Sunday, May 10, 2020

प्रदेश सरकार ने बनाई क्लस्टर योजना ताकि सभी 22 जिलों में हो उद्योगों का विस्तार : मनोहर लाल

चंडीगढ़(Abtaknews.com)10मई,2020:हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में उद्योग को बढ़ावा देनेनिवेशकों को आकृषित करने और रोजगार के अधिक से अधिक अवसर पैदा होंइसके लिए प्रदेश सरकार द्वारा क्लस्टर योजना बनाई गई हैताकि कोई भी उद्योग केवल एक जिले तक सीमित न रहेबल्कि सभी 22 जिलों में उद्योगों का विस्तार हो।
        मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए बुनायदी ढ़ांचे जैसे सडक़ और रेल की व्यवस्थाजो भी आवश्यक होगा उसे पूरा किया जाएगा।
        योजना की बारीकियों से अवगत करवाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इन 22 जिलों के अंदर विशेष तौर पर गुरुग्रामफरीदाबादरेवाड़ीसोनीपत यह ऐसे जिले हैंजहां पहले से उद्योग चल रहे हैं। शेष जिलों में भी उद्योगों का विस्तार हो इसके लिए यह योजना बनाई गई है।
        उन्होंने कहा कि सिरसा जिले में कृषि का अच्छा उत्पाद होता है तो वहां फूड प्रोसेसिंग के यूनिट के साथ ही कपड़ा उद्योग का कलस्टर तैयार करने के लिए योजना बनाएंगे। फतेहाबाद और जींद जिले में कृषि एवं खाद्य आधारित उद्योगलोहा और इस्पात उद्योग को बढ़ावा दिया जाएगा।
        उन्होंने कहा कि हिसार जिले में लोहा और इस्पात का पहले से अच्छा उद्योग है उसी को और अधिक बढ़ाया जाएगा। इसी प्रकारभिवानी में कपड़ा उद्योग पहले से चल रहा हैइसको और बढ़ावा दिया जाएगा। इसके साथ हीखाद्य आधारित उद्योगों का विस्तार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि महेंद्रगढ़ जिला सरसों का क्षेत्र है और वहां तेल की मिलें अधिक हैं तो इसी उद्योग को बढ़ाया जाएगा। इसके अलावाऑटो कॉम्पोनेंट्स उद्योग भी लगाए जाएंगे।
        उन्होंने कहा कि रेवाड़ी जिले में ऑटो कॉम्पोनेंट्सकपड़ा उद्योगनूंह जिले में फार्मास्यूटिकल उद्योग और केमिकल इंडस्ट्रीअंबाला में वैज्ञानिक उपकरणपंचकूला में आईटी एवं आईटी- सक्षम सेवाओंसोनीपत में कृषि एवं खाद्य आधारित और ऑटोमोबाइल कॉम्पोनेंट्सफरीदाबाद में ऑटो कॉम्पोनेंट्सनिर्माण और इंजीनियरिंगकृषि एवं खाद्य आधारित उद्योगों और चरखी दादरी में तेल की मिलों को बढ़ावा दिया जाएगा।
        उन्होंने कहा कि यमुनानगर में पहले से ही प्लाईवुड और इस्पात की फैक्ट्रियां हैइसे ही बढ़ावा दिया जाएगा। इसी प्रकारकुरुक्षेत्र में पेपर मिलकृषि एवं खाद्य आधारित उद्योग लगाए जाएंगे। पानीपत में कपड़ा उद्योग पहले से चल रहा हैइसके साथ ही कृषि एवं खाद्य आधारित उद्योगों को बढ़ाया जाएगा। झज्जर में फुटवियर उद्योग विशेषकर बहादुरगढ़ में इस उद्योग का और अधिक विस्तार किया जाएगा। रोहतक में इंजीनियरिंग यूनिट्स को आगे बढ़ाने का काम किया जाएगा।
        उन्होंने कहा कि गुरुग्राम में ऑटोमोबाइलऑटो कॉम्पोनेंटआईटी एवं आईटी- सक्षम सेवाओंइलेक्ट्रिकलइलेक्ट्रॉनिक्सइंजीनियरिंग इन सबका विस्तार किया जाएगा। करनाल में कृषि एवं खाद्य आधारितपैकेजिंगफार्मास्यूटिकल उद्योग को बढ़ावा दिया जाएगा।
        मुख्यमंत्री ने कहा कि 22 जिलों में क्लस्टर एप्रोच के साथ काम करेंगे ताकि हर जिले के अंदर जो काम करने वाले व्यक्तिवर्कर और मजदूर है उन सबको काम में लगाया जाए ताकि बेरोजगारी को दूर किया जाए सके।
        उन्होंने कहा कि हरियाणा के नागरिकों को रोजगार के योग्य बनाने के लिए उनका कौशल विकास करना आवश्यक है और हरियाणा का एकमात्र श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालयपलवल में युवाओं को कौशल परिक्षण करके उन्हें रोजगार योग्य बनाया जा रहा है ताकि विभिन्न प्रकार के उद्योगों में उनको काम मिले। 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages