एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया

फरीदाबाद(Abtaknews.com)2मई,2020:जिलाधीश यशपाल ने गृह मंत्रालय के निर्देंशों की अनुपालना के लिए एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। नोडल अधिकारी किसी अन्य राज्य या केंद्र शासित प्रदेशों में फंसे समूह के व्यक्तियों को भेजने व प्राप्त करने के संबंध में परामर्श व परस्पर समन्वय स्थापित करेंगे। आवागमन करने वाले व्यक्तियों की स्क्रीनिंग करवाना, जिस बस में व्यक्तियों का समूह जाएगा, उसे सेनेटाइज करवाया जाए तथा सोशल डिस्टेंसिंग की अनुपालना करना सुनिश्चित करेंगे। रास्ते पर आने वाले राज्य ऐसे व्यक्ति के पास को प्राप्त करने की स्थिति में ले जाने की अनुमति देना सुनिश्चित करेंगे। अपने निश्चित स्थान पर पहुंचने वाले व्यक्ति की सूचना स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियोें को देेना तथा उन्हें होम क्वारेंटाइन करवाना, जरूरत पड़ने पर संस्थागत क्वारेंटाइन में रखवाना, उनकी चिकित्सा जांच करवाना तथा उन्हें आरोग्य सेतु एप इंस्टाल करने के लिए प्रेरित करना तथा उसके स्वास्थ्य की जानकारी एप पर देना सुनिश्चित करवाएंगे। सभी उपमंडलाधीश इस संबंध में सभी जरूरी सूचना एसडीएम बड़खल को उपलब्ध कराएंगे।
फरीदाबाद, 2 मई, जिलाधीश यशपाल ने महामारी रोग अधिनियम 1897 के मद्देनजर कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने तथा संबंधित क्षेत्र की सूचना इन्सीडेंट कमांडर को देने के लिए वार्ड इंचार्ज लगाए गए हैं। जिलाधीश ने बताया कि हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एईई सचिन कुमार को वार्ड नंबर-24 का इंचार्ज बनाया गया है, जिसमें ओम इंक्लेव, अगवानपुर गांव, रोशन नगर का क्षेत्र आएगा। इसी प्रकार सिंचाई विभाग के एसडीओ जितेंद्र को वार्ड नंबर-26 का इंचार्ज बनाया गया है, जिसमें अशोका इंक्लेव, मैन पार्ट, पावर हाउस कालोनी, राजीव नगर, धीरज नगर, सेक्टर-32, स्प्रिंग फील्ड कालोनी, इंद्रप्रस्थ कालोन, एतमादपुर गांव शामिल हैं।
‐-----------------------------------------‐
फरीदाबाद, 2 मई, 2020:कोरोना लॉकडॉन के दौरान सेक्टर-15 स्थित राधास्वामी सत्संग व्यास की ओर से व्यापक स्तर पर जरूरतमंद परिवारों के लिये पका भोजन तैयार किया जा रहा है। राधास्वामी सत्संग व्यास की जिला इकाई के पदाधिकारी बताते हैं कि सतगुरु की सेवाभाव की प्रेरणा के अनुसार अनुसार आपसी समन्वय से इस उद्देश्य से काम किया जा रहा है कि कोई भी व्यक्ति इन परिस्थिति में भूखा न रहे तथा समाज के अंतिम व्यक्ति तक खाने की पहुंच संभव हो पाए। उन्होंने कहा कि राधा स्वामी संगत से जुड़े लोग दिन-रात जिला प्रशासन के साथ मिलकर कार्य कर रहे हैं। यहां से प्रतिदिन सुबह व शाम को करीब ढाई-ढाई हजार लोगों के लिए पका भोजन का प्रबंध किया जाता है। यहां सभी का सेवा भाव है कि जरूरतमंद को भर पेट खाना मिले, ताकि सतगुरु राधास्वामी का संदेश जन-जन तक पहुंच सकें। राधास्वामी सत्संग व्यास एकसमान भाव से सेवा का संदेश देते हुए मानवता की सच्ची सेवा करने के लिए सदैव अग्रसर रहा है तथा जनकल्याण के नेक कार्य व पुनीत सेवा भाव से संगत कार्य करती है। यहां पर लगभग 70 सेवादारों द्वारा सुबह-शाम भोजन को पकाने का कार्य किया गया। प्रतिदिल साफ-सफाई व सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कार्य किया जा रहा है। यहां के पूरे क्षेत्र को प्रतिदिन सेनेटाइज किया जात है। बाहर से आने वाले सेवादारों को मुख्य गेट पर ही सेनेटाइज किया जाता है। संगत की सामूहिक सेवा भावना के कारण ही बड़े स्तर पर भोजन पकाने की व्यवस्था की गई और लाॅकडाउन की परिस्थितियों में समाजहित के लिए सकारात्मक व अग्रणी भूमिका निभाई जा रही है।

No comments

Powered by Blogger.