Wednesday, May 20, 2020

श्रम कानून संसोधन के खिलाफ भारतीय मजदूर संघ ने देशरभर में केंद्र सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

फरीदाबाद(Abtaknews.com )20 मई,2020 केंद्र सरकार द्वारा संसोधित श्रम कानून के खिलाफ  भारतीय मजदूर संघ ने विरोध दिवस मनाया। भारतीय मजदूर संघ हरियाणा के प्रदेश महामंत्री हनुमान गोदारा के आह्वान पर कर्मचारियों ने मांग करते हुए  केंद्र के निर्णय अनुसार  पूरे देश में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश,  गुजरात  सरकार द्वारा सभी श्रम कानूनों को अगले तीन-चार वर्ष के लिए निष्प्रभावी करने, हरियाणा सहित कई प्रदेशों द्वारा  फैक्ट्री एक्ट में संशोधन कर  काम के घंटे  8 से बढ़ाकर 12 घंटे करने, गृह व श्रम मंत्रालय के  दिशा-निर्देश होने के बावजूद भी कर्मचारियों की छटनी  मार्च- अप्रैल माह का वेतन न मिलने,  पब्लिक सेक्टर के संस्थानों का निजीकरण करने, प्रवासी मजदूरों का राष्ट्रीय पंजीकरण रजिस्टर उनके रोजगार व आने जाने  की समुचित व्यवस्था जैसे मुख्य मुद्दे तथा स्थानीय समस्याओं की ओर  केंद्र व राज्य सरकारों का ध्यान आकर्षित करने के लिए 20 मई को विरोध दिवस के रूप में मनाया गया है। सभी कार्यकर्ताओं ने सोशल डिस्टेंस का पालन के उद्देश्य से शहर में एक स्थान पर एकत्रित होने के बजाय अलग-अलग दो तीन स्थानों पर प्रदर्शन किया।  
सेक्टर 12 स्थित लघु सचिवालय पर आज के प्रदर्शन में मुख्य रूप से आर सी कटोच, शैलेश चौधरी, नीरज त्यागी, चतरसिंह, प्रेमसिंह रावत, महेश यादव, शिवेंद्र प्रताप, अशोक कुमार, उम्मेद, रंजीत, वीरेंद्र यादव, पी सी राम, नरेंद्र चौहान, बाबू आर्य, विजय पंडित, राजकुमार भाटी, इंदरजीत मिश्रा, विनोद चौधरी, सुनील चंदीला, अश्वनी उपाध्याय, पवन कुमार कार्यकर्ताओं ने गाइडलाइन्स का पालन करते हुए भागीदारी की। फरीदाबाद में अन्य दो स्थानों पर क्रमशः टूरिज्म कर्मचारी संघ ने अपने प्रदेश अध्यक्ष बाबू आर्य, भाग सिंह, सुभाष उपाध्याय, रूप चंद, अक्षय राणा व अन्य साथियों के साथ अपने सूरज कुंड कोम्प्लेक्स में प्रदर्शन किया। स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ने अपने कर्तव्य का पालन करते हुए सांकेतिक प्रदर्शन जिला अध्यक्ष सुरेन्द्र देशवाल, दीपक, संजय बत्रा, दीपक गोयल आदि कर्मचारियों के साथ अपने कार्य स्थल पर किया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages