फरीदाबाद में अब तक 181 लोगों के सैंपल कोरोना पॉजिटिव मिले हैं : यशपाल यादव, जिला उपायुक्त


फरीदाबाद(Abtaknews.com)21मई, 2020: उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डा. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 8766 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 2652 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 6108 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 8585 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 8510 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 7487 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 842 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 181 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 79 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 4 पॉजिटिव मरीजों को घर पर आइसोलेट किया गया है। इसी प्रकार ठीक होने के बाद 92 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक छह मरीजों की मौत हो चुकी है जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही।
उन्होंने बताया कि सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया गया है। इसी प्रकार पर्यावरण स्वच्छता और शुद्धीकरण के बारे में सरकारी व निजी विभागों के कर्मचारियों को दैनिक आधार पर प्रशिक्षण दिया जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण की पृष्ठभूमि को देखते हुए आम जनता को सरकार द्वारा स्वास्थ्य संबंधी हिदायतों की अनुपालना करने की सलाह दी जाती है। लोगो को ध्यान रखना चाहिए कि खाँसी व छींकते समय रूमाल या तौलिया का उपयोग अवश्य करें, हाथों को बार-बार साबुन व पानी से धोते रहें। जब तक बहुत जरूरी न हो, घर से बाहर न निकलें। सार्वजनिक स्थलों व सभाओं में जाने से बचें। जिन लोगों ने हाल ही में कोरोना प्रभावित देशों की यात्रा की है, उन्हें राष्ट्रीय, राज्य या जिला हेल्पलाइन नंबरों पर सूचना देनी चाहिए, उन्हें भारत में आगमन की तारीख से 28 दिनों के लिए सभी से अलग रहना है और किसी से भी स्पर्श करने से बचना है, भले ही उसमें कोई लक्षण न हों।                                                                                                       --------------------------------------------------------------------------------------फरीदाबाद, 21 मई।उपायुक्त यशपाल ने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार जिला की अनाज मंडियों में गेहूं  की बिक्री तथा उठान  का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिला के खरीद केंद्रों पर आज वीरवार को दोपहर तक 400 क्विंटल गेहूं की खरीद की गई, जबकि अब तक कुल 10 लाख 50 हजार 185 क्विंटल 50 किलो ग्राम गेहूं की खरीद की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि बल्लभगढ़ अनाजमंडी में आज 400 क्विंटल गेहूं की खरीद की गई है । अब तक इस मण्डी कुल 2 लाख 45 हजार 444 क्विंटल गेहूं की खरीद हुई। इसी प्रकार तिगांव मंडी में अब तक कुल 1 लाख 21 हजार 266 क्विंटल गेहूं खरीदा गया है। एनआईटी, डबुआ मंडी में अब तक कुल एक हजार 719 क्विंटल 50 किलोग्राम  गेहूं की खरीद की जा चुकी है। इसी प्रकार सेक्टर-16 मण्डी में अब तक कुल 39 हजार 521 क्विंटल गेहूं की खरीद की जा चुकी है। उन्होंने आगे बताया कि मोहना मंडी में अब तक कुल 5 लाख 74 हजार 809 क्विंटल गेहूं की खरीद हुई है। फतेहपुर बिलौच में अब तक कुल 65 हजार 751 क्विंटल गेहूं की खरीद हुई है। इसी प्रकार अटाली मंडी में अब तक कुल एक हजार 675 क्विंटल गेहूं की खरीद की जा चुकी है। उपायुक्त ने बताया कि खरीद एजेन्सियों के द्वारा गेहूं मण्डियो से उठान कार्य भी निरंतर किया जा रहा है।
-----------------------------------------------------------------------------------------फरीदाबाद, 21 मई।उपायुक्त यशपाल ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान जिला प्रशासन की ओर से जरूरतमंद लोगों तक प्रतिदिन सुबह व सायं के समय फूड पैकेट्स व खाद्य सामग्री से मदद पहुंचाई जा रही है। प्रशासन का प्रयास है कि जिले में कोई भी जरूरतमंद व्यक्ति भूखा ना रहे।
उपायुक्त ने बताया कि जिला में रेडक्रॉस सोसायटी विभिन्न सामाजिक संगठनों, गैर सरकारी संस्थाओं से तालमेल कर हर जरूरतमंद व्यक्ति तक खाना पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अब तक 33 लाख 77 हजार 30 लोगों को फूड पैकेट्स तथा 48 हजार 997 लोगों को साप्ताहिक सूखा राशन वितरित किया गया। उन्होंने बताया कि अब तक 32 लाख 55 हजार 527 फूड पैकेट्स विभिन्न एनजीओ तथा 1लाख 21 हजार 500 पैकेट्स सरकार द्वारा तैयार करवाए गए हैं, जिनका वितरण गत दिनों शहर के सभी वार्डों में जरूरतमंद लोगों तक किया गया। इसके अलावा खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की ओर से जन वितरण प्रणाली व डिस्ट्रेस राशन कूपन के तहत जिला के सभी डिपो के माध्यम से भी राशन कार्ड धारकों व अन्य जरूरतमंद लोगों को राशन वितरित किया जा रहा है।

फरीदाबाद, 21 मई। सरकार के निर्देशानुसार वीरवार को ‘आतंकवाद विरोधी दिवस’ मनाया गया तथा जिला के विभिन्न सरकारी कार्यालयों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ आतंक से लड़ने की शपथ ली गई।
उपायुक्त यशपाल ने बताया कि सरकार के निर्देशानुसार सभी कार्यालयों को ‘आतंकवाद विरोधी दिवस’ मनाने के निर्देश दिए गए थे। जिला के विभिन्न सरकारी कार्यालयों में वीरवार को शपथ समारोह आयोजित किए गए। कोविड-19 वैश्विक महामारी के चलते संबंधित शाखाओं व कार्यालयों में अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा आतंकवाद विरोधी प्रतिज्ञा ली गई। राष्ट्रविरोधी गतिविधियों से सावधान रहने के साथ-साथ शांति व सदभाव के उद्देश्य के लिए यह दिवस मनाया जाता है।
आतंकवाद विरोधी दिवस पर शपथ ली गई कि हम भारतवासी अपने देश की अहिंसा व सहनशीलता की परंपरा में दृढ़ विश्वास रखते हैं तथा निष्ठापूर्वक शपथ लेते हैं कि हम सभी प्रकार के आतंकवाद और हिंसा का डटकर विरोध करेंगे। हम मानव जाति के सभी वर्गों के बीच शांति, सामाजिक सद्भाव तथा सूझबूझ कायम करने और मानव जीवन मूल्यों को खतरा पहुंचाने वाली और विघटनकारी शक्तियों से लड़ंेगे। उन्होंने कहा कि आतंकवाद मानव व किसी भी राष्ट्र के लिए घातक है, युवाओं को आतंकवाद और हिंसा से दूर रखने के उद्देश्य से प्रति वर्ष 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस के रूप में मनाया जाता है।
सिविल सर्जन की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग, पशुपालन एवं डेयरी विभाग, आबकारी एवं कराधान विभाग, जिला रैडक्रास सोसायटी सहित अन्य विभागों में आतंकवाद विरोधी शपथ ली गई। इसके अतिरिक्त उपमंडल, खण्ड व तहसील स्तर पर आतंकवाद विरोधी शपथ ली गई।
----‐----------------------------------------------------------

No comments

Powered by Blogger.