स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के परिणामों में हरियाणा सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला दूसरा राज्य : मनोहर लाल 

चण्डीगढ़(abtaknews.com)20अगस्त,2020: हरियाणा सरकार द्वारा स्वच्छ भारत मिशन के तहत किए गए ठोस प्रयासों के फलस्वरूप केन्द्र सरकार द्वारा आज घोषित किए गए स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के परिणामों में 100 से कम शहरी स्थानीय निकाय वाले राज्यों की श्रेणी में हरियाणा ने सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले राज्यों में दूसरा स्थान प्राप्त किया है जबकि स्वच्छ सर्वेक्षण 2019 में हरियाणा 9वें स्थान पर था। इसके अतिरिक्तकचरामुक्त शहरों की श्रेणी में करनाल को तीन स्टार तथा रोहतक को एक स्टार प्राप्त हुआ है।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस उपलब्धि के लिए प्रदेशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि स्वच्छ भारत मिशन का मुख्य उद्देश्य सभी क्षेत्रों में ओडीएफ स्थिति को बनाए रखना और स्वच्छता के स्तर में सुधार करना है ताकि सभी स्वस्थ रह सकें। उन्होंने कहा कि हरियाणा के सभी शहरी स्थानीय निकायों को एकीकृत ठोस अपशिष्ट प्रबंधन (डोर टू डोर कलेक्शनपरिवहनप्रसंस्करण और निपटान) के लिए विभिन्न कलस्टरों में विभाजित किया गया है ताकि इस अभियान को सफलतापूर्वक क्रियान्वित किया जा सके।
शहरी स्थानीय निकाय मंत्री अनिल विज ने भी केन्द्र सरकार द्वारा आज घोषित किए गए स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के परिणामों से खुश होकर सभी प्रदेशवासियों को बधाई दी तथा राज्य में कार्यरत सभी सफाई कर्मचारियों का भी विशेष तौर पर धन्यवाद किया।
स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के तहत एक लाख से अधिक आबादी और एक लाख से कम आबादी की शहरी स्थानीय निकायों की दो श्रेणियों में स्वच्छता के आधार पर पुरस्कार प्रदान किए गए। स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के तहत हरियाणा में एक लाख से अधिक आबादी वाले शहरों की श्रेणी में करनाल को 17वांरोहतक को 35वांपंचकूला को 56वांगुरुग्राम को 62वांसोनीपत को 103वांहिसार को 105वांरेवाड़ी को 118वां और अम्बाला को 120वां स्थान प्राप्त हुआ है जबकि गत वर्ष की रेंकिंग में ये शहर क्रमश: 24, 69, 71, 83, 161, 173, 264 और 146वें स्थान पर थे।   
इसी प्रकारस्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के तहत एक लाख से कम आबादी वाले शहरों की श्रेणी में चरखी दादरी ने 11वांगोहाना ने 19वांखरखौदा ने 22वांनरवाना ने 23वांटोहाना ने 26वांफतेहाबाद ने 27वांलाडवा ने 30वांघरौंडा ने 31वांशाहबाद ने 38वांहांसी ने 42वांचीका ने 46वांमंडी-डबवाली ने 65वांनारनौल ने 83वां और होडल ने 98वां स्थान प्राप्त किया है। स्वच्छ सर्वेक्षण 2019 में चरखी दादरी ने 850वांगोहाना ने 216वांखरखौदा ने 121वांनरवाना ने 674वांटोहाना ने 329वांफतेहाबाद ने 177वांलाडवा ने 528वांघरौंडा ने 81वांशाहबाद ने 112वांहांसी ने 504वांचीका ने 337वांमंडी डबवाली ने 737वांनारनौल ने 583वां और होडल ने 626वां स्थान प्राप्त किया था।
-------------------------------------------------- 
चंडीगढ़, 20 अगस्त- हरियाणा के शहरी स्थानीय निकाय मंत्री श्री अनिल विज ने कहा कि स्वच्छता के क्षेत्र में प्रदेश को राष्ट्रीय स्तर पर दो पुरस्कार प्राप्त हुए हैं। इसके लिए उन्होंने प्रदेश की जनतानिकाय कर्मचारियों तथा अधिकारियों को शुभकामनाएं दीं।
श्री विज ने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा 4 से 31 जनवरी के दौरान देश के 4242 शहरों में स्वच्छता संबंधी सर्वे करवाया गया था। इसमें शहर की सुन्दरतासफाई व्यवस्थासामुदायिक शौचालय तथा कचरे के निपटान की व्यवस्था सहित उठाए गए अनेक कदमों की पड़ताल की गई थी। हरियाणा को देश के 100 से कम निकायों वाले राज्यों में उत्कृष्टï प्रदर्शन करने पर दूसरा स्थान प्राप्त हुआ हैजबकि गत वर्ष हरियाणा 9 वें स्थान पर रहा था। इसके साथ ही चरखी दादरी को स्वच्छता में सबसे तेज गति से सुधार करने वाले शहर का पुरस्कार प्राप्त हुआ है। चरखी दादरी को यह पुरस्कार उत्तर भारत के 50 हजार से एक लाख की आबादी वाले शहरों में 11 वां स्थान प्राप्त हुआ हैजिसका गत वर्ष 850 वां रैंक था।
श्री विज ने कहा कि इस सर्वे में प्रदेश के 4 शहरों को टॉप 100 में स्थान प्राप्त हुआ है। इनमें करनाल 17 वेंरोहतक 35 वेंपंचकूला 56 वें तथा गुरूग्राम को 62 वां रैंक मिला है। इसके साथ ही कूड़ामुक्त शहरों की रेटिंग में करनाल को 3 स्टार तथा रोहतक को 1 स्टार प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि सभी निकायों से यह उम्मीद की जाती है कि वे अपने क्षेत्र में स्वच्छता पर पूरा ध्यान दें ताकि अगले वर्ष हरियाणा पहले स्थान पर रहे।
---------------------------------------------- 
चंडीगढ़, 20 अगस्त- हरियाणा के शिक्षा मंत्री श्री कंवर पाल ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 का देश में सबसे पहले क्रियान्वयन करने में हरियाणा अग्रणी राज्य होगा क्योंकि राज्य में शिक्षा से सम्बन्धित सभी ढांचागत सुविधाएं पहले से ही सुदृढ़ हंै।श्री कंवर पाल ने कहा कि जैसे ही 7 अगस्त,2020 को नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति की घोषणा की गई थीइसके साथ ही शिक्षा विभाग के अधिकारियों को अध्ययन करने के निर्देश दिए गए थे। इसके क्रियान्वयन की रूप-रेखा तैयार की जा रही है। 
उन्होंने कहा कि गत दिनों चण्डीगढ़ में उत्तरी राज्यों के शिक्षाविदों के  साथ उन्हें वेबिनार में हिस्सा लेने का अवसर मिला था। कई विश्वविद्यालयों के विभागाध्यक्षों व कुलपतियों ने शिक्षा नीति के क्रियान्वयन में बड़े महत्वपूर्ण सुझाव दिए थे। इसके बाद राज्य के विश्वविद्यालयों के कुलपतियों का चार दिन का डिजिटल कॉन्कलेव हरियाणा राजभवन चण्डीगढ़ में चल रहा है।
शिक्षा मंत्री ने कहा कि संभवत: हरियाणा ही देश का पहला राज्य है जिसने इतनी जल्दी नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन में पहल की हंै। उन्होंने कहा कि यह नीति 21वीं सदी के भारत न्यू इंडिया’ को सशक्त बनाने के लिए युवाओं के लिए जरूरी शिक्षा और कौशलदेश को विकास की नई ऊंचाइयों पर आगे बढ़ाने और भारत के नागरिकों को और सशक्त बनाने के लिए उन्हें अधिकतम अवसरों के लिए अनुकूल बनाने की नींव रखती है। उन्होंने कहा कि पिछले 34 वर्षों से हमारी शिक्षा प्रणाली में कोई बदलाव नहीं हुआ और लोग डॉक्टरइंजीनियर या वकील बनने को ही प्राथमिकता देते रहे। लोगों की रुचिप्रतिभा और इच्छाओं के बारे में जानने की कभी कोशिश नहीं की गई जो अब नई नीति में की गई है।उन्होंने कहा कि 21वीं सदी में देश को जिस प्रकार की शिक्षा की आवश्यकता है उसके अनुरूप एक समग्र दृष्टिकोण अपनाकर ये नीति तैयार की गई है।
-------------------------- 
चंडीगढ़, 20 अगस्त- हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने आज सहकारी समितियों के संचालन व कार्य प्रणाली के संबंध में एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की और वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न जिलों की सहकारी समितियों के उप-रजिस्ट्रार व सहायक-रजिस्ट्रार अधिकारियों से बातचीत कर आवश्यक दिशानिर्देश दिए।
वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े अधिकारियों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकारी अधिकारी व कर्मचारी की उपलब्धता ही आधी से ज्यादा समस्याओं का निदान है और हर कर्मी को अपनी पद-प्रतिष्ठा व सार्वजनिक-प्रतिष्ठा भी बनाए रखनी चाहिए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जनता की तकलीफों को दूर करना ही हमारा उदेश्य होना चाहिए।इस मौके पर सहकारी समितियों के रजिस्ट्रार श्री मनीराम शर्मा सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

No comments

Powered by Blogger.