लाखों कर्मचारी काम के लिए तैयार, सरकार का आर्थिक गतिविधियों में तेजी लाने पर जोर: दुष्यंत चौटाला

 
चंडीगढ़( abtaknews.com ) 27 अप्रैल, 2020: प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने उम्मीद जताते हुए कहा है कि सरकार कोरोना महामारी से निपटते हुए प्रदेश में हालात जल्द सामान्य करेगी। इसके लिए राज्य सरकार कोरोना महामारी को प्रत्येक क्षेत्र अनुसार मॉनिटर करते हुए आगे बढ़ रही है। वे सोमवार को चंडीगढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये हुई बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार प्रदेश में आर्थिक गतिविधियों में तेजी लाने पर जोर दे रही है।

बैठक के बाद डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने बताया कि बैठक में हरियाणा सरकार की तरफ से उठाए गए कदमों की जानकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दी गई। उन्होंने कहा कि बैठक में कोरोना महामारी व लॉकडाउन के बारे में चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि तीन मई के बाद कैसे कोराना वायरस से देश को बचाते हुए लॉकडाउन का पालन किया जाएइस पर सभी राज्यों ने अपने-अपने सुझाव दिए। 

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन को लेकर सभी राज्यों की अलग-अलग परिस्थिति एवं रणनीति है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश में जहां कोरोना महामारी का प्रकोप नहीं है वहां हमें प्रत्येक जिले अनुसार धीरे-धीरे हालात सामान्य करने चाहिए और इसको लेकर सभी जिला प्रशासन को मौजूदा परिस्थितियों के मुताबिक आगे की प्लानिंग बनाने के आदेश जारी कर दिए गए है ताकि हालात सामान्य हो। उन्होंने कहा कि परिवहन सुविधा भी फिलहाल बंद है। उन्होंने कहा कि इसे भी जिले अनुसार बहाल करना होगा। डिप्टी सीएम ने बताया कि प्रदेश के पांच जिले पंचकुलासोनीपतपानीपतगुरुग्राम व फरीदाबाद में कोरोना महामारी का ज्यादा प्रकोप है इसलिए यहां सख्ती बरतनी होगी और अन्य जिलों में हालात सामान्य करने की दिशा में आगे बढ़ना होगा।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार आर्थिक गतिविधियों में तेजी लाने पर पूरा जोर दे रही है। उन्होंने बताया कि उद्योग से जुड़े 73 लाख श्रमिक और ईंट-भट्ठों पर काम करने वाले लगभग 2 लाख 17 हजार श्रमिक काम के लिए वापस आ गए है। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि सरकार ने ग्रामीण क्षेत्र के उद्योगों को परमिट जारी कर दिए है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में असंक्रमित क्षेत्र में उद्योगो को खोलने पर विचार किया जा रहा है।

किसानों की फसल खरीद पर बोलते हुए उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेशभर की मंडियों में फसल खरीद ज़ोरों पर जारी है। उन्होंने कहा कि बारिश की वजह से जो किसान फसल खरीद का संदेश मिलने के बाद भी अपनी फसल नहीं बेच पाए हैउन किसानों के लिए सरकार दोबारा इसी हफ्ते में एक दिन बुलाकर सरसों व गेहूं की फसल की खरीद करेगी। उन्होंने फसल खरीद पर झूठा भ्रम फैलाने वाले लोगों को उदाहरण सहित जवाब देते हुए कहा कि पानीपत जिले में एक किसान करीब 1609 क्विंटल गेहूं लेकर मंडी में आया और सरकार ने उसकी पूरी फसल एक साथ खरीदी।

वहीं उन्होंने कहा कि 15 अप्रैल से शुरू हुई सरसों की खरीद के पहले तीन दिन में सरसों बेचने वाले किसानों के पास बाकायदा उनके बैंक खातों में फसल की राशि पहुंचा दी गई है। दुष्यंत चौटाला ने एक बार फिर से किसानों व आढ़तियों को आश्वस्त किया कि ढाई प्रतिशत आढ़त के हिसाब से करीब पौने चार सौ करोड़ रूपये आढ़तियों और 22 हजार करोड़ रूपये किसानों के हिस्से के हैं। उन्होंने अपील की कि किसान व आढ़ती फसल खरीद को लेकर किसी प्रकार के झूठे भ्रम में न आएंसरकार उन्हें किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं आने देगी।

वहीं दुष्यंत चौटाला ने कहा कि बैठक में सरकार ने बच्चों की शिक्षा क विषय को अहम बताते हुए अपने सुझाव रखे। उन्होंने कहा कि मिल्ट्रीनीटएनडीए सहित अन्य परीक्षाओं में हरियाणा के युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि परीक्षाओं को लेकर राज्य सरकार के साथ-साथ केंद्र भी अपनी रणनीति बनाएं। उन्होंने कहा कि वहीं केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानि सीबीएसई एवं अन्य बोर्ड भी इस विषय पर विचार-विमर्श करें।

No comments

Powered by Blogger.