Saturday, June 20, 2020

अधिक मूल्य पर सैनेटाइजर तथा घटिया क्वालिटी के फेस मास्क बेचने वालों पर सख्त कार्रवाई

चंडीगढ़(Abtaknews.com)20जून,2020:हरियाणा सरकार ने प्रदेश में अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) से अधिक मूल्य पर सैनेटाइजर तथा घटिया क्वालिटी के फेस मास्क बेचने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने और ऐसी कम्पनियों और विक्रेताओं के खिलाफ छापामारी करके इस तरह का सामान जब्त करने के निर्देश दिए हैं।
एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि सरकार ने फेस मास्क और सैनेटाइजर को आवश्यक वस्तुओं की श्रेणी में डाला है और इसको एमआरपी से अधिक मूल्य पर नहीं बेचा जा सकता और यह गैरकानूनी है।
         उन्होंने बताया कि महामारी के इस मुश्किल दौर में एमआरपी से अधिक मूल्य पर तथा घटिया क्वालिटी का सामान बेचना न केवल गंभीर अपराध है बल्कि यह मासूम जनता के साथ ठगी भी है।
‐------------------------------------------------
चंडीगढ़, 20 जून- हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने प्रदेशवासियों को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि नियमित योगव्यायाम और प्राणायाम करने से शरीर की रोग-प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाया जा सकता है। इसलिए हम सभी ने योग क्रियाओं को अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए।
         श्री आर्य ने प्रदेशवासियों के नाम अपने संदेश में कहा कि योग भारत की प्राचीन पद्धति का एक अमूल्य उपहार है और स्वस्थ जीवन जीने की कला है। भारत के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेन्द्र मोदी जी ने न केवल भारत को बल्कि पूरी मानवता को स्वस्थ रखने के लिए योग के प्रचार-प्रसार का कार्य किया है। प्रधानमंत्री जी के प्रयास से ही योग को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है।
         उन्होंने कहा कि विश्व के सभी डॉक्टरों व विशेषज्ञों ने माना है कि शरीर में रोग-प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाकर ही कोरोना जैसी बीमारी से लड़ा जा सकता है। चूंकि आज पूरा विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है। ऐसे में योग का महत्व और ज्यादा बढ़ जाता है। उन्होनें कहा कि योग कम्यूनिटीइम्यूनिटी और यूनिटी के लिए बहुत जरूरी है।
         श्री आर्य ने प्रदेशवासियों से अपील की कि सभी इस बार घर से योग-परिवार के साथ योग सूत्र वाक्य को ध्यान में रखते हूए उत्साहपूर्वक ढंग से अपने घरों में ही परिवार के साथ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाएं। योग दिवस के अवसर पर उन्होनें हरियाणावासियों के लिए सुरक्षित एवं स्वस्थ रहने की मंगलकामना भी की।
         राज्यपाल श्री आर्य का संदेश अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर 21 जून को सुबह आठ बजे https://www.facebook.com/hryyog/ के फेसबुक पेज पर प्रसारित होगा। कोई भी व्यक्ति अपनी फेसबुक के माध्यम से संदेश को हरियाणा योग परिषद् के पेज पर देख सकता है।
----------------------------------
चंडीगढ़, 20 जून- हरियाणा सरकार ने योग को हर व्यक्ति की जीवन शैली का हिस्सा बनाने के मकसद से प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में खोली जा रही योग एवं व्यायामशाओं में योग वालंटियर लगाने का निर्णय लिया है। ये योग वालंटियर जिला परिषदों के माध्यम से लगाए जाएंगे तथा उसी गांव या आसपास के गांवों के युवाओं को नियुक्ति में प्राथमिकता दी जाएगी।
यह निर्णय मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में आज यहां हुई हरियाणा योग परिषद की एक समीक्षा बैठक लिया गया।हरियाणा योग परिषद के चेयरमैन डॉ. जयदीप आर्य ने राज्य में चलाई जा रही योग गतिविधियों पर प्रस्तुतीकरण दिया तथा इन योग वालंटियर्स को लगाने की प्रक्रिया की जानकारी दी। बैठक में इस बात की भी जानकारी दी गई कि इन योग वालंटियर्स की आयु-सीमा 18 से 35 वर्ष के बीच तथा शैक्षणिक योग्यता हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड या सीबीएसई से 10+2 पास होगी। इसके अलावा, इनके पास राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त 16 संस्थानों में से किसी एक से योग में लेवल-1 या इसके समकक्ष कोर्स या किसी विश्वविद्यालय से एक वर्ष का डिप्लोमा होना चाहिए।
         इन योग वालंटियर्स को हरियाणा कौशल विकास मिशन के तहत विश्वकर्मा कौशल विकास विश्वविद्यालयदुधौलापलवल से नेचुरोपैथी या फिजियोथैरेपी में 3-3 महीने का सर्टिफिकेट कोर्स भी करवाया जाएगा ताकि योग एवं व्यायामशाओं में सुबह-शाम 2-2 घन्टे योग सिखाने के बाद इनसे आयुष विभाग द्वारा बनाए जा रहे हैल्थ एंड वैलनेस सेंटर में आयुष सहायक के रूप में काम लिया जा सके। इस प्रकार उनसे 8 घन्टे की ड्यूटी ली जा सकेगी और शुरू में इनका मानदेय न्यूनतम 11 हजार रुपये होगा।
         बैठक में इस बात का भी निर्णय लिया गया कि इन योग वालंटियर्स के कामकाज की निगरानी के लिए नियमित भर्ती होने तक हर जिले में आउटसोर्सिंग पॉलिसी के तहत आयुष कोच भी लगाए जाएंगे। इनके लिए शैक्षणिक योग्यता वही रहेगीजो खेल एवं युवा मामले विभाग द्वारा योगा कोच के लिए निर्धारित की गई है।
         मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को इस बात के निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्रों में बनाई जा रही योग एवं व्यायामशालाओं के कार्य में तेजी लाई जाए। इस पर मुख्यमंत्री को अवगत करवाया गया कि प्रथम चरण में ऐसी 1000 व्यायामशालाओं के निर्माण का कार्य जारी है जिनमें से 599 का कार्य पूरा हो चुका है तथा लगभग 150 का कार्य अंतिम चरण में है ।
         बैठक में मुख्यमंत्री को इस बात की भी जानकारी दी गई कि आयुष विभाग का कार्य धीरे-धीरे जिला परिषदों को स्थानांतरित किया जा रहा है। इससे पूर्व भी उनके निर्देशानुसार पीएचसी व सीएचसी के भवनों की मरम्मत तथा बस क्यू शैल्टर के निर्माण समेत कुछ अन्य विभागों के कार्य भी जिला परिषदों को सौंपे जा चुके हैं। इसी तरहशहरी क्षेत्रों में हैल्थ एंड वैलनेस सेंटर भी जिला परिषदों को सौंपे जाएंगे। इस दौरान यह भी जानकारी दी गई कि प्रशासनिक स्तर पर इन कामों की सही मॉनिटरिंग के लिए हरियाणा सिविल सेवा के अधिकारियों को जिला परिषदों का अलग से मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियुक्त किया गया है।
         बैठक में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजेश खुल्लरस्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राजीव अरोड़ाविकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव श्री सुधीर राजपाल तथा आयुष विभाग के महानिदेशक श्री अतुल कुमार के अलावा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।
---------------------------------
चंडीगढ़, 20 जून- हरियाणा के गृहमंत्री श्री अनिल विज ने कहा कि गैर कानूनी तरीके से विदेशों में भेजने वाले और कबूतरबाजी में विभिन्न जिलों में दर्ज 28 मामलों के 27 आरोपी एजेंटो को गिरफ्तार किया है और उनके कब्जे से 35 लाख 33 हजार रुपए बरामद किये है।
         श्री विज ने कहा कि सरकार द्वारा गठित एसआईटी गत वर्षो में दर्ज मामलों की भी जांच कर रही है। इसके तहत वर्ष 2018-19 में कुछ एजेंटों द्वारा हरियाणा के नौजवानों को अवैध रूप से संयुक्त राज्य अमेरिका भेजा गयाजहाँ उन्हें पुलिस ने पकड़ लिया और जेल में डाल दिया। इसके काफी समय तक जेल मेें रहने के बाद अमेरिका सरकार ने उन्हें वापिस भारत डिपोर्ट कर दिया गया। इनकी शिकायतों पर संज्ञान लेते हुए हरियाणा सरकार के आदेश पर पुलिस द्वारा ऐसे एजेंटों के खिलाफ कबूतरबाजी के 254 अभियोग दर्ज किये। इसके अलावा कबूतरबाजी के 156 नए मामले दर्ज किये हैइन सभी मामलों की जांच यही एसआईटी कर रही है।
         एसआईटी प्रमुख श्रीमती भारती अरोड़ा ने बताया की इससे पहले इसी माह 8 जून तक 11 आरोपियों को  गिरफतार किया जा चुका हैजिसके बाद गिरफ्तार किये गए आरोपियों की कुल संख्या 27 हो गई है। उनके कब्जा से कुल 35 लाख 33 हजार रूपये की जनसम्पति बरामद करके एक बड़ी सफलता हासिल की है तथा आरोपियों के खिलाफ एमीग्रेशन एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर धरपकड़ लगातार जारी है।
         उन्होंने बताया कि करनाल में 12 अभियोगों में वांछित आरोपी औम प्रकाश को गिरफतार करके उसके कब्जा से 1 लाख 90 हजार रूपये बरामद किए है। ओम प्रकाश प्रदेश के अनेक युवाओं को कबूतरबाजी के तहत विदेशों में भेज चुके है।  इनके खिलाफ मानव तस्करी का भी आरोप है और ऐसी धाराओं के तहत मामला दर्ज है। इसी प्रकार 5 अभियोगों में लंबे समय से वांछित दीपक नरवाल को पानीपत में गिरफतार कर उसके कब्जा से 1 लाख 48 हजार रूपये बरामद किए है।
         श्रीमती अरोड़ा ने बताया कि अभियोगों में वाछित आरोपी सोमनाथ गाबा को निगदू जिला करनाल में गिरफतार करके उसके कब्जा से 22 लाख 50 हजार रूपये बरामद किए है। ऐसी ही आरोपी अमित वशिष्ठ को मधुबनरविन्द्र कुमार व हरदीप पुत्र बैयन्त वासी कबूलपुर से गिरफ्तार किया है। इसी प्रकार आरोपी राम सिंहसुबे सिंहजगदीषअमितराजेन्द्रविक्रम भिवानीबलवान सिंह पानीपत तथा महेश अम्बालाकिरण पत्नी सिन्द्रपाल जालन्धर पंजाबअमन वर्मा जगराव पंजाबसुखदीप सिंहराममेहर पुत्र सुखबीर वासी दादूपर तथा विशाल पुत्र श्री राजबीर वासी भादड़ जिला पानीपत को गिरफतार किया गया है और बड़ी राशि जब्त की है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages