प्रदेश के युवाओं को हजारों निजी कम्पनियों के साथ जोड़ेगा आधुनिक रोजगार पोर्टल: दुष्यंत चौटाला

चंडीगढ़(Abtaknews.com)25जून,2020: राज्य सरकार युवाओं को जल्द बड़ी सौगात देने जा रही है। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि प्रदेश के युवाओं के रोजगार के लिए नया रोजगार भवन तैयार हो रहा है और जल्द ही एक नया व आधुनिक रोजगार पोर्टल भी शुरू किया जाएगा। इस पोर्टल से जहां प्रदेश के युवाओं के लिए बड़ी-बड़ी निजी कंपनियों में नौकरियों के रास्ते सुगम होंगे, वहीं निजी कंपनियों को अपनी आवश्यकतानुसार काम के लिए पढ़े-लिखे योग्य युवा मिलेंगे।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के युवाओं को रोजगार मुहैया करवाना राज्य सरकार की प्राथमिकता है और सरकार इस दिशा में निरंतर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि जल्द प्रदेश में बनने वाले नए रोजगार भवन के अनावरण के साथ ही युवाओं के रोजगार के लिए नये तथा आधुनिक रोजगार वेब पोर्टल की शुरुआत कर दी जाएगी जिसके जरिये राज्य के लाखों प्रशिक्षित युवा दुनिया की हजारों कम्पनियों के साथ सीधे जुड़ जाएंगे और रोजगार के अवसरों का फायदा उठा पाएंगे।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सोहना में जापानी कंपनी जेपीएल द्वारा लगाए जाने वाले लिथियम बैटरी कारखाने में भी प्रदेश के युवाओं को ज्यादा से ज्यादा रोजगार दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि लगभग 174 एकड़ में लगने वाले इस कारखाने के स्थापित होने से 11 से 15 हजार युवाओं को रोजगार प्राप्त होगा। डिप्टी सीएम ने इस प्रोजेक्ट के बारे में बताया कि जापानी कंपनी द्वारा उन्हें जल्द जमीन आवंटित करने का आग्रह किया गया है और इस प्रक्रिया को पूरा करने के लिए एचएसआईडीसी ने अपना कार्य भी शुरू कर दिया है।

उपमुख्यमंत्री ने खुशी जाहिर करते हुए ये भी बताया कि ये प्रोजेक्ट पहले चीनी कंपनी एटीएल का था लेकिन अब जापानी कंपनी जेपीएल ने इसे ओवरटेक कर लिया है। उन्होंने कहा कि जापान और भारत के पुराने और अच्छे रिश्ते हैं और विशेषकर हरियाणा से जापानी उद्योगपति सबसे ज्यादा जुड़े हैं। उन्होंने बताया कि आज हरियाणा में तीन होटल और गुरुग्राम में 8 रेस्टोरेंट जापान के लोग चला रहे है। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं हरियाणा के दो स्कूलों में जापानी भाषा की पढ़ाई भी होती है।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र तथा राज्य सरकार की प्राथमिकता है कि देश में बनी वस्तुओं के प्रयोग को ज्यादा से ज्यादा बढ़ावा दिया जाए। साथ ही भारत को टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में और ज्यादा विकसित करते हुए आत्मनिर्भर बनाया जाए। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि भारतीय सेना अपनी इंजीनियरिंग विंग की मदद से पहले से ही अधिकतम कदम उठा चुकी है और इसी तरह हमें भी देश के आईटी क्षेत्र में आधारभूत संरचना को मजबूत करने की जरूरत है।

उपमुख्यमंत्री ने बताया कि इस संबंध में हरियाणा ने निर्णय लिया है कि एमएसएमई निदेशालय में स्पेशल काउंसलिंग सुविधाओं के साथ रिसर्च एंड डेवलपमेंट की दो यूनिट अलग से बनाई जाएगी जिसका मुख्य फोकस यही रहेगा कि नए उद्योग शुरु करने वालों को पूरी तरह भारत की वस्तुओं का प्रयोग करने के लिए प्रेरित किया जाएगा और इसके लिए उद्यमियों की पूरी सहायता की जाएगी।

No comments

Powered by Blogger.