अनुशासन व संस्कारों की पाठशाला हैं केंद्रीय विद्यालय : रमेश पोखरियाल ‘निशंक’

फरीदाबाद(abtaknews.com)08 अक्टूबर,2020: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि केंद्रीय विद्यालय देश की शान हैं और इनमें पढऩे वाले बच्चे पहली पंक्ति में खड़े होकर देश की शान बढ़ाते हैं। यह विद्यालय अनुशासन और संस्कारों की बेहतरीन पाठशाला भी हैं। केंद्रीय शिक्षा मंत्री गुरुवार को शहर के केंद्रीय विद्यालय नंबर-के भवन का ऑनलाईन उद्घाटन कर रहे थे। इस दौरान फरीदाबाद से बडख़ल की विधायक सीमा त्रिखा व उपायुक्त यशपाल इस कार्यक्रम में शामिल हुए।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा आज एक साथ देश के चार केंद्रीय स्कूलों के भवनों का उद्घाटन किया जा रहा है। इनमें दो उड़ीसाएक राजस्थान और एक हरियाणा के फरीदाबाद से है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय विद्यालयों में छात्रों के दाखिले के लिए काफी दबाव रहता है। इन विद्यालयों ने बहुत से बच्चों को तराशा है और भविष्य में यहां और अधिक बच्चों को शिक्षा लेने का मौका मिले इसलिए हम लगातार इन विद्यालयों की संख्या बढ़ा रहे हैं।

ऑनलाईन संबोधित करते हुए केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि फरीदाबाद में आज जिस भवन को समर्पित किया गया है यहां वर्ष 2003-04 से भवन से मांग की जा रही थी। अब यहां पर बच्चों के लिए पांच एकड़ में 20.19 लाख रुपये की लागत से नए भवन का निर्माण कर इसे शिक्षा के लिए समर्पित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यहां बच्चों के लिए खेल व अन्य सुविधाओं की भी व्यवस्था की गई है। उद्घाटन कार्यक्रम में डीसी के.वी.एस. गुडग़ांव संभाग एस.एस. चौहानगुडग़ांव संभाग के तीन सहायक आयुक्त कांता रानी चुघमीना कुलश्रेष्ठओमवीर सिंहगुडग़ांव संभाग के के.वी.एस. के प्रशासनिक अधिकारी पुष्पेंद्र कुमार और प्राचार्य केवी-प्रेमलता समनौल भी मौजूद थी।


No comments

Powered by Blogger.