Saturday, June 20, 2020

कोरोना संक्रमण से बचने, सुरक्षित व स्वस्थ रहने के प्रति जागरूकता के लिए नुक्कड़ नाटक

फरीदाबाद(Abtaknews.com)20जून,2020: उपायुक्त यशपाल के दिशा-निर्देशानुसार फरीदाबाद की जनता को कोरोना संक्रमण से बचने, सुरक्षित व स्वस्थ रहने तथा जरूरी एहतियात बरतने के प्रति जागरूक करने के लिए नुक्कड़ नाटकों द्वारा जागरूक किया जा रहा है। कोरोना से बचना है, सजग बनना है, सामाजिक दूरी रखनी है तथा मास्क लगाकर बाहर निकलना है, हाथों को 40 सेकंड तक झाग वाले वाले साबुन या सैनिटाइजर से साफ करना है। यह संदेश जिला प्रशासन की ओर से आईईसी गतिविधियों के तहत चलाए गए जागरूकता अभियान के दौरान कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को समझाया कि वह कोरोना  से अपना बचाव करें व खुले में ना थूकने के बारे मे संदेश दिया। ये कलाकार गली-मोहल्लों व बाजारों में जाकर अनलाॅक की हिदायतों अनुसार जनता को कोरोना से बचने के उपाय बता रहे हैं। शनिवार को नुक्कड़ नाटक मंडली ने एनआईटी फरीदाबाद में नुक्कड़ नाटक द्वारा लोगो को जागरूक किया। इसी प्रकार इससे पहले पिछले 10 दिनों से  पूरे जिले में  जाकर  नुक्कड़ नाटक से लोगों को जागरूक किया है।

फरीदाबाद, 20 जून। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि कल रविवार 21 जून को सूर्यग्रहण का समय प्रात: 10:20 बजे से लेकर दोपहर 1:47 बजे तक रहेगा। इस बार सरकार ने निर्णय लिया है कि कोविड-19 की परिस्थितियों के कारण आषाढ़ माह की अमावस्या के दिन होने वाले सूर्यग्रहण के दौरान कुरूक्षेत्र स्थित ब्रह्मसरोवर पर किसी मेले या बड़े स्तर पर कार्यक्रमों का आयोजन नहीं करवाया जाएगा। अत: जनसाधारण से अपील की जाती है कि इस बार सूर्य ग्रहण के दौरान घर पर ही रहकर पूजा-अर्चना करें।

उन्होंने बताया कि सरकार ने इस वर्ष कोरोना की परिस्थितियों के कारण सूर्य ग्रहण मेले पर कुरूक्षेत्र मे सामुहिक आयोजन नहीं करवाने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि जिला मजिस्ट्रेट, कुरूक्षेत्र द्वारा 19 से 21 जून तक ब्रह्मसरोवर, सन्निहित सरोवर के एक किलोमीटर के क्षेत्र में कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए दंड प्रक्रिया नियमावली 1973 के तहत तुरंत प्रभाव से धारा 144 लगाने के आदेश जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि 19 जून को रात्रि 9 से लेकर 21 जून को सायं 4 बजे तक कफर्यू रहेगा। ऐसे में कोई भी जिलावासी रविवार के दिन कुरुक्षेत्र न जाए। साथ ही जिला में भी धार्मिक आयोजनों को लेकर गृह विभाग हरियाणा ने एसओपी का पालन करने के निर्देश जारी किए गए है।

उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों की मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के अनुरूप सूर्य ग्रहण के अवसर पर लोग धार्मिक स्थलों की स्नान व पूजा अर्चना की बजाए घरों में ही रहे। इस दौरान इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया के माध्यम से कुरुक्षेत्र में होने वाली पूजा अर्चना का सीधा प्रसारण किया जाएगा।

फरीदाबाद, 20 जून। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि इस बार कोविड-19 की परिस्थितियों के कारण सभी जिलावासी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर अपने घरों में ही रहकर परिवार के साथ योग का अभ्यास करें। उपायुक्त ने सभी जिला वासियों को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की बधाई भी दी।

उन्होंने कहा कि योग भारतीय संस्कृति की प्राचीन विद्या है। योग मनुष्य को शारीरिक व मानसिक रूप से मजबूत बनाता है। अब योग को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सभी देशों ने अपनाया है। प्रत्येक वर्ष 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस घोषित किया गया है। लेकिन इस बार कोविड-19 की परिस्थितियों के कारण सार्वजनिक व सामूहिक रूप से योग का आयोजन नहीं किया जा रहा, इसलिए अपने घर पर ही रहकर परिवार के सदस्यों के साथ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाएं तथा घर पर ही योग का अभ्यास करें।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने भी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन के बारे में कहा है कि हर वर्ष 21 जून को प्रदेश व देश और अन्य देशों में सामूहिक रूप से एकत्र होकर योग करने के कार्यक्रम आयोजित किए जाते थे, परंतु इस बार कोरोना महामारी के कारण सामूहिक रूप से एकत्र होकर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस नहीं मना पाएंगे। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2020 को  घर में रहते हुए अपने परिवार के साथ योग दिवस मनाएं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग को विश्व स्तर पर पहचान दिलाई। वर्ष 2015 में यूएन में प्रस्ताव पारित होने के बाद 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मान्यता मिली। अब 21 जून को दुनिया के लगभग सभी देशों में योग योग दिवस मनाया जाता है।

उन्होंने कहा कि योग के आठ अंग-यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान, समाधि होते हैं। जब व्यक्ति योग के इन 8 अंगों को अपना लेगा तब योग का वास्तविक लाभ प्राप्त होगा। योग को सभी लोग अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

फरीदाबाद, 20 जून। उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ० रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 20458 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 8558 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 11888 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 18398 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 19698 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 17273 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 325 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 2100 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 477 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 640 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 835 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 52 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें  36 मरीज क्रिटिकल हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 13 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। 152 ऐसे मरीज हैं जो 10 दिनों से ज्यादा से  अस्पताल में दाखिल हैं आज जिले में  97 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही।

उन्होंने बताया कि सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया गया है। इसी प्रकार पर्यावरण स्वच्छता और शुद्धीकरण के बारे में सरकारी व निजी विभागों के कर्मचारियों को दैनिक आधार पर प्रशिक्षण दिया जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण की पृष्ठभूमि को देखते हुए आम जनता को सरकार द्वारा स्वास्थ्य संबंधी हिदायतों की अनुपालना करने की सलाह दी जाती है। लोगो को ध्यान रखना चाहिए कि खाँसी व छींकते समय रूमाल या तौलिया का उपयोग अवश्य करें, हाथों को बार-बार साबुन व पानी से धोते रहें। जब तक बहुत जरूरी न हो, घर से बाहर न निकलें। सार्वजनिक स्थलों व सभाओं में जाने से बचें। उन्होंने लोगों से आहवान किया है कि नागरिक कही पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950, पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें। उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों  की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages