Thursday, June 4, 2020

कृषि, खाद्य, मिट्टी, पर्यावरण, स्वास्थ्य और पानी का परीक्षण एक ही छत के नीचे उपलब्ध: मनोहर लाल

चंडीगढ़(Abtaknews.com)4जून,2020: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राज्य के प्रत्येक जिले में केंद्रीकृत/ बहुउद्देशीय परीक्षण सुविधा के लिए राष्ट्रीय परीक्षण और अंशशोधन प्रयोगशाला प्रत्यायन बोर्ड (एनएबीएल) द्वारा मान्यता प्राप्त प्रयोगशालाओं की स्थापना के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी हैताकि इन प्रयोगशालाओं में कृषिखाद्यमिट्टीपर्यावरणस्वास्थ्य और पानी आदि से संबंधित मानकों का परीक्षण एक ही छत के नीचे किया जा सके।
        एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि वर्तमान में करनालगुरुग्रामकुरुक्षेत्र और कैथल जिलों में केवल चार एनएबीएल मान्यता प्राप्त प्रयोगशालाएं संचालित हैंलेकिन यह प्रयोगशालाएं केवल पीने योग्य पानी की गुणवत्ता का परीक्षण कर रही हैं। अब मुख्यमंत्री की इस मंजूरी के बाद यह चार प्रयोगशालाएं बहुउद्देशीय परीक्षण प्रयोगशालाओं में अपग्रेड की जाएंगी।
        प्रवक्ता ने बताया कि हाल ही में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में जल जीवन मिशन’ की कार्य योजना पर चर्चा के संबंध में एक बैठक आयोजित की गई थी। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि चार एनएबीएल मान्यता प्राप्त प्रयोगशालाएँ पहले से ही संचालित हैं और अन्य 18 जिलों में इनकी स्थापना की जानी है। बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को 18 जिलों में एक केंद्रीकृत/बहुउद्देशीय परीक्षण सुविधा वाली प्रयोगशाला स्थापित करने और पहले से संचालित चार प्रयोगशालाओं को भी अपग्रेड करने के निर्देश दिए थे।
क्रमांक-2020
गौरव
  

चंडीगढ़, 4 जून- हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला ने सन्त कबीर जयंती के अवसर पर प्रदेश के लोगों को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि कबीर जी का समभाव का संदेश आज भी प्रासंगिक है। हम सबको उनकी शिक्षाओं का अनुसरण कर समाज में एकता और समभाव के संदेश को फैलाना चाहिए।
कबीर जयंती की पूर्व संध्या पर आज यहां जारी  एक संदेश में उप-मुख्यमंत्री ने कहा कि एक महान कवि के रूप में सन्त कबीर की वाणी मानव को सदैव जीवन की नई प्रेरणा देती है। उन्होंने सदैव अपनी लोक प्रचलित व सरल भाषा में मानवता का संदेश दिया जो आज भी मनुष्य को ज्ञान और अध्यात्म से जोड़ता है।
उन्होंने कहा कि कबीर दास जी मानवता के पक्षधर थे। उन्होंने अपनी वाणी में संसार में सदैव खुशहाली की कामना की है। उन्होंने लिखा है कि:-
कबीरा खड़ा बाजार मेंमांगे सबकी खैरना काहू से दोस्तीन काहू से बैर।
अर्थात इस संसार में आकर कबीर अपने जीवन में बस यही चाहते हैं कि सबका भला हो और संसार में यदि किसी से दोस्ती नहीं तो दुश्मनी भी न हो।
श्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कोरोना वायरस के चलते हमें सभी प्रकार के त्योहार एवं सामाजिक कार्यक्रम सोशल डिस्टेसिंग के नियमों का पालन कर मनाने होंगे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages