स्वास्थ्य विभाग की टीमें प्रत्येक घर को कवर करेंगी, परिवार के सभी सदस्यों की खांसी, जुकाम व बुखार से संबंधित डिटेल लेंगी

फरीदाबाद(Abtaknews.com)7अप्रैल,2020:मंडल आयुक्त संजय जून ने कहा कि कोरोना वायरस कोविड-19 के संभावित संक्रमण से बचने के लिए जिला प्रशासन हर जरूरी कदम उठा रहा है। अब स्वास्थ्य विभाग की टीमें प्रत्येक घर को कवर करेंगी तथा परिवार के सभी सदस्यों की खांसीजुकाम व बुखार से संबंधित डिटेल कलैक्ट करेंगी। ये टीमें प्रत्येक घर में जाकर उसके परिवार के सदस्यों की फोरन ट्रैवल हिस्ट्री व उनके संपर्क में रहने वाले लोगों का भी डाटा कलैक्ट करेंगे।
मंडलायुक्त संजय जून मंगलवार को लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में जिला प्रशासनएमसीएफ व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कोरोना से बचाव के संबंध में किए जा रहे कार्यों के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद के सभी हाउसहोल्ड स्वास्थ्य विभाग की टीमों का सहयोग करें तथा उन्हें पूर्ण व सही जानकारी उपलब्ध करवाएं। जिला प्रशासन के पास जब सभी लोगों का डाटा इक्ट्ठा हो जाएगा तो उन्हें आगे जरूरी कार्यवाही करने में आसानी हो होगी। ये टीमें मरीजों का फाओअप भी लेंगी तथा उन्हें जरूरी चिकित्सीय सलाह भी दंेगी। इसी प्रकार जिला में सभी सरकारी व निजी एंबुलेंस गाड़ियों का डाटा तैयार कर लेंताकि आवश्यकता पड़ने पर उनका उपयोग किया जा सके। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के पाॅजिटिव मामलोें को सौ फीसदी आईसोलेशन पर रखा जाए। उन्होंने जिला में उपलब्ध दवाथर्मल स्कैनर व अन्य चिकित्सा सुविधाओं की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सभी नागरिक लाॅक डाउन के नियमों की पालना करें और अपने घरों में ही बने रहें।
उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला में प्रत्येक हाउसहोल्ड को कवर करने के लिए 2 हजार 313 टीमें फील्ड में कार्य करेंगी। इसके अलावा करीब 187 मोबाइल टीमें भी अलग से कार्य करेंगीजो झुग्गियोंईंट-भट्ठों व निर्माण स्थलों पर रहने वाले परिवारों को कवर करेंगी। इस कार्य के लिए करीब छह टीमों के उपर एक सुपरवाइजर होगा। इस कार्य को जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह सर्वे का कार्य एएनएमआशा वर्कर व आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा किया जाएगा। इसके अलावा अगर अन्य स्टाफ की आवश्यकता पड़ेगी तो जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग को मेन पावर उपलब्ध कराएगा। उन्होंने बताया कि लोगों के स्वास्थ्य व सुरक्षा के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए गए हैं तथा इसके लिए अलग से हैल्थ कंट्रोल रूम बनाया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में सरपंचपंचनंबरदारमेंबर और चैकीदार आदि इस कार्य में सहयोग करेंगे। इस अवसर पर एमसीएफ कमिश्नर डा. यश गर्गएचएसवीपी प्रशासक प्रदीप दहियाअतिरिक्त उपायुक्त रामकुमार सिंहएमसीएफ के ज्वाइंट कमिश्नर धर्मेन्द्र सिंहसतबीर मानएसडीएम अमित कुमारएसडीएम त्रिलोक चंदएसडीएम पंकज सेतिया सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे ।
 ----------------------------------------------
फरीदाबाद, 7 अप्रैल। उपायुक्त यशपाल ने बताया कि लाॅकडाउन के दौरान जिला में जरूरतमंद परिवारों व प्रवासी लोगों को नियमित रूप से दोनों समय का भोजन दिया जा रहा है। शहर के सभी 40 वार्डों में अधिकारियोंपार्षदों व वालिंटियर के सहयोग से जरूरतमंद परिवारों की तैयार सूची वाले लोगों को पके भोजन के पैकेट वितरित  किये जा रहें हैं। इसके अलावा जिला प्रशासन द्वारा जरूरतमंद परिवारों को खाद्य सामग्री भी प्रतिदिन वितरित की जा रही हैजिसमें आटादालचावलतेल व मसाले आदि शामिल हैं।
उन्होंने बताया कि रेडक्रास द्वारा अब तक 16 हजार 500 फूड पैकेट्स वितरित किए गए हैं। इसी प्रकार एनजीओ की ओर से अब तक 4 लाख एक हजार 780 पके भोजन के पैकेट वितरित किए गए हैं। इसी प्रकार अब तक 11 हजार 556 परिवारों को सूखा राशन दिया गया है। उन्होंने बताया कि लॉक डाउन की स्थिति से निपटने के लिए जिला प्रशासन द्वारा कारगर योजना तैयार करके हर जरूरतमंद व्यक्ति की मदद की जा रही हैं। इसके लिए सभी वार्डों मे एक-एक अधिकारी की डयूटी लगाई गई है। उन्होंने बताया कि जिला में बनाए गए रिलीफ सेंटरों में 224 व्यक्ति ठहरे हुए हैंजिन्हें सुबह का नाश्तादोपहर और शाम का भोजन दिया जा रहा है। उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जन वितरण प्रणाली के तहत डिपो होल्डर द्वारा भी राशन वितरण किया जा रहा है। उपमंडल फरीदाबाद के एसडीएम अमित कुमारबङखल के एसडीएम पंकज सेतिया और बल्लभगढ़ के एसडीएम त्रिलोक चंद सहित खाद्य आपूर्ति नियंत्रण विभाग के अधिकारियों को जनवितरण प्रणाली के तहत चैकिंग की जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने बताया कि प्रशासन द्वारा खाद्य सामग्री के पैकेट तैयार करवाए जा रहे हैंपैकिंग का काम जारी है। सभी वार्डों में राशन भिजवाया जा रहा है ।

No comments

Powered by Blogger.