्केल मैपिंग परियोजना और स्वामित्व योजना की समीक्षा बैठक के दौरान दी गई।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि प्रत्येक रेवेन्यू एस्टेट में निजीसार्वजनिककृषि और निवास क्षेत्र इत्यादि को वर्गीकृत करते हुए उस रेवेन्यू एस्टेट की कुल भूमि का डाटा एकत्र किया जाए। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने उपायुक्तों को निर्देश दिए कि अतिरिक्त उपायुक्तों को नोडल अधिकारी नियुक्त करें ताकि इस परियोजना से संबंधित कार्यों में तेजी लाई जा सके।

मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिए कि जिन जिलों में अभी तक काम पूरा नहीं हुआ हैवहां ड्रोन और सर्वेक्षण करने वाली टीमों की संख्या दोगुनी कर कार्य को जल्द पूरा किया जाए। इसके अलावाप्रारूप मानचित्र का कार्य भी प्राथमिकता के आधार पर पूरा किया जाना चाहिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि गुरुग्रामचरखी दादरीफरीदाबादकरनालझज्जरभिवानी और रोहतक में लंबित जमाबंदियों को जल्द से जल्द ऑनलाइन किया जाए।

भारत के महासर्वेक्षक लेफ्टिनेंट जनरल गिरीश कुमार ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि परियोजना के लक्ष्यों को सुचारू और त्वरित रूप से क्रियान्वित करने के लिए लाइन मार्किंग के साथ-साथ ड्रोन फ्लाइंगनिरीक्षणों और फीचर एक्सट्रेक्शन के साप्ताहिक लक्ष्य दिए जा रहे हैं और हर हफ्ते इनकी समीक्षा भी की जा रही है। संबंधित अधिकारियों को इन सभी कार्यों की मॉनिटरिंग करने के लिए भी निर्देश दे दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि महेंद्रगढ़रेवाड़ीझज्जरचरखी दादरी और रोहतक सहित कुछ जिलों में स्वामित्व योजना’ के तहत शत-प्रतिशत कार्य जल्द पूरा कर लिया जाएगा।बैठक में बताया गया कि करनाल के चित्र लेने के लिए 360 कैमरों की नई तकनीक का प्रयोग किया गया है। मैपिंग पूरी हो जाने के बाद ये फोटो मानचित्रों के साथ एकीकृत किए जाएंगे और यह कार्य 10 दिसंबर, 2020 तक पूरा हो जाएगा। वर्तमान में 18 जिलों में ड्रोन टीमों की प्रतिनियुक्ति की गई है और बाकी जिलों में भी जल्द ही टीमों की प्रतिनियुक्ति की जाएगी।

इस अवसर पर राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव और वित्त आयुक्त श्री संजीव कौशलमुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री वी. उमाशंकरमुख्यमंत्री के उप प्रधान सचिव श्री अमित कुमार अग्रवाल उपस्थित थे।

----------------------------------------------

चण्डीगढ़, 21 नवम्बर- हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस एस.एन. अग्रवाल द्वारा सरदार वल्लभभाई पटेल पर लिखित तीन पुस्तकों का विमोचन किया।

इस संबंध में जानकारी देते हुए एक प्रवक्ता ने बताया कि तीन पुस्तकों में से दो पुस्तकें देश की आजादी के बाद भारत में रियासतों के एकीकरण पर हैं। सरदार पटेलद सुप्रीम आर्किटेक्ट इन यूनिफिकेशन ऑफ इंडिया’ वॉल्यूम -1, 25 जून, 1947 को लॉर्ड माउंटबेटन द्वारा राज्यों के गठन के बारे में हैजिसने सरदार पटेल को राज्यों का प्रभारी मंत्री बनाया।

पुस्तक पर अधिक जानकारी सांझा करते हुए प्रवक्ता ने कहा कि सरदार पटेल ने भारतीय प्रभुत्व को स्वीकार करने को राजाओंमहाराजाओं और नवाबों को प्रेरित करने के लिए देशभक्तिपूर्ण भाषण दिया।  इसका उन पर एक चुंबकीय प्रभाव पड़ा और एक-एक करके वे भारतीय प्रभुत्व में शामिल हुए।पुस्तक का दूसरा वॉल्यूम हैदराबाद के निज़ाम के अडिय़ल रवैये से संबंधित है जो एक स्वतंत्र राज्य का सपना देख रहा था, जबकि तीसरा वॉल्यूम जिसका शीर्षक ‘‘हेड सरदार पटेल बीन द फस्र्ट प्राइम मिनिस्टर’’ सरदार पटेल के व्यक्तित्व पर है ।

------------------------------------- 

चण्डीगढ़, 21 नवम्बर- हरियाणा खेल एवं युवा मामले विभाग ने वर्ष 2019-20 में राज्य स्तर की खेल प्रतियोगिताओं में पदक हासिल करने वाले खिलाडिय़ों से छात्रवृत्ति के लिए 15 दिसंबर तक आवेदन आमंत्रित किये हैं।

इस संबंध में जानकारी देते हुए एक प्रवक्ता ने बताया कि  वर्ष 2019-20 के अंतर्गत पहली अप्रैल, 2019 से 31 मार्च, 2020 की अवधि के दौरान जिन खिलाडिय़ों ने राज्य स्तर की खेल प्रतियोगिताओं में पदक हासिल किए हैंऐसे खिलाड़ी छात्रवृत्ति के लिए 15 दिसंबर, 2020 तक अपने आवेदन संबंधित जिला खेल एवं युवा मामले कार्यालय में जमा करवा सकते हैं।छात्रवृत्ति के लिए आवदेन पत्र एवं शर्तें विभागीय वेबसाइट www.haryanasports.gov.in पर उपलब्ध हैं।

------------------------------------------- 

चण्डीगढ़, 21 नवम्बर- हरियाणा की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती कमलेश ढांडा ने कहा कि जल है तो जीवन हैइसी आधार पर केंद्र व हरियाणा सरकार द्वारा जल जीवन मिशन योजना के तहत हर घर में नल और हर नल में स्वच्छ जल उपलब्ध करवाया जा रहा है। राज्य मंत्री कमलेश ढांडा आज जिला कैथल के कलायत खंड के लिए जल जीवन मिशन कार्यक्रम के तहत पानी की जांच हेतू मोबाइल वॉटर टैस्टिंग लैब वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के उपरांत लोगों से बातचीत कर रही थीं।उन्होंने कहा कि एक करोड़ रुपए की मोबाइल वाटर टेस्टिंग लेबोरेट्री वैन प्रदेशवासियों के लिए अच्छी सौगात लेकर आई है ताकि गुणवत्ता वाला पानी हर घर में पहुंचाना सुनिश्चित किया जा सके। यह मोबाइल वैन गांव-गांव जाकर पानी के सैंपल लेकर मौके पर ही पानी की गुणवत्ता के बारे में जानकारी देगी।

उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन कार्यक्रम के तहत 2024 तक देशभर में हर घर में स्वच्छ जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने हर घर में नल के जरिये स्वच्छ जल पहुंचाने के लिए 3.5 लाख करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया है। पीने के पानी की समस्या खासकर ग्रामीण इलाकों में ज्यादा विकट है और इस समस्या से सबसे ज्यादा महिलाओं को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस समस्या के स्थायी समाधान के लिए जल जीवन मिशन के तहत कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा सरकार पूरी प्रतिबद्धता के साथ मिशन को जल्द से जल्द सफल बनाने के लिए प्रयास कर रही है। कलायत खंड में पीने के पानी को हर घर में पहुंचाने के लिए 18 करोड़ रुपए की लागत से काम शुरू हो चुका है और 42 करोड़ रुपए के कार्य शीघ्र शुरू होने वाले हैं।          

---------------------------------------------- 

चंडीगढ़21 नवंबर- हरियाणा राज्य चौकसी ब्यूरो द्वारा वक्फ बोर्ड रोहतक के सम्पदा अधिकारी व रैन्ट कलैक्टर को 50,000 रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया।ब्यूरो के एक प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि शिकायतकर्ता श्री हरीश कुमार वासी महम ने चौकसी ब्यूरो को शिकायत दी थी कि उसने बक्फ  बोर्ड के 220 वर्ग गज के प्लाट को किराए पर लेने के लिए आवेदन किया थाजिसके एवज में पहले उक्त अधिकारी एक लाख 60,000 रुपये रिश्वत की मांग कर रहा था और 80,000 रुपये पहले व 80,000 रुपये काम होने के बाद देने बारे कह रहा था परन्तु सौदा 50,000 रुपये में तय हो गया है। उक्त सूचना पर भ्रष्टाचार अधिनियम के अंतर्गत अभियोग दर्ज करके चौकसी ब्यूरो की टीम ने निरीक्षक प्रदीप के नेतृत्व में छापा मारकर व ड्यूटी मैजिस्ट्रेट श्री सुरेश चन्द्र खरबनायब तहसीलदाररोहतक की उपस्थिति में नसीररैन्ट कलैक्टर व अलोक पन्थसम्पदा अधिकारीवक्फ  बोर्डरोहतक को रंगे हाथों गिरफ्तार किया। दोनों आरोपियों को गहन पूछताछ उपरान्त न्यायालय में पेश किया गया है और मामले की आगामी जांच प्रगति पर है।

No comments

Powered by Blogger.