Thursday, April 23, 2020

पार्टी नेताओं के साथ ऑनलाइन बैठक कर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने जाना फसल खरीद प्रक्रिया का हाल

चंडीगढ़(abtaknews.com)23अप्रैल,2020:कई जगहों पर मंडी में एक किसान एक दिन में करीब 190 क्विंटल तक गेंहू भी लेकर आ रहा है और सरकार खरीद पर बिना किसी शर्त उसे खरीद रही है। किसानों की फसल का एक-एक दाना खरीदने के लिए सभी प्रशासनिक अधिकारी अपना अहम योगदान दे रहे है। ये जानकारी आज उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने दी। वे चंडीगढ़ स्थित अपने आवास से पार्टी से जुड़े विधायकों, पूर्व विधायकों, जिला प्रधानों एवं वरिष्ठ नेताओं के साथ एक ऑनलाइन बैठक कर रहे थे। इस बैठक में राज्यमंत्री अनूप धानक, पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह, राष्ट्रीय प्रधान महासचिव डॉ. केसी बांगड़, प्रदेश कार्यालय सचिव रणधीर सिंह आदि मौजूद रहे। बैठक में मंडियों में किसानों की फसल खरीद, कोरोना महामारी आदि कई विषयों पर चर्चा हुई, जिसमें पार्टी पदाधिकारियों ने उपमुख्यमंत्री को अपने क्षेत्र संबंधित रिपोर्ट दी।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने पार्टी नेताओं के साथ चर्चा करते हुए बताया कि मंडी में किसानों व आढ़तियों को कोई समस्या न आए इसके लिए सरकार ने उचित व्यवस्था स्थापित कर रखी है। उन्होंने कहा कि सरकार तेजी के साथ किसानों से गेहूं खरीद रही है। उन्होंने कहा कि अंबाला जिले में तो एक किसान 190 क्विंटल तक गेहूं एक साथ मंडी में बेच कर गया। उन्होंने अपने उचाना कलां हलके के बारे में बताया कि वहां मंडियों में पुलिस के जवान भी किसानों की फसल खरीद करवाने में लगे हुए हैजो कि सराहनीय है।दुष्यंत चौटाला ने कहा कि वे मेरी फसल मेरा ब्यौरा” पोर्टल पर नजर रखते हुए रोजाना कितने किसान मंडी में आ रहे है, , मंडियों में आने वाले किसानों की समस्याओं आदि को मॉनिटर कर रहे है। उन्होंने आश्वत किया कि किसानों को फसल खरीद में किसी प्रकार की कोई समस्या किसानों व आढ़तियों को नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पार्टी पदाधिकारी भी खरीद प्रक्रिया पूरी न होने तक किसानों व आढ़तियों से जुड़कर उनकी मदद करें।

बैठक में जेजेपी प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान ने फसल खरीद पर विपक्ष द्वारा फैलाये जा रहे झूठे प्रचार की निंदा की। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के बावजूद प्रदेश सरकार बेहतर खरीद प्रणाली के माध्यम से किसानों की फसल खरीद रही है लेकिन विपक्ष इस संकट के समय में किसानों को भ्रमित करके अपनी किसान विरोधी नीतियों को दर्शा रहा हैजो कि निंदनीय है।
 पार्टी के विधायक ईश्वर सिंह ने बताया कि गुहला विधानसभा में सभी जगहों पर गेहूं व सरसों की खरीद बेहतर तरीके से हो रही है और कहीं हड़ताल भी नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि वे निरंतर मंडियों में आढ़तियों व किसानों के साथ उनकी समस्याएं जानने के लिए जुड़े हुए है। बैठक में दुष्यंत चौटाला ने ये भी स्पष्ट कि सीमावर्ती राज्यों से गेहूं बेचने के लिए क्या कोई किसान हरियाणा में आ रहे है। जिसपर विधायक ईश्वर सिंह ने बताया कि इस बार पंजाब से कोई भी किसान यहां मंडी में नहीं आए।बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ. केसी बांगड़ ने मंडियों में किसानों के लिए गेट पास की संख्या बढ़ाने की मांग की। जिसपरउपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने आश्वत किया कि सरकार कोरोना महामारी की स्थिति को मॉनिटर करते हुए क्रमवद्ध तरीके से किसानों के लिए गेट पास की संख्या को निरंतर बढ़ाएगी।

अंबालाकुरुक्षेत्र जिले के जेजेपी जिला अध्यक्षों ने अपने क्षेत्र से जुड़ी समस्या बताते हुए कहा कि कई मंडियों में गेहूं की लिफ्टिंग में परेशानी आ रही है। जिसपरउपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कोरोना महामारी के मद्देनजर सामाजिक दूरी की पालना करना बहुत जरूरी है इसलिए एक साथ मंडी में ज्यादा श्रमिकों को नहीं लगाया जा सकता लेकिन इसका भी हल निकाला जाएगा।
 महेंद्रगढ़ जिले के बारे में बताते हुए पूर्व सीपीएस अनीता यादव ने कहा कि जिले में गेहूं की फसल खरीद में कोई समस्या नहीं आ रही है लेकिन शुरू में एक-दो गांवों में खरीद के लिए परचेज सेंटर सही जगहों पर स्थापित नहीं थे और उन्हें अब सही करवा दिया गया है। बैठक में उन्होंने ये भी बताया कि जिले के किसान कोरोना महामारी के प्रकोप को देखते हुए अपनी फसल को जून माह तक घर पर ही स्टोर कर रहे है।  
 बैठक में पार्टी से जुड़े पूर्व विधायकों ने उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को विश्वास दिलाया कि पार्टी के जुड़े सभी 27 पूर्व विधायकों ने अपनी एक माह की पेंशन मुख्यमंत्री कोरोना राहत कोष में देने का काम किया है और वे आगे भी हरसंभव मदद के लिए सरकार के साथ खड़े है।
Attachments area

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages