जे.सी.बोस विश्वविद्यालय,वाईएमसीए में पायथन और मैटलैब अनुप्रयोगों पर दो सप्ताह की कार्यशाला संपन्न

फरीदाबाद(abtaknews.com)21 सितम्बर,2020:  जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद के गणित विभाग तथा कंप्यूटर इंजीनियरिंग विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित मैटलैब एवं पाइथन साफ्टवेयर अनुप्रयोगों का उपयोग करते हुए वैज्ञानिक कम्प्यूटिंग विषय पर एक सप्ताह की कार्यशाला संपन्न हो गई। टीईक्यूआईपी-3 के अंतर्गत प्रायोजित इस कार्यशाला में देश के विभिन्न राज्यों के 500 से अधिक प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। 


कार्यशाला के समापन सत्र को चैधरी बंसीलाल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राज कुमार मित्तल मुख्य अतिथि रहे। सत्र की अध्यक्षता कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने की। इस अवसर पर कंप्यूटर इंजीनियरिंग के विभागाध्यक्ष प्रो. कोमल भाटिया तथा गणित की विभागाध्यक्ष डा. नीतू गुप्ता भी उपस्थित थे। सत्र का समन्वय डॉ. सूरज गोयल ने किया।

इस अवसर पर बोलते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने विद्यार्थियों और संकाय सदस्यों के कौशल और ज्ञान को बढ़ाने के लिए कार्यशाला आयोजित करने के लिए दोनों विभागों की सराहना की। उन्होंने कंप्यूटर और गणित में प्रोग्रामिंग लैंग्वेज पायथन और मैटलैब के महत्व के बारे में बताया। प्रो. राज कुमार मित्तल ने अपने संबोधन में डेटा हैंडलिंग में पायथन और मैटलैब के महत्व को समझाया।

इससे पहले, कार्यशाला की संयोजक डॉ. नीतू गुप्ता ने कार्यशाला के दौरान दो सप्ताह की गतिविधियों का सारांश प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि कार्यशाला गणित एवं कंप्यूटर विज्ञान विधाओं से संबंध रखने वाले यूजी और पीजी विद्यार्थियों और शिक्षकों के लिए विशेष रूप से डिजाइन की गई थी तथा इसे विभिन्न संस्थानों जैसे पीटीयू कपूरथला और एमडीयू के विभिन्न आमंत्रित वक्ताओं ने संबोधित किया। कार्यशाला का समापन प्रो. कोमल भाटिया के धन्यवाद प्रस्ताव के साथ हुआ।

No comments

Powered by Blogger.