देश की बेटी मनीषा को न्याय दिलाने के लिए सड़कों पर उतरे जनसैलाब का आक्रोश 



फरीदाबाद (abtaknews.com) 01अक्टूबर, 2020 : देश की बेटी मनीषा को न्याय दिलाने के लिए आज स्थानीय बीके चौक पर सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा की वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्यप्रधान नरेश कुमार शास्त्री की अध्यक्षता में विशाल जन सभा की तथा विशाल आक्रोश प्रदर्शन करते हुए बीके चौक से सेक्टर-12 के लिए रवाना हुए थे लेकिन कुछ देर बाद नीलम चौक पर बडखल के तहसीलदार गुरदेव सिंह ने प्रदर्शनकारियों से आकर उपायुक्त के माध्यम से प्रधानमंत्री के नाम प्रेषित किए जाने वाला ज्ञापन लेते हुए आश्वासन दिया कि प्रधानमंत्री तक आपकी बात पहुंचा दी जाएगी। प्रदर्शनकारियों ने नीलम चौक पर ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला दहन भी किया। इस प्रदर्शन में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के जिला प्रधान अशोक कुमार, जिला सचिव बालवीर बालगुहेर, युद्धवीर खत्री, नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा की उपाध्यक्षा ब्रजवती, उपमहासचिव सुनील चिंडालिया, कमला, गुरचरण सिंह खाण्डिया,  श्रीनंद ढकोलिया, सोमपाल झिंझोटिया, ग्रामीण सफाई कर्मचारी, यूनियन हरियाणा के राज्य प्रधान देवी राम, कैशियर मनोज बालगुहेर, जिला प्रधान दिनेश पाली, हरियाणा वाल्मीकि महासभा के जिला प्रधान लीलू राम भगवाना, राष्ट्रीय नेता सुनील कंडेरा, दलीप सिंह चिंडालिया, दलित सेना के नेता रमेश गौतम, दलित अधिकार मंच के नेता  सरदार उपकार सिंह, मायावती दबंग आदि धर्म समाज अनिल चिंडालिया, बाल्मीकि धर्म सुधार ट्रस्ट के नेता राकेश पाल, बाल्मीकि युवा सभा के नेता श्रीपाल सेरियाजीनवाल, दर्शन सोया, बीके अस्पताल के नेता सोनू सोया सहित कई दर्जनों सभा संस्थाओं एवं समाज के बुद्धिजीवियों ने शिरकत की। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य अध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री, सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के जिला सचिव बलबीर सिंह बालगुहेर ने मनीषा प्रकरण को लेकर केंद्र व यूपी सरकार पर कई सवाल खड़े करते हुए कहा कि यूपी सरकार ने बलात्कारियों एवं हत्यारों को बचाने के लिए पीडि़त का इलाज सही मायने में नहीं करवाया और ना ही उसका मेडिकल परीक्षण करवाया। आरोपियों पर मुकदमा दर्ज करते वक्त भी ढील बरती गई और सरकार ने जुल्म की इंतहा करते हुए मां-बाप एवं परिवार की बगैर अनुमति के जबरन शव को कब्जे में लेकर रात्रि 2:30 बजे दाह संस्कार कर दिया इससे यह स्पष्ट होता है कि सरकार बलात्कार एवं हत्या के तमाम सबूतों को मिटा देना चाहती थी लेकिन देश की जनता सब कुछ देख रही है। उन्होंने कहा कि आज पूरे देश में केंद्र व यूपी सरकार एवं यूपी प्रशासन की पोल खुल गई है और देश के लोग आज सडक़ों पर हैं। उन्होंने चेतावनी दी यदि मनीषा को न्याय नहीं मिला, तो इस आंदोलन को राष्ट्रीय स्तर पर लड़ा जाएगा। श्री शास्त्री ने फरीदाबाद की नंगला एनक्लेव पार्ट-टू  में 7 वर्षीय बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म पर भी दुख व्यक्त करते हुए दोषियों के खिलाफ  सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।

आज के इस प्रदर्शन में अन्य के अलावा संजीव पूर्व सरपंच, बाबू नंबरदार, बल्लू चिंडालिया, प्रेमपाल, महेंद्र पुरिया, योगेश शर्मा, ललित शर्मा, जितेंद्र चावड़ा, परशुराम मदाना, मास्टर भीम सिंह, वेद भड़ाना, करतार सिंह, अतर सिंह केसवाल, दिगंबर डागर, विकास, अमित कुमार, इंदर सिंह, कप्तान सिंह रामू सोदे, तुलसी प्रधान, गिरिराज सिंह आदि नेता भी उपस्थित थे।

No comments

Powered by Blogger.