आपदा प्रबंधन में उत्कृष्ट कार्य करने वाले केन्द्र सरकार करेगी सम्मानित, जल्द करें ऑनलाइन आवेदन


चण्डीगढ(abtaknews.com)31अगस्त,2020: केन्द्र  सरकार ने आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में व्यक्तियों और संस्थानों द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों को मान्यता देने के लिए स्थापित वार्षिक पुरस्कार सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबन्धन पुरस्कार’  वर्ष 2021 के लिये आवेदन 30 सितम्बर 2020 तक आमंत्रित किये हैं।  आवेदन वैबसाईट dmawards.ndma.Gov.in पर किए जा सकते हैं।
इस संबंध में जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि विभिन्न आपदाएं हमारे  जीवनआजीविका और संपत्ति को प्रभावित करती हैं। आपदाओं से   देश में करुणा और निस्वार्थ सेवा की भावना जागृत होती है। आपदा के बादहमारे समाज के विभिन्न वर्ग एक साथ आते हैं और प्रभावित लोगों की पीड़ा को कम करने की दिशा में काम करते हैं। ऐसे व्यक्तियों और संगठनों के प्रयासों को पहचानने की आवश्यकता है जो आपदाओं में मानव पीड़ा को कम करने के लिए निष्ठापूर्वक काम कर रहे हैं। सरकार ने आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में व्यक्तियों और संस्थानों द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों को मान्यता देने के लिए एक वार्षिक पुरस्कार की स्थापना की हैजिसे सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबन्धन पुरस्कार के नाम से जाना जाता है।
उन्होंने बताया कि सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार के तहत विजेता संस्था को प्रमाण-पत्र सहित 51 लाख रुपए तथा विजेता व्यक्ति को प्रमाण-पत्र सहित 5 लाख रुपए का नकद पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। इस पुरस्कार के लिए केवल भारतीय नागरिक और भारतीय संस्थान ही आवेदन कर सकते हैं। संस्थागत पुरस्कारों के लिएस्वैच्छिक संगठनकॉर्पोरेट संस्थाएंशैक्षणिक / अनुसंधान संस्थान या कोई अन्य संस्थान  आवेदन कर सकते हैं। पुरस्कार हेतू कुछ मानदंड तय किए गए हैं। 
जिसमें आवेदक ने भारत में आपदा प्रबंधनरोकथामशमनबचावप्रतिक्रियाराहतपुनर्वासअनुसंधाननवाचार या प्रारंभिक चेतावनी संबंधित कार्य जैसे क्षेत्र में काम किया हो। इसके अलावा मानव जीवन को बचानापशुधनआजीविकासंपत्तिसमाजअर्थव्यवस्था या पर्यावरण पर आपदाओं के प्रभाव में कमीआपदाओं के दौरान प्रभावी प्रतिक्रिया के लिए संसाधनों का जुटाव और प्रावधानआपदा प्रभावित क्षेत्रों और समुदायों में तत्काल राहत कार्यआपदा प्रबंधन के किसी भी क्षेत्र में प्रौद्योगिकी का प्रभावी और अभिनव उपयोगखतरनाक क्षेत्रों में आपदा न्यूनीकरण पहलजोखिम में कमी के लिए समुदायों की क्षमता का निर्माणवास्तविक समय के आधार पर लोगों को आपदा जोखिम सूचना की प्रारंभिक चेतावनी और प्रसारआपदा प्रबंधन के किसी भी क्षेत्र में वैज्ञानिक / तकनीकी अनुसंधान और नवाचारआपदा के बाद की वसूली और पुनर्वासआपदाओं के दौरान महत्वपूर्ण बुनियादी ढाँचे और बुनियादी सेवाओं का निरंतर कार्य करनातैयारी और जोखिम में कमी के लिए जनता के बीच जागरुकता पैदा करनाआपदा जोखिम प्रबंधन से संबंधित कोई अन्य क्षेत्र शामिल हैं।

No comments

Powered by Blogger.