गृहमंत्री अनिल विज से प्राप्त 90 प्रतिशत से अधिक जन शिकायतों का निपटान

चंडीगढ़(Abtaknews.com) 18सितंबर, 2020 : हरियाणा पुलिस द्वारा गृहमंत्री अनिल विज के माध्यम से प्राप्त लोगों की विभिन्न प्रकार की शिकायतों में से 93 प्रतिशत शिकायतों का निवारण किया जा चुका है।अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था)नवदीप सिंह विर्क ने आज यहां इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि श्री अनिल विज द्वारा पद संभालने के बाद से पुलिससीआईडीएचएपीआईआरबीरेलवे और अन्य इकाइयों से संबंधित कुल 9,384 शिकायतें गृहमंत्री कार्यालय के माध्यम से पुलिस मुख्यालय को भेजी गई थीजिनमें से 8,755 शिकायतों का निपटान किया जा चुका है तथा 629 प्रक्रियाधीन हैं।

उन्होंने कहा कि गृहमंत्री श्री अनिल विज ने पुलिस को निर्देश दिए थे कि उनके कार्यालय से किसी भी मामले संबंधी शिकायत प्राप्त होने पर उसका तत्काल निवारण किया जाना चाहिए। उनके निर्देशों की अनुपालना में पुलिस महानिदेशक श्री मनोज यादव ने सभी फील्ड इकाइयों को दिशानिर्देश जारी करते हुए कहा कि इन सभी शिकायतों को कम से कम में प्राथमिकता के आधार पर हल किया जाए।

          शिकायत निवारण को एक बड़ी उपलब्धि बताते हुए श्री विर्क ने कहा कि पुलिस ने निपटान की उच्च दर हासिल की है।  हरियाणा पुलिस द्वारा समूचे प्रदेश में जनता की शिकायतों के निवारण को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जा रही है। जहां 100 प्रतिशत शिकायतों का निस्तारण किया गया है उसमें आईजीपी एचएपी मधुबनप्रथम बटालियन एचएपी अंबालातृतीय बटालियन एचएपी हिसार, 5वीं बटालियन एचएपी मधुबनआईआरबी भोंडसीसीआईडी और टेलिकाम कार्यालय शामिल हैं। इसी प्रकारजन शिकायतों के निपटारे में जिला पुलिस का प्रदर्शन 89 प्रतिशत से 97 प्रतिशत के बीच रहा है।

---------------------------------------


चंडीगढ़, 18 सितंबर- हरियाणा सरकार ने राज्य के बाजरा उत्पादक किसानों के हित में अहम निर्णय लेते हुए मेरी फसल मेरा ब्यौरा’ पोर्टल पर पंजीकरण करवाने के लिए 20 सितंबर 2020 तक समय बढ़ा दिया है। बाजरा के अतिरिक्त अन्य खरीफ फसलों के पंजीकरण की अंतिम तिथि भी 25 सितंबर 2020 तक बढ़ा दी है ताकि फसलों की बिजाई करने वाले सभी किसान अपना ब्यौरा इस पोर्टल पर अपलोड कर सकें।

          यह निर्णय हरियाणा के उपमुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया। इस अवसर पर कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जयप्रकाश दलाल भी उपस्थित थे।

          इस बारे में जानकारी देते हुए हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल ने बताया कि किसी भी कारण से जो किसान मेरी फसल मेरा ब्यौरा’ योजना के तहत पोर्टल पर अपनी बाजरा की फसल का पंजीकरण कराने से चूक गए हैंवे अब 20 सितंबर, 2020 तक अपनी फसल का विवरण अपलोड कर पंजीकृत कर सकते हैंजबकि खरीफ की अन्य फसलों को 25 सितंबर 2020 तक पंजीकृत किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि अब तक पोर्टल पर 7,80,867 किसानों ने 43,08,444.97 एकड़ जमीन का पंजीकरण किया है।

           श्री कौशल ने राज्य के किसानों को मेरी फसल मेरा ब्यौरा’ योजना के तहत fasal.haryana.gov.in   पर पंजीकरण करने का आग्रह करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने खरीफ-2020 के दौरान 100 प्रतिशत किसानों को इस पोर्टल पर पंजीकरण करने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने बताया कि इससे पंजीकृत किसानों को विभाग द्वारा दी जा रहे प्रोत्साहन और सब्सिडी का लाभ होने के अलावा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उनकी फसल बेचने में मदद मिलेगी। उन्होंने यह भी कहा कि अधिक से अधिक किसानों द्वारा अपनी फसल पंजीकृत करने से दूसरे राज्यों से अवैध तरीके से लाई गई फसल की बिक्री रोकने में मदद मिलेगी। अवैध तरीके से लाई गई फसल राज्य के संसाधनों पर अतिरिक्त बोझ डालती है।

          अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल ने आगे यह भी बताया कि कोई भी किसान अधिक जानकारी के लिए विभाग के हेल्पलाइन नंबर 1800-180-2117 और 1800-180-2060 पर सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे के बीच संपर्क कर सकता है।

No comments

Powered by Blogger.