हरियाणा में 6,7 व 8 जुलाई को होने वाली तीन दिवसीय हड़ताल स्थगित: नरेश शास्त्री

फरीदाबाद (Abtaknews.com)05जुलाई, 2020:स्वास्थ्य मंत्री व विभाग के आला अधिकारियों के आग्रह और जुलाई के अंत में मंत्री के साथ मीटिंग का पत्र मिलने के बाद पालिका कर्मियों ने 6-7-8 जुलाई को होने वाली तीन दिवसीय हड़ताल को स्थगित कर आंदोलन जारी रखने का फैसला लिया है।सोमवार से शुरू हो रही तीन दिवसीय हड़ताल को स्थगित करने का फैसला रविवार को नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री की अध्यक्षता में नगर निगम कार्यालय में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में लिया गया। सम्मेलन में लिए गए फैसलों की जानकारी देते हुए प्रदेशाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री ने कहा कि हम मंत्री के अस्वस्थ होने के कारण उनके हड़ताल टालने के आग्रह पर तीन दिवसीय हड़ताल को स्थगित कर रहे हैं, लेकिन पालिका कर्मचारियों का आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि अगर मंत्री के साथ होने वाली मीटिंग में लंबित मांगों का समाधान नहीं हुआ तो पालिका कर्मियों को पुनः हड़ताल पर जाने मजबूर होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि शहरी स्थानीय निकाय विभाग के मंत्री की मीटिंग होने तक जन जागरण अभियान के तहत सभी नगर निगमों, परिषदों व पालिकाओं में पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठकें आयोजित की जाएगी और निर्णायक आंदोलन की तैयारी की जाएगी। उन्होंने दो टूक कहा कि जब तक नगर निगमों, परिषदों व पालिकाओं से सभी प्रकार के कर्मचारियों को ठेका प्रथा से मुक्ति नहीं मिलेगी और अन्य मांगों का समाधान नहीं होगा,तब तक आंदोलन जारी रहेगा। **उन्होंने दो दिवसीय भूख हड़ताल व 29-30 जुलाई के सामूहिक अवकाश को सफल बनाने के लिए सभी* *कर्मचारियों और सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के* *सहयोग एवं समर्थन के लिए आभार भी व्यक्त किया।* 
सम्मेलन में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा मौजूद थे। उन्होंने सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि मंत्री की वादाखिलाफी के खिलाफ नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा की मांगों एवं समस्याओं और आंदोलन का पुरजोर समर्थन किया। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र एवं राज्य सरकार कोरोना को अवसर में बदलकर श्रम कानूनों को खत्म करने, बिजली, रोड़वेज, रेलवे,एयर इंडिया, कोयला खदानों आदि विभागों व उपक्रमों का निजीकरण कर रही है और जनतांत्रिक अधिकारों पर हमले कर रही है। उन्होंने 1983 पीटीआई सहित अन्य विभागों से छंटनी किए ठेका कर्मचारियों को वापस सेवा में लेने की मांग की है। महासचिव मांगे राम तिगरा द्वारा संचालित इस सम्मेलन में सभी नगर निगमों, परिषदों, पालिकाओं व मार्किट कमेटियों के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। वरिष्ठ उपाध्यक्ष रमेश तुषामड़, उपमहासचिव शिवचरण, हरियाणा अग्निशमन कर्मियों के प्रदेशाध्यक्ष राजेंद्र सिनंद ने कहा कि विभाग के *प्रधान सचिव के साथ 3 जुलाई को हुई मीटिंग में आश्वासन दिया है कि नए जेई की ज्वाइनिंग के बाद पहले से ठेके* *पर काम कर रहे जेई को भी एडजस्ट करने, निगमों, परिषदों, पालिकाओं* *व मार्किट कमेटियों में कार्यरत ठेका* 
 *अग्निशमन कर्मियों को सेवा सुरक्षा* *प्रदान करने आश्वासन दिया है।**

No comments

Powered by Blogger.