ओल्ड फरीदाबाद में दो दिन के लॉकडाऊन को लेकर व्यापारियों ने निकाला सरकार के खिलाफ विरोध मार्च

फरीदाबाद(Abtaknews.com)22 अगस्त। हरियाणा सरकार द्वारा शनिवार-रविवार को लॉकडाऊन लागू किए गए के आदेश का व्यापारियों ने विरोध करना शुरू कर दिया है। व्यापारियों का कहना है कि लॉकडाऊन के चलते वैसे ही उनके कामधंधे पूरी तरह से प्रभावित हो गए है, ऐसे में दो दिन बाजार बंद रखने से उनके समक्ष भूखो मरने की नौबत आ जाएगी। इसी कड़ी में शनिवार को फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के पूर्व कांग्रेस प्रत्याशी एवं व्यापारी नेता लखन कुमार सिंगला के नेतृत्व में सैकड़ों व्यापारियों ने ओल्ड फरीदाबाद बाजार में विरोध मार्च निकालते हुए प्रदेश सरकार के इस तुगलकी फरमान का पुरजोर विरोध किया। इस दौरान व्यापारियों ने ‘मुख्यमंत्री मनोहर लाल मुर्दाबाद, गृहमंत्री अनिल विज मुर्दाबाद, ‘भाजपा सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाकर अपना रोष प्रकट किया। व्यापारियोंं को संबोधित करते हुए कांग्रेसी नेता लखन कुमार सिंगला ने कहा कि प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज द्वारा दो दिन बाजार बंद किए जाने का निर्णय पूरी तरह से तानाशाही है, अभी 20 दिन पहले ही मंगलवार को बाजार बंद रखने का निर्णय लिया गया था, जिसका व्यापारी/दुकानदार पूरी तरह से पालना कर रहे थे, अचानक इस प्रकार का निर्णय लेना व्यापारियों व दुकानदारों के लिए भारी परेशानी पैदा कर देगा। उन्होंने भाजपा सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि पहले नोटबंदी ने व्यापारियों को तबाह कर दिया, फिर जीएसटी के माध्यम से व्यापारियों के धंधे ठप्प कर दिए और रही सही कसर 25 मार्च से लगे लॉकडाऊन ने पूरी कर दी है, जिन दुकानदारों ने दुकानें किराए पर ले रखी है और स्टाफ रख रखा है, दो दिन दुकानें बंद रहने से उनकी आर्थिक स्थिति बिगड़ जाएगी क्योंकि शनिवार और रविवार को ही सबसे ज्यादा ग्राहक बाजारों में आता है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में देश की अर्थव्यवस्था बुरी तरह से प्रभावित हुई पड़ी है, ऐसे में सरकार को व्यापारियों व दुकानदारों को प्रोत्साहित करना चाहिए परंतु सरकार नित-नए कानून लाकर उनके समक्ष भूखो मरने की नौबत ला रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी सरकार से मांग करती है कि इस तुगलकी फरमान को तुरंत वापिस लिया जाए, अन्यथा सभी व्यापारी व दुकानदार सरकार के खिलाफ एकजुट होकर सडक़ों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन करने से भी गुरेज नहीं करेंगे। इस अवसर पर अनिल सिंगला, लक्ष्मण प्रसाद गर्ग, नेमचंद गर्ग, महेंद्र सिंगला, विनोद फर्नीचर वाला, रोहित गोयल, बालकिशन गोयल, योगेंद्र गर्ग, राजकुमार गर्ग, पंकज गोयल, जितेंद्र गर्ग, सुशील मित्तल, मनोज गोयल, राजू शर्मा, सुरेंद्र मित्तल, अकुंर तायल सहित अनेकों शहर के व्यापारी मौजूद थे।

No comments

Powered by Blogger.