पूर्व विधायक नगेंद्र भड़ाना के हस्तक्षेप के बाद समाप्त हुई निजी टैंकरों व आर.ओ संचालकों की हड़ताल

फरीदाबाद (abtaknews.com) 19 सितंबर, 2020 : एनआईटी क्षेत्र में निजी टैंकरों व आर.ओ. संचालकों के खिलाफ निगम द्वारा की गई कार्यवाही के विरोध में शुक्रवार को शुरू हुई हड़ताल क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं वरिष्ठ भाजपा नेता नगेंद्र भड़ाना के हस्तक्षेप के बाद आखिरकार आज समाप्त हो गई। निजी टैंकर संचालक और आर.ओ. प्लांट चलाने वाले लोग संयुक्त रूप से पूर्व विधायक नगेंद्र भड़ाना से उनके नवादा स्थित निवास पर मिले और उन्हें निगम द्वारा की जा रही कार्यवाही से अवगत करवाया। उनकी पूरी बात सुनने के बाद पूर्व विधायक भड़ाना ने इस मामले में केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर, जिला उपायुक्त यशपाल यादव, नगर निगम आयुक्त यश गर्ग व पुलिस कमिश्रर ओ.पी. सिंह से बातचीत कर उन्हें इस पूरे मामले से अवगत करवाया कि इस हड़ताल का सीधा असर लोगों पर पड़ रहा है और क्षेत्र में जल संकट गहराने लगा है। कालोनियां ही नहीं बल्कि औद्योगिक इकाईयों में भी पानी की किल्लत का प्रभाव देखने को मिल रहा है। केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर व नगर निगम आयुक्त यश गर्ग ने नगेंद्र भड़ाना की बात को गंभीरता से लेते हुए तुरंत हड़ताल को खत्म करने के निर्देश दिए और जिसके बाद निजी टैंकरों व आर.ओ. संचालकों ने पूर्व विधायक नगेंद्र भड़ाना का आभार जताया और क्षेत्र में पानी की आपूर्ति शुरू कर दी। पूर्व विधायक नगेंद्र भड़ाना ने कहा कि फरीदाबाद में गिरता जलस्तर एक चिंता का विषय है और इसको लेकर एनआईटी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले 8 वार्डाे की एक कमेटी बनाई जाएगी,  हस्ताक्षर अभियान चलाकर केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर के माध्यम से मुख्यमंत्री मनोहर लाल को ज्ञापन सौंपेंगी, जिसमें यह मांग रखी जाएगी कि फरीदाबाद में बरसात के समय यमुना के साफ पानी एकत्रित करके उसे पम्पिंग के द्वारा बडखल झील को भरा जाए वहीं इस यमुना के पानी को अरावली में खनन के दौरान बने गड्ढों में भरकर उसे साफ करके पानी की सप्लाई की जाए, इससे न केवल फरीदाबाद बल्कि गुरूग्राम, सोहना सहित एनसीआर क्षेत्र में व्याप्त पानी की समस्या काफी हद तक खत्म होगी वहीं यहां मछली पालन आदि व्यवसाय करके युवाओं को रोजगर के अवसर भी मिलेंगे। अगर यह योजना कारगर साबित हुई तो न केवल फरीदाबाद में पानी की किल्लत दूर हो जाएगी बल्कि एनसीआर में भी व्याप्त जल संकट काफी हद तक कम हो जाएगा। श्री भड़ाना ने कहा कि उन्हें भरोसा है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जनहितैषी इस योजना को बिना किसी देरी से स्वीकृति दे देंगे और यह योजना पूरे फरीदाबाद के लिए मील का पत्थर साबित होगी।

No comments

Powered by Blogger.