हरियाणा में ग्रामीण स्तर पर यूथ क्लबों का किया जाएगा गठन : संदीप सिंह,खेलराज्य मंत्री

 

चंडीगढ़(abtaknews.com)10 अक्तूबर,2020: हरियाणा के खेल एवं युवा मामले राज्य मंत्री  संदीप सिंह ने कहा कि ग्रामीण स्तर पर यूथ क्लबों का गठन किया जाएगाजो सरकारी योजनाओं को कार्यान्वित करने के साथ-साथ सामाजिक गतिविधियों में अपना योगदान देंगे। यही नहीं युवाओं को लक्ष्य प्राप्ति में भी यूथ क्लब अहम भूमिका निभाएंगे। खेल विभाग की ओर से यूथ क्लब का मसौदा तैयार कर लिया गया हैजल्द ही गांवों में इनके गठन की प्रक्रिया शुरू होगी।

खेल राज्य मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि ग्रामीण आंचल में युवाओं को उनके लक्ष्य प्राप्ति और योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए यूथ क्लब अहम भूमिका निभाएंगे। यूथ क्लब के जरिए न केवल जन-जन तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचेगा बल्कि युवाओं के भविष्य को लेकर तैयार की गई योजनाओं का भी युवा सहजता के साथ लाभ उठा सकेंगे। खेल विभाग की यूथ क्लब के गठन में अहम हिस्सेदारी रहेगी। विभाग की ओर से यूथ क्लब के गठन की नियम व शर्तें निर्धारित की गई हैंजिनके अंतर्गत ही यूथ क्लब के सदस्यों का चयन किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि यूथ क्लब में महिलाओं की भागीदारी 50 फीसदी रहेगीजिससे गांव की बेटियां व महिलाएं ज्यादा सशक्त होंगी। इसके साथ ही यूथ क्लब पूरी तरह गैर-राजनीतिक होगाउसका संबंध खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग या फिर नेहरू युवा केंद्र की ओर से संचालित किए जाने वाले कार्यक्रमों के साथ रहेगा।

 

यह होंगे मानक

गांव में यूथ क्लब के सदस्य के लिए सबंधित गांव का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है। इसके लिए 15 से 29 वर्ष तक की आयु निर्धारित की गई है। क्लब में सभी धर्मोंजातियों व समुदाय के सदस्य बनाए जाएंगे। युवा पदाधिकारियों में 50 फीसदी प्रतिनिधित्व युवतियों का रहेगा। राष्ट्रीयराज्य व जिला स्तर पर युवा पुरस्कार विजेताओं को प्राथमिकता दी जाएगी। युवा पदाधिकारियों के परिवार से कोई सदस्य तत्कालीन ग्रामीण पंचायत में प्रतिनिधि न हो। युवा प्रतिभागियों का कार्यकाल 2 वर्ष के लिए रहेगा।

 

यह होगा यूथ क्लब का कार्य

यूथ क्लब ग्रामीण स्तर पर सरकारी योजनाओं को कार्यान्वित करने में अपना सहयोग देगा। जिला प्रशासन व राज्य सरकार द्वारा चलाए जाने वाले अभियानों में यूथ क्लब की भागेदारी अनिवार्य होगी। यूथ क्लब की ओर से एक महीने में कम से कम दो सामाजिक गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। सभी यूथ क्लब राष्ट्रीय व राज्य की युवा नीति का अनुसरण करेंगे। यूथ क्लब मंडल स्तर पर एक महीने मेंजिला स्तर पर तीन महीने में और राज्य स्तर पर एक महीने में एक बैठक का आयोजन करेंगे। इसमें संबंधित विभाग के अधिकारियों से लेकर मंत्री व मुख्यमंत्री की मौजूदगी रहेगी। यूथ क्लब युवाओं व अन्य सुझावों को विभाग और सरकार के सक्षम प्रस्तुत करेंगे ताकि नई योजनाओं को अमलीजामा पहनाया जा सके।

--------------------------------------------


चंडीगढ़, 10 अक्तूबर- अम्बाला-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग के नजदीक 200 करोड़ रूपये की लागत से 22 एकड़ में बनाये जा रहे शहीदी स्मारक के निर्माण कार्य को लेकर सूचनाजन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक पी.सी. मीणा व उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने आज परियोजना स्थल पर लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक  कर विस्तार से जानकारी ली।

उन्होंने यहां पर किए जाने वाले विभिन्न आर्ट वर्क व डिजिटल  वर्क को लेकर लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों व आर्किटैक्चर को बेहतर समन्वय के साथ यहां पर क्या-क्या कार्य किए जाने हैं इसके लिए रूपरेखा तैयार करते हुए समय पर करने के निर्देश दिए ताकि सम्बन्धित परियोजना को निर्धारित समय अवधि में पूरा किया जा सके।

इस मौके पर आर्किटैक्चर रेणू खन्ना ने एलईडी पर वीडियो के माध्यम से परियोजना संबधी निर्माण कार्य की विस्तार से जानकारी दी और आर्ट वर्क के तहत यहां पर क्या-क्या किया जा सकता है उस बारे भी जानकारी दी। महानिदेशक पी.सी. मीणा ने वीडियो में दिखाए गये तमाम क्लीप को देखते हुए कहा कि 1857 की क्रांति से सम्बंधित विभिन्न घटनाओं को ऑडियो-विजुअलशॉर्ट फि़ल्मसडिजिटल वॉक थ्रू, 5-ष्ठ ऑडिटॉरीयम के साथ-साथ जो अन्य पेंटिग दर्शाई जानी है उसकी रूपरेखा तैयार करना सुनिश्चित करें और समयबद्ध तरीक़े से सभी कार्यों को सम्पन्न करें। इस मौके महानिदेशक ने परियोजना के तहत यहां पर किए जा रहे सभी कार्यों का मौके पर जायजा भी लिया। लोक निर्माण विभाग के चीफ इंजीनियर चंद्रमोहन ने महानिदेशक को अवगत करवाते हुए बताया कि यहां पर 5 भवन तैयार किए जा रहे हैं जिसके तहत इंटरप्रीटेशन सैंटरओपन ऐयर थियेटरऑडिटोरियमम्यूजियम व मैमोरियल टावर शामिल हैं। उन्होंने बताया कि आईसीओटी व ऑडिटोरियम का अधिकतर कार्य पूरा किया जा चुका है जबकि म्यूजियम बिल्डिंग का 50 प्रतिशत व मैमोरियल टावर संबधी 20 प्रतिशत कार्य पूरा किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि 31 मार्च 2021 तक लोक निर्माण विभाग द्वारा फिनिंशिग संबधी सभी कार्य कर लिए जायेंगे और 31 जुलाई 2021 तक इस पूरी परियोजना को पूरा कर लिया जायेगा।

 

इस स्मारक में 210 फुट ऊंचाई के विशाल और आकर्षक मैमोरियल टावर के साथ-साथ 20 फुट ऊंचाई की दीवार बनाई जायेगी, जिन पर 1857 की क्रांति के योद्धाओं का उल्लेख किया जायेगा। इस स्मारक में विकसित किए जाने वाले 6 लॉन में 1857 की क्रांति के विवरणों का उल्लेख होगा तथा अम्बाला के इतिहास तथा 1857 की क्रांति में हरियाणा के स्वतंत्रता सेनानियों पर आधारित म्यूजियम भी बन रहा है। उन्होंने बताया कि ओपन एयर थियेटर के हाल, फूड कोर्ट, एग्जिबिशन के साथ-साथ आईसी बिल्डिंग में चिल्ड्रन कॉर्नर, बुक स्टोर, म्यूजियम बिल्डिंग में आधुनिक लिफ्ट की व्यवस्था के साथ-साथ अन्य व्यवस्थाएं, ऑडिटोरियम में स्थित ओपन थियेटर में लोगों के बैठने की व्यवस्था 20 अलग-अलग प्रकार के फव्वारे, वाटर कर्टेन के साथ-साथ दो प्लेटफार्म व अन्य व्यवस्थाएं रहेंगी। उन्होंने यह भी बताया कि कार पार्किंग और हैलीपैड की व्यवस्था के कार्य को भी तेजी से करने का काम किया जायेगा।

इस मौके पर एसडीएम सुभाष चंद्र सिहागचीफ इंजीनियर चंद्रमोहनसूचनाजन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के अतिरिक्त निदेशक डा0 कुलदीप सैनीकार्यकारी अभियंता निशांतएसडीओ रितेश अग्रवालआर्किटैक्चर रेणू खन्ना के साथ-साथ कंसलटैंट व सम्बन्धित विभाग के अधिकारीगण मौजूद रहे

No comments

Powered by Blogger.