सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया

फरीदाबाद(abtaknews.com)30 जून,2020: उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 31 हजार 885 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका हैजिनमें से 11 हजार 42 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 20 हजार 766 लोग अंडर सर्विलांस हैं। अब तक 23 हजार 416 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थेजिनमें से 19 हजार 263 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 422 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 3 हजार 731 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैंजिनमें से 143 मामलों की रिपोर्ट आज मंगलवार को पॉजिटिव मिली, जोकि ओल्ड फरीदाबाद, बल्लभगढ़, एनआईटी, जवाहर कॉलोनी, एसी नगर, खेडी कलां, संजय कॉलोनी, डबुआ कॉलोनी, सेक्टर 16, सेक्टर 23, सेक्टर 19, सेक्टर 3, सेक्टर 15, सेक्टर 35, चावला कॉलोनी, तिलपत, अज्जी कॉलोनी से सम्बंधित हैं। इसके अलावा विभिन्न बीमारियों से ग्रसित सेक्टर 21डी के 78 वर्षीय व राजीव नगर के 55 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई है। जिला में अब तक विभिन्न बीमारियों से ग्रसित व कोरोना पॉजिटिव 77 लोगो की मौत हो चुकी है। इस समय 520 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है। बिना लक्षण के 733 मरीजों को होम आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 2 हजार 401 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। इसमें 89 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं। इसी के साथ 18 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। 125 ऐसे मरीज हैं जो 10 दिनों से ज्यादा से  अस्पताल में दाखिल हैं।
उन्होंने बताया कि सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया गया है। इसी प्रकार पर्यावरण स्वच्छता और शुद्धीकरण के बारे में सरकारी व निजी विभागों के कर्मचारियों को दैनिक आधार पर प्रशिक्षण दिया जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण की पृष्ठभूमि को देखते हुए आम जनता को सरकार द्वारा स्वास्थ्य संबंधी हिदायतों की अनुपालना करने की सलाह दी जाती है। लोगो को ध्यान रखना चाहिए कि खाँसी व छींकते समय रूमाल या तौलिया का उपयोग अवश्य करेंहाथों को बार-बार साबुन व पानी से धोते रहें। जब तक बहुत जरूरी न होघर से बाहर न निकलें। सार्वजनिक स्थलों व सभाओं में जाने से बचें। उन्होंने लोगों से आहवान किया है कि नागरिक कही पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे। किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950, पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें। उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों  की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।
 -------------------------------------------------
फरीदाबाद, 30 जून। उपायुक्त यशपाल ने बताया कि सरकार के निर्देशानुसार जिला में फैमिली आईडी व स्वास्थ्य के संबंध में सर्वे का कार्य निरंतर जारी है। जिला प्रशासन द्वारा गठित लोकल कमेटियांसेक्टर कमेटियांमॉनिटरिंग कमेटियां तथा जोनल कमेटियां निरंतर सर्वे का कार्य कर रही है। जिला में अब तक फैमिली आईडी सर्वे के तहत 2 लाख 11 हजार 823 परिवार कवर किए गए हैंजिसमें पिछले एक दिन में एक हजार 100 परिवारों का सर्वे भी किया गया। इसी प्रकार स्वास्थ्य सर्वे के तहत 28 हजार 25 हाउसहोल्ड को कवर किया गया हैजिसमें पिछले एक दिन में 5 हजार 897 हाउसहोल्ड कवर किए गए हैं।
उपायुक्त ने बताया कि बड़खल अर्बन एरिया में अब तक 29 हजार 253 परिवारों का फैमिली आईडी तथा हजार 222 हाउसहोल्ड का स्वास्थ्य सर्वे किया गया है। बल्लभगढ़ रूरल एरिया में फैमिली आईडी के तहत 26 हजार 414 परिवारों को तथा स्वास्थ्य सर्वे के तहत हजार 485 हाउसहोल्ड को कवर किया गया है। इसी प्रकार बल्लभगढ़ अर्बन एरिया में 44 हजार 751 परिवारों का फैमिली आईडी तथा हजार 619 परिवारों का स्वास्थ्य सर्वे किया गया है। उन्होंने बताया कि फरीदाबाद ग्रामीण एरिया में 21 हजार 543 परिवारों का फैमिली आईडी तथा हजार 899 परिवारों का स्वास्थ्य सर्वे हुआ है। इसी प्रकार फरीदाबाद अर्बन एरिया में 13 हजार 646 परिवारों का फैमिली आईडी सर्वे तथा 572 परिवारों का स्वास्थ्य सर्वे का कार्य किया गया है। एनआईटी फरीदाबाद में 32 हजार 442 परिवारों का फैमिली आईडी सर्वे तथा हजार 388 परिवारों का स्वास्थ्य सर्वे किया गया है। इसी प्रकार तिगांव रूरल एरिया में 13 हजार 514 परिवारों का फैमिली आईडी सर्वे तथा स्वास्थ्य सर्वे के तहत हजार 851 हाउसहोल्ड कवर किए गए हैं और तिगांव अर्बन एरिया में 30 हजार 260 परिवारों का फैमिली आईडी सर्वे तथा स्वास्थ्य सर्वे के तहत 989 हाउसहोल्ड को कवर किया गया है।                                                                                                          ----------------------------------------------------- 
फरीदाबाद, 30 जून। स्थानीय जिला रेडक्रास सोसायटी के कार्यालय में इन्टरवेंशन प्रोजेक्ट द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय नशामुक्ति बोध दिवस मनाया गया। इसकी अध्यक्षता जिला रेडक्रास सोसायटी के सचिव विकास कुमार ने की।
उन्होंने स्काउट और गाइड को सम्बोधित करते हुए अपने सम्बोधन में कहा कि नशा मनुष्य को शारीरिकमानसिकआर्थिक और सामाजिक रूप से पतन की ओर अग्रसर करता है। नशा नाश की जङ है। नशा सामाजिक बुराइयों की जङ हैइससे बचाव बारे विशेषकर युवाओं और अन्य लोगों में जागरूकता लाना ही सबसे सफल कार्य है।
शरीर में नशे की पूर्ति के लिए नशा करने वाले व्यक्ति मातापिता, पत्नी तथा बच्चों के साथ बुरा व्यवहार करते है। समाज में हर नागरिक को शपथ लेनी चाहिए कि वो नशे जैसी घिनौनी बुराई को खत्म करने में अपनी भागीदारी अवश्य सुनिश्चित करेंगे।
उन्होंने कहा कि आज देश के अनेक युवा नशे के आदी हो रहे हैं। नशामुक्ति केंद्रों से नशे के आदी कुछ को तो ठीक किया जा सकता हैपरन्तु समाज से खत्म तो केवल सामाजिक जागरूकता में प्रत्येक भारतीय युवा की भागीदारी से ही किया जा सकता है।


इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में सहायक सचिव बिजेन्द्र सोरोत, सहायक सचिव पुरुषोत्तम सैनी, डीओसी सरोज बाला, प्रोजेक्ट डायरेक्टर नशा मुक्ति केंद्र जगत सिंह, सुशील कुमार सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

No comments

Powered by Blogger.