बोर्डर पर चीनी सैनिक और देश के अंदर कोरोना वायरस के कहर से असुरक्षा का माहौल

फरीदाबाद(Abtaknews.com)17जून,2020: -उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डा. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 17767 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 7612 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 10112
लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 15960 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 18785 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 16185 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 793 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 1807 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 504 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 664 पॉजिटिव मरीजों को घर पर आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 596 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 43 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें  20 मरीज क्रिटिकल हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 4 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है । 145 ऐसे मरीज हैं जो 10 दिनों से ज्यादा से  अस्पताल में दाखिल हैं आज जिले में  227 नए केस  आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही।
उन्होंने बताया कि सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया गया है। इसी प्रकार पर्यावरण स्वच्छता और शुद्धीकरण के बारे में सरकारी व निजी विभागों के कर्मचारियों को दैनिक आधार पर प्रशिक्षण दिया जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण की पृष्ठभूमि को देखते हुए आम जनता को सरकार द्वारा स्वास्थ्य संबंधी हिदायतों की अनुपालना करने की सलाह दी जाती है। लोगो को ध्यान रखना चाहिए कि खाँसी व छींकते समय रूमाल या तौलिया का उपयोग अवश्य करें, हाथों को बार-बार साबुन व पानी से धोते रहें। जब तक बहुत जरूरी न हो, घर से बाहर न निकलें। सार्वजनिक स्थलों व सभाओं में जाने से बचें।उन्होंने लोगों से आहवान किया है कि नागरिक कही पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129- 222 1000 व 1950, पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटायज करें। उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आह्वïान किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों  की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।                                     -----------‐---------------------                                                     फरीदाबाद,17 जून।जिलाधीश यशपाल ने जिला स्तरीय कमेटी के अधीन गठित विभिन्न कमेटियों को सभी काम समय पर पूरा करने व इसकी रिपोर्ट भेजने के संबंध में आदेश पारित किए हैं। जिलाधीश ने आदेशों में कहा है कि सभी जोनल कमेटियों के हेड अपने जोन में नियंत्रण कक्ष का उपयोग करें तथा क्षेत्रीय, माॅनीटरिंग व सुपरवाइजरी कमेटियों से रिपोर्ट प्राप्त करें।
उन्होंने आदेशों में कहा कि क्षेत्रीय कमेटियों गूगल स्प्रैडशीट में प्रतिदिन अपनी रिपोर्ट संबंधित जोनल कमेटी के नियंत्रण कक्ष में भेजना सुनिश्चित करेंगी। इसी तरह सुपरवाइजरी व माॅनीटरिंग कमेटियां भी अपनी रिपोर्ट प्रतिदिन भेजंेगी तथा फील्ड विजिट कर लोकल कमेटियों द्वारा प्रस्तुत डाटा को क्राॅस चेक करेंगी। उन्होंने कहा कि लोकल कमेटियों की ओर से पूरा डाटा जोनल स्तरीय नियंत्रण कक्ष में गूगल फार्म के माध्यम से भेजना है। जोनल स्तरीय नियंत्रण कक्ष से यह डाटा जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष में भेजा जाएगा, जहां पर अंडर ट्रैनिंग नायब तहसीलदाद प्रतीक द्वारा जोन वाइज डाटा को मैनेज किया जाएगा। उनके इस कार्य में सदर कानूनगो, नायब सदर कानूनगो और उनके कर्मचारियों द्वारा सहायता प्रदान की जाएगी। इस तैयार डाटा को प्रतिदिन जिला स्तरीय कमेटी के अध्यक्ष को भेजा जाएगा। 
----------------------------------
फरीदाबाद,17 जून।जिलाधीश यशपाल ने महामारी रोग अधिनियम, 1897 व इसके तहत अधिसूचित हरियाणा महामारी रोग, कोविड-19 विनियम, 2020 तथा आपदा प्रबंधन अधिनियम तथा स्वास्थ्य विभाग हरियाणा की हिदायतों के तहत आदेश पारित कर जिला स्तरीय कमेटी, जोनल कमेटी, माॅनीटरिंग कमेटी, सेक्टर कमेटी, क्षेत्रीय स्तरीय समिति के सरकारी कर्मचारी तथा जिला कोविड प्रबंधन समितियों में पुलिस विभाग के एएसआई या इससे उपर के अधिकारियों को सार्वजनिक स्थानों पर मास्क नहीं पहनने वालों के चालान करने के लिए अधिकृत किया गया है।
जिलाधीश ने आदेशों में बताया है कि कोविड-19 का संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में होने की संभावना के मद्देनजर लोगों को भीड़ के रूप मंे एकत्रित होने व मिलने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है, ताकि कोविड-19 के संक्रमण के खतरे को कम किया जा सके। उन्होंने बताया कि जिला में फैल रहे संक्रमण से कारण लोगों के स्वास्थ्य व सुरक्षा के मद्देनजर कुछ जरूरी कार्यवाही करने की आवश्यकता है। इन प्रतिबंधों का उल्लंघन करने पर 500 रूपए का चालान किया जाएगा तथा जुर्माना न भरने पर भारतीय दंड संहिता, 1860 की धारा 188 के तहत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। 


No comments

Powered by Blogger.