लाॅकडाउन के दौरान जनता की मूवमेंट रोकने के लिए पुलिस विभाग नाकों पर करे सख्ती कार्यवाही: आर के सिंह


फरीदाबाद ( abtaknews.com ) 27 अप्रैल, 2020: अतिरिक्त उपायुक्त आरके सिंह ने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान जनता की मूवमेंट रोकने के लिए पुलिस विभाग सभी नाकों पर सख्ती से कार्यवाही जारी रखे। साथ ही अन्य प्रांतों की सीमाओं पर भी अधिक ध्यान दिया जाए। जिला में भी बिना उचित कारण के किसी को बाहर न आने दिया जाए।
अतिरिक्त उपायुक्त ने सोमवार को लघु सचिवालय के सभागार में जिला संकट समन्वय समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचने का एक ही उपाय है कि सभी लोग घरों में बने रहे। सरकार व जिला प्रशासन की ओर से भी लोगों से निरंतर अपील की जा रही है कि कोई भी व्यक्ति अपने घर से बाहर न आए। किसी आपात स्थिति में ही बाहर आने के लिए सरल हरियाणा डाॅट जीओवी डाॅट इन पर मूवमेंट पास के लिए एप्लाई करें तथा मूवमेंट की परमिशन मिलने पर ही बाहर आएं। उन्होंने कहा कि जिला में संबंधित क्षेत्र के एसडीएम अपने एरिया में कुछ ऐसे भवनों को चिन्हित कर लें, जिनमें जरूरत पड़ने पर क्वारेंटाइन सेंटर बनाए जा सकें। अन्य राज्यों की सीमाओं से सटे गांवों व कालोनियों में ठीकरी पहरे लगवाए जाएं, ताकि बाहरी क्षेत्रों से संभावित मूवमेंट न हो सके। उन्होंने कहा कि गांवों व शहरी क्षेत्र में एमएचए की गाइडलाइन अनुसार ही दुकानें खोलने की अनुमति रहेगी। इसके अलावा सरल हरियाणा पोर्टल पर जिन औद्योगिक संस्थानों को अनुमति दी जा रही है, वहीं औद्योगिक इकाइयों को चलने दिया जाए। इसके अलावा अन्य कोई भी औद्यागिक इकाइयां नहीं चलनी चाहिएं। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग आईएलआई के पैसेंट पर अधिक निगरानी रखें। सभी प्राइवेट अस्पतालों, कैमिस्ट दुकानों, आरडब्ल्यूए व पंचायत प्रतिनिधियों से निरंतर आईएलआई पैसेंट के संबंध में सूचना प्राप्त करते रहे तथा बाद में उसकी स्थिति को अवश्यक ट्रैक करते रहें। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागों की ओर से गूगल स्प्रैड फार्म पर प्रतिदिन के आधार पर सूचना अवश्य भेजी जाए, ताकि इस पूरी सूचना को कंपाइल किया जा सके। इस अवसर पर एसडीएम फरीदाबाद अमित कुमार, एसडीएम बल्लबगढ़ त्रिलोकचंद, एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया, सीटीएम बलिना, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी राकेश मोर तथा उप सिविल सर्जन डा. रामभगत सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
-----------------------------------------------------------------------

फरीदाबाद, 27 अप्रैल। उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डा. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 3077 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 1005 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 2072 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 3031 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 2390 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 2299 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 45 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 46 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 9 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा ठीक होने के बाद 37 को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया है।
उन्होंने बताया कि सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया गया है। इसी प्रकार पर्यावरण स्वच्छता और शुद्धीकरण के बारे में सरकारी व निजी विभागों के कर्मचारियों को दैनिक आधार पर प्रशिक्षण दिया जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण की पृष्ठभूमि को देखते हुए आम जनता को सरकार द्वारा स्वास्थ्य संबंधी हिदायतों की अनुपालना करने की सलाह दी जाती है। लोगो को ध्यान रखना चाहिए कि खाँसी व छींकते समय रूमाल या तौलिया का उपयोग अवश्य करें, हाथों को बार-बार साबुन व पानी से धोते रहें। जब तक बहुत जरूरी न हो, घर से बाहर न निकलें। सार्वजनिक स्थलों व सभाओं में जाने से बचें। जिन लोगों ने हाल ही में कोरोना प्रभावित देशों की यात्रा की है, उन्हें राष्ट्रीय, राज्य या जिला हेल्पलाइन नंबरों पर सूचना देनी चाहिए, उन्हें भारत में आगमन की तारीख से 28 दिनों के लिए सभी से अलग रहना है और किसी से भी स्पर्श करने से बचना है, भले ही उसमें कोई लक्षण न हों

No comments

Powered by Blogger.