हरियाणा सिविल सचिवालय में मुख्यमंत्री मनोहर लाल 21 जुलाई को कमेटी कक्ष से ‘ई-सचिवालय पोर्टल’ लांच करेंगे

चंडीगढ़(Abtaknews.com)20 जुलाई। पिछले छह वर्षों से प्रदेश के सरकारी कार्यालयों में सूचना प्रौद्योगिकी के माध्यम से पारदर्शी एवं सहज तरीके से नागरिक सेवाएं उपलब्ध करवाने के अपने विजन में हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल निरंतर नये-नये अध्याय जोड़ते जा रहे हैं। अपने इस विजन को और आगे बढ़ाते हुए मुख्यमंत्री 21 जुलाई, 2020 को हरियाणा सिविल सचिवालय की चौथी मंजिल स्थित कमेटी कक्ष से ई-सचिवालय पोर्टल’ लांच करेंगे।
इस बारे में जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने राज्य के युवाओं को उनके कौशल विकास के माध्यम से अधिक से अधिक रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए रोजगार विभाग के रोजगार पोर्टल एवं कॉल सेंटर शुभारंभ करने के साथ-साथ  कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग के मिस्त्री हरियाणा’ ऐप को भी लॉन्च कियाजिसका मुख्य उद्देश्य है कि राज्य में कोई भी युवा बेरोजगार न रहे।
प्रवक्ता ने बताया कि केन्द्रीकृत रजिस्ट्री लागू हाने से कोई भी व्यक्ति एक तहसील में आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद किसी भी अन्य तहसील से अपनी रजिस्ट्री करवा सकेगा। इसी प्रकारमुख्यमंत्री के प्रयासों से सर्वे ऑफ इण्डिया के माध्यम से पूरे हरियाणा के गांवों का डिजिटलाइजेशन कार्य किया जा रहा हैजिससे गांव लाल-डोरा मुक्त होंगे तथा लाल-डोरे के अन्दर ही सम्पत्तियों की रजिस्ट्री करवा सकेंगे। करनाल जिले का सिरसी गांव हरियाणा का पहला लाल-डोरा मुक्त गांव बन गया है। इसके बाद पहले चरण में 100 गांवों को लाल-डोरा मुक्त करने का कार्य चल रहा है।
 ---------------------------------
चंडीगढ़, 20 जुलाई- हरियाणा विधान सभा अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता ने विधायक श्री बिशम्बर सिंह को वर्ष 2020-21 की शेष अवधि के लिए अधीनस्थ कानून पर समिति की सेवा के लिए नामित किया है।
-------------------------
चंडीगढ़, 20 जुलाई- हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश में कोरोना का रिकवरी रेट करीब 75 प्रतिशत है तथा कोरोना के मामलों के दोगुने होने में भी 22-23 दिन का समय लगता है। इससे राज्य में कोरोना के सामुदायिक प्रसार के कोई लक्षण नहीं है।
         स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि भारत बायोटेक द्वारा बनाई गई वैक्सीन का मानव परीक्षण पंडित भगवत दयाल शर्मा स्नातकोत्तर चिकित्सा विज्ञान संस्थानरोहतक में किया गया हैजिसके सकारात्मक परिणाम आने की संभावना है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के मरीजों पर भारत-बायोटेक द्वारा कोरोना वैक्सीन के ह्यूमन ट्रायल हेतु पीजीआई रोहतक का चयन किया गया है। इसके लिए करीब 70 लोगों ने अपनी इच्छा से वैक्सीन के लिए पंजीकृत करवाया है। जैसा कि बताया गया है कि दवाई के ट्रायल से लोगों पर कोई नेगेटिव इफैक्ट नहीं आयाजोकि प्रदेश सरकार और स्वास्थ्य विभाग की यह बड़ी उपलब्धि है।

No comments

Powered by Blogger.