नहीं रुक रही स्कूलों की मनमानी वसूल रहे हैं अवैध फीस, मंच ने पुनः की चेयरमैन एफएफआरसी से शिकायत

फरीदाबाद(abtaknews.com)21 मई, 2020,हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने चेयरमैन एफएफआरसी कम मंडल कमिश्नर फरीदाबाद को पत्र लिखकर स्कूल प्रबंधकों द्वारा अभिभावकों से सरकारी आदेशों की विपरीत ट्यूशन फीस व अन्य फंडों में वसूली गई अवैध फीस को वापस कराने की मांग की है। मंच ने कहा है कि शिक्षा विभाग का स्पष्ट आदेश है कि स्कूल प्रबंधक अभिभावकों से मासिक आधार पर वही ट्यूशन फीस ले जो 2019 में थी। इसके अलावा अन्य किसी फंडों में पैसा ना लें लेकिन स्कूल प्रबंधकों ने अभिभावकों को डरा धमका कर बढ़ी हुई ट्यूशन फीस व अन्य फंडों में अप्रैल, मई की फीस वसूल ली है। कई स्कूल प्रबंधकों ने  ट्यूशन फीस में ही कई फंडों को मर्ज कर दिया है और उसी को ट्यूशन फीस बताकर फीस वसूल रहे हैं। जब अभिभावक ऐसी ट्यूशन फीस का ब्रेकअप मांग रहे हैं तो ब्रेकअप नहीं दिया जा रहा है। ग्रैंड कोलंबस, डीपीएस 19 व 81, मॉडर्न डीपीएस, सेंट एंथोनी, सेंट कार्मेल, सेंट जॉन्स, सेंट थॉमस, मानव रचना, एमबीएन, अरावली, आदि स्कूल के अभिभावकों ने चेयरमैन एफएफआरसी, जिला शिक्षा अधिकारी, डीसी, को पत्र लिखकर स्कूलों की इन मनमानीओ की शिकायत दर्ज कराई है लेकिन उन पर कोई भी उचित कार्रवाई नहीं की गई है। मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा व जिला अध्यक्ष एडवोकेट शिव कुमार जोशी ने बताया है कि इन स्कूलों के संचालकों ने जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में वह शपथ पत्र भी जमा नहीं कराया है जिसमें पूछा गया है कि गया है कि स्कूल प्रबंधक ने ट्यूशन फीस में कोई भी वृद्धि नहीं की है व अन्य किसी फंडों में भी पैसा नहीं ले रहे हैं। और ना ही ट्यूशन फीस में किसी अन्य फंड को मर्ज किया है। मंच के जिला सचिव डॉक्टर मनोज शर्मा ने कहा कि लोकडाउन के चलते जिन अभिभावकों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है, शिक्षा विभाग ने ऐसे अभिभावकों को यह छूट दी है कि वह स्कूल प्रबंधकों को पत्र लिखकर आगे बिना बढ़ाई गई  ट्यूशन फीस जमा कराने की सहमति दे दें। इसके बाद फीस न देने पर उनके बच्चों की ना तो ऑनलाइन क्लास बंद की जाएगी और ना नहीं उनके बच्चों का नाम काटा जाएगा। लेकिन स्कूल प्रबंधक ऐसे अभिभावकों को भी परेशान कर रहे हैं उनके बच्चों की ऑनलाइन क्लास बंद कर दी गई वह है और आगे नाम काटने की धमकी दी जा रही है।
मंच ने सभी अभिभावकों से कहा है कि वे स्कूल प्रबंधकों की इस प्रकार की मनमानी का खुल कर विरोध करें। किसी भी मदद के लिए मंच के हेल्पलाइन नंबर 9810499060  पर संपर्क करें।

No comments

Powered by Blogger.