महंगाई भत्ते व एलटीसी पर लगाई रोक से गुस्साए कर्मचारियों ने फरीदाबाद में किया प्रर्दशन, सौंपा मांग पत्र

फरीदाबाद(Abtaknews.com)8मई, 2020: कोरोना योद्धाओं को सुरक्षा उपकरण न देने, महंगाई भत्ते व एलटीसी पर लगाई रोक से गुस्साए कर्मचारियों ने शुक्रवार को अपने अपने विभागों में प्रर्दशन किए। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशव्यापी आंदोलन के तहत शुक्रवार को नगर निगम, बिजली निगम, टूरिज्म,जन स्वास्थ्य, पीडब्ल्यूडी (बीएंडआर) सिंचाई, शिक्षा,हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, वन आदि विभागों में प्रर्दशन किए गए। प्रदर्शनों में शारीरिक दूरी के नियमों का कड़ाई से पालन किया गया। प्रर्दशनों के बाद सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के नेताओं के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को संबोधित 8 सूत्री मांग पत्र उपायुक्त यशपाल यादव को उनके आवास पर पहुंच कर सौंपा। इस प्रतिनिधिमंडल में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री, जिला प्रधान अशोक कुमार, सचिव बलबीर सिंह बालगुहेर व कोषाध्यक्ष युद्धवीर सिंह खत्री शामिल थे। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा व वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री ने इससे पहले नगर निगम मुख्यालय पर प्रदर्शन में बोलते हुए दो टूक शब्दों में कहा कि अगर सरकार ने आज के प्रदर्शनों के बावजूद डीए बढ़ोतरी व एलटीसी पर लगाई रोक को वापस नहीं लिया और बकाया वेतन का भुगतान नहीं किया तो लाकडाउन के बाद आंदोलन तेज किया जाएगा। उन्होंने बड़े पूंजीपतियों के लाखों करोड़ रुपए के सरकारी बैंकों के लोन माफ करने और कोरोना योद्धाओं के वेतन भत्तों में कटौती करने की घोर निन्दा की। 
मुख्यमंत्री को संबोधित उपायुक्त को सौंपे मांग पत्र में कोरोना योद्धाओं सरकारी कर्मचारियों को डब्ल्यूएचओ व स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा अनुमोदित सुरक्षा उपकरण मुहैया करवा उन्हें सुरक्षित करने,फ्रंट लाइन योद्धाओं व आवश्यक सेवाओं के संचालन एवं सर्वे के कार्यों में लगे सभी विभागों के कर्मचारियों को एक समान 50 लाख एक्स ग्रेसिया क्षतिपूर्ति योजना में शामिल करने, आर्थिक संकट के नाम पर कर्मचारियों व पेंशनर्स के डीए बढ़ोतरी पर जुलाई 2020 व एलटीसी देने पर एक साल तक लगाई रोक को हटाने, एनपीएस को रद्द कर पुरानी पेंशन बहाल कर एनपीएस का हजारों करोड़ रुपए सरकार के खजाने में ट्रांसफर करने, ठेकेदारों को बीच से हटकर ठेका कर्मचारियों को सीधा विभागों के पे - रोल कर ठेकेदारों को दिए जाने वाले करोड़ों रुपए को बचाने, पशुपालन एवं डेयरी विभाग, बड़खल टूरिज्म, आईसीडीएस सुपरवाइजरों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, नगर निगम कर्मचारियों, ग्रामीण सफाई कर्मचारियों, हैल्थ विभाग के अनुबंध पर लगे कर्मचारियों सहित सभी विभागों के कर्मचारियों के बकाया वेतन का भुगतान करने, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण से नौकरी से बर्खास्त किए डाटा एंट्री ऑपरेटर को वापस ड्यूटी पर लेने, मजदूरों के पलायन को रोकने के लिए उन्हें चिन्हित कर सुखा राशन व 7500 रुपए प्रतिमाह देने आदि मांगों को प्रमुखता से उठाया गया है।

प्रदर्शनों में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री, जिला प्रधान अशोक कुमार, सचिव बलबीर सिंह बालगुहेर, कोषाध्यक्ष युद्धवीर सिंह खत्री, विभागीय यूनियनों के नेता सतपाल नरवत,शब्बीर अहमद गनी,अतर सिंह केसवाल, कृष्ण चंद, रमेश तेवतिया, सतीश छाबड़ी, गिरीश चंद्र, दिनेश शर्मा,गांधी सहरावत,पूर्णचंद दहिया, धर्मबीर वैष्णव,ब्रहम सिंह चंदीला,टीका राम शर्मा,डिगम्बर डागर, बिरेंद्र शर्मा, जगदीश चन्द्र, मास्टर भीम सिंह आदि मौजूद थे।

No comments

Powered by Blogger.