मुख्यमंत्री के आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे एसडीएम पंकज सेतिया : लखन सिंगला

फरीदाबाद(Abtaknews.com) फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के पूर्व कांग्रेस प्रत्याशी लखन कुमार सिंगला ने कहा है कि एक तरफ जहां मुख्यमंत्री मनोहर लाल प्रवासी मजदूरों को टे्रनों व बसों के माध्यम से उनके घरों तक पहुंचाने की बात कर रहे है वहीं इस संकट दौर में जिले के नोडल अधिकारी एसडीएम पंकज सेतिया की लापरवाही के चलते सैकड़ों मजदूर धक्के खाने को मजबूर हो रहे है, उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। बीती रात दिल्ली के रास्ते करीब 300 मजदूर बडखल क्षेत्र के सूरजकुंड रोड पर जमा हो गए थे, जिसके चलते पुलिस प्रशासन के हाथ पांव भी फूल गए, लेकिन प्रशासन इन मजदूरों को घर पहुंचाने की बजाए उन्हें गुमराह करके भगाने का काम कर रहा है। उन्होंने कहा इन प्रवासी मजदूरों का फरीदाबाद के निर्माण में अह्म योगदान है, इस संकट के दौर में उनकी मदद करना हमारा दायित्व बनता है, परंतु उक्त अधिकारी की हठधर्मिता से प्रवासी मजदूर परेशान है। उन्होंने कहा कि गांव बड़ौली में महाराष्ट्र के 150 लोग लॉकडाउन के चलते फंसे हुए है, जिन्हें अपने घर भेजने के लिए कई बार सामाजिक संस्थाओं ने उनसे संपर्क किया और जब उन्होंने एसडीएम से इस बाबत बात करनी चाहिए तो उन्होंने फोन तक भी नहीं उठाएं। लखन सिंगला ने एसडीएम सेतिया पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री ने जिले के नोडल अधिकारी जिम्मेदारी सौंपकर इस संकट के दौर में लोगों की परेशानियों को दूर करने के निर्देश दिए है, जबकि सच्चाई यह है कि एसडीएम महोदय लोगों के फोन तक नहीं उठाते, आम आदमी तो दूर शहर की धार्मिक व सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि भी कई बार उनसे संपर्क साधने का प्रयास कर चुके है, लेकिन उनकी तरफ से कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिलता। लखन सिंगला ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल प्रदेश में जनता को पारदर्शिता शासन देने की बात करते नहीं थकते, जबकि दूसरी तरफ उनके मताहत अधिकारी ही उनके आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे है। लखन सिंगला ने कहा कि इस मुद्दे को लेकर जल्द ही सामाजिक व धािर्मक संस्थाओं का एक प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री से मिलकर उक्त अधिकारी की शिकायत करेगा और सख्त कार्यवाही की मांग करेगा।

No comments

Powered by Blogger.