नेता एवं अधिकारियों का गठजोड़ फरीदाबाद में साजिश के तहत बना रहा है डर का माहौल: रामकेवल

फरीदाबाद (Abtaknews.com)07जून,2020: शहर में पत्रकारों, आरटीआई एक्टिविस्ट और समाजसेवियों के खिलाफ पिछले कुछ सप्ताह से भय का माहौल बनाया जा रहा है। जिसके खिलाफ अनशनकारी बाबा रामकेवल ने अनिश्चितकालीन सत्याग्रह आंदोलन शुरू किया हुआ है। Anshankari Baba ramkewal agitation for justice to Journalist and RTI activities in faridabad सेक्टर 12 स्थित लघु सचिवालय के सामने अर्ध नग्न अवस्था में सत्याग्रह पर बैठे  बाबा रामकेवल का कहना है कि समाज के इस तबके के लोगों को जान बूझकर सुनियोजित ढंग से साजिश के तहत डराया जा रहा है। फरीदाबाद में कोई भ्रष्टाचार, अन्याय और अत्याचार के खिलाफ आवाज न उठा सके। अगर यही माहौल रहा तो आने वाले दिनों में कोई भी समाजसेवी, पत्रकार और आरटीआई एक्टिविस्ट भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने से डरेगा और समाज में बुराई का बोलबाला होगा।
अनशनकारी बाबा रामकेवल ने कहा कि नेता एवं अधिकारियों का गठबंधन फरीदाबाद में बदले की कार्यवाही के तहत कार्यवाही हो रही है और लॉक डाउन के दौरान आरटीआई एक्टिविस्ट, पत्रकारों पर साजिश के तहत फर्जी मुकदमा दर्ज किया गया और उनके साथ आतंकवादियों जैसा बर्ताव किया जा रहा है।
बाबा रामकेवल ने कहा कि समाज में बुराई के खिलाफ आवाज उठाने वाले इन तबको को थर्ड डिग्री टॉर्चर देकर इनकी आवाज हमेशा के लिए दबाने की कोशिश की जा रही है। इसकी वे निंदा करते हैं।उन्होंने हरियाणा सरकार से मांग की है कि पत्रकारों, आरटीआई एक्टिविस्ट और समाजसेवियों पर दर्ज फर्जी मुकदमों को रद्द किया जाये और समाज में पैदा किये जा रहे डर के माहौल को खत्म किया जाय।
बाबा रामकेवल ने बताया कि उन्होंने उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री तक अपनी बात पहुंचायी है। अगर हरियाणा सरकार ने हमारी मांग नहीं मानी, तो हमारा अनिश्चितकालीन सत्याग्रह तब तक जारी रहेगा, जब तक हरियाणा की भाजपा सरकार की आंखें नहीं खुल जातीं। बाबा के सत्याग्रह को मोहन तिवारी, मिशन जागृति के प्रवेश मलिक, संस्कार फाउंडेशन की परमिता चौधरी, जसवंत पंवार, राजेश, अनीश पाल, सतीश चौपड़ा समाजसेवियो ने बाबा रामकेवल का समर्थन किया।

No comments

Powered by Blogger.