प्रत्येक दिन करीबन चार लाख मीट्रिक टन की औसतन से खरीदी जा रही किसानों की गेहूं:दुष्यंत चौटाला

चंडीगढ़(Abtaknews.com)30अप्रैल,2020:प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने प्रदेशभर की मंडियों में मौजूदा फसल खरीद प्रक्रिया को देखते हुए 15 मई2020 तक फसल खरीद कार्यों को संपन्न करने की उम्मीद जताई है। वे जननायक जनता पार्टी के हलका प्रधानों के साथ दूसरे चरण की ऑनलाइन बैठक करके उनके विधानसभा क्षेत्रों में किसानों की फसल खरीद प्रक्रिया व कोरोना महामारी संबंधित मौजूदा हालतों का जायजा ले रहे थे। बैठक में उन्होंने बताया कि सरकार प्रदेशभर की मंडियों में से प्रत्येक दिन करीबन चार लाख मीट्रिक टन की औसतन से किसानों की गेहूं की फसल की खरीद कर रही है। उन्होंने बताया कि 29 अप्रैल तक मंडियों में करीब 30 लाख मीट्रिक टन गेहूं और लगभग तीन लाख मीट्रिक टन सरसों की खरीद की जा चुकी है। साथ ही उन्होंने सभी से आग्रह भी किया कि वे छोटे किसानों की चिंता करते हुए बड़े किसानों से मंडियों में गेहूं देरी से लाने के लिए अपील करें।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि शुरुआती दिनों में जरूर व्यवस्था स्थापित करने में थोड़ी बहुत समस्याएं आई थी लेकिन सरकार ने तुरंत किसानों व आढ़तियों से बातचीत करके उन समस्याओं का हल किया और फसल खरीद में तेजी लाई। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को देखते हुए सरकार ने जो उचित व्यवस्था स्थापित की थी उसके अनुसार 30 दिनों में फसल खरीद प्रक्रिया को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था और उसे 15 मई तक किसान व आढ़ती भाईयों के सहयोग से पूरा किया जायेगा। बैठक में दुष्यंत चौटाला ने प्रदेश के बड़े किसानों एवं पार्टी के पदाधिकारियों से आग्रह किया कि वे छोटे किसानों की चिंता करते हुए उन्हें पहले अपनी फसल बेचने का अवसर दें ताकि जो छोटे किसान अपनी फसल को स्टोर नहीं कर सकतेउन्हें परेशानी ना हो।

बैठक में रोहतक जिले से एक हलका प्रधान द्वारा कई गांवों के लिए दो नए फसल खरीद केंद्र बनाने की मांग पर बोलते हुए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार ने पिछले साल से चार गुणा अधिक मंडियों को प्रदेशभर में स्थापित किया है। उन्होंने आगे उन्हें आश्वत करते हुए कहा कि सरकार अब भी किसानों व आढ़तियों की जरूरत व मांग अनुसार नए परचेज सेंटर बना रही है। उन्होंने कहा कि मंडियों में आने वाले किसानों व आढ़तियों को जो भी समस्या आ रही है उसे पदाधिकारी सरकार को बताने का काम करें ताकि उनका तुरंत हल किया जा सके। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इसी मकसद वे रोजाना पार्टी के पदाधिकारियों से जुड़कर फसल खरीद का जायजा ले रहे है ताकि किसानों व आढ़तियों को किसी प्रकार की कोई समस्या न आएं।  

वहीं नूंह जिले के हलका प्रधानों से बातचीत करते हुए सबसे पहले दुष्यंत चौटाला ने उन्हें व प्रदेशवासियों को रमजान का पवित्र  महीना शुरू होने पर मुबारकबाद दी और सभी के अच्छे स्वास्थ्य की कामना की। बैठक में वहां के हलका प्रधानों ने मांग की कि माह-ए-पाक रमजान पर रोजा रख रहे लोगों के लिए प्रशासन द्वारा फलसब्जी सहित अन्य आवश्यक वस्तुओं की ज्यादा से ज्यादा आपूर्ति की जाए। जिसपरउपमुख्यमंत्री ने उन्हें आश्वत किया कि वे जिला प्रशासन से बातचीत करके जल्द नूंह में फल-सब्जियों के साथ-साथ अन्य आवश्यक समानों की आपूर्ति पूरी करवा देंगे। साथ ही हलका प्रधानों ने बताया कि नूंह की मंडियों में फसल खरीद की उचित व्यवस्था है और किसान निरंतर अपनी फसल मड़ी में आकर बेच रहे है। इसके साथ-साथ जिले में कोरोना से सक्रंमित पाए गए लोग भी स्वस्थ होकर घर लौट रहे है।

बैठक में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने जेजेपी पदाधिकारियों से अपील की कि वे कोरोना महामारी से खुद को बचाते हुए प्रदेश के नागरिगों को जागरूक करें। साथ ही उन्होंने कहा कि सभी जेजेपी नेता इस संकट के समय में किसानोंजरूरतमंदों की सहायता करने के लिए हर समय तत्पर रहे। इस बैठक में उन्होंने 30 से ज्यादा पार्टी के हलका प्रधानों से बातचीत की। इस दौरान पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंहपार्टी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव डॉ. केसी बांगड़ व प्रदेश कार्यालय सचिव रणधीर सिंह समेत पार्टी के कई वरिष्ठ पदाधिकारी भी मौजूद रहे। बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने हलका प्रधानों को फसल खरीद प्रक्रिया में किसानों व आढ़तियों की कैसे सहायता करनी हैउस बारे दिशा-निर्देश दिए।

No comments

Powered by Blogger.