करनाल में शुरू की गई ‘एडॉप्ट ए फैमिली’ संस्थाओं ने 15 हजार परिवारों को लिया गोद

चंडीगढ़(abtaknews.com)10 अप्रैल,2020: हरियाणा में कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन के दौरान गरीब व जरूरतमंद लोगों की सुविधा के लिए जिला करनाल में शुरू की गई एडॉप्ट ए फैमिली’ यानी एक परिवार गोद लेने की अनूठी योजना के प्रति लोगों एवं समाज सेवी संस्थाओं ने गहरी रूचि दिखाते हुए लगभग 15 हजार परिवारों को गोद लिया है।
एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि करनाल के उपायुक्त की पहल पर शुरू की गई इस योजना की केन्द्रीय स्वास्थ्य विभाग ने भी प्रशंसा की है। इस योजना के लिए अब तक  लगभग 69 लाख रुपये की राशि जमा हो चुकी है।प्रवक्ता ने बताया कि इस योजना के तहत जिले के करीब 400 लोगों ने गरीब एवं जरूरतमंद परिवारों को गोद लिया है और उन्हें जरूरी कच्चा सामान उपलब्ध करवाया है।  योजना के अनुसार इन परिवारों को प्रति सप्ताह के लिए जरूरी राशनजिसमें चावलआटादालआलूखाना पकाने का तेलचीनीसूखा दूध जैसी जरूरी खाद्य वस्तुएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। प्रशासन की इस योजना से जहां इन गरीब परिवारों को घर बैठे जरूरी राशन मिल रहा हैवहीं लॉकडाउन का भी दृढ़ता से पालन हो रहा है।
उन्होंने बताया कि एडॉप्ट ए फैमिली’ योजना का हर जरूरतमंद को लाभ मिलेइसके लिए करनाल शहर के 20 वार्डों में 20 टीम बनाई गई हैं और इन टीमों में वार्ड के अनुसार शहर के पांच गणमान्य सदस्यों को शामिल किया गया है। इन सदस्यों द्वारा चिह्निïत किए जा रहे जरूरतमंद परिवारों को राशन किट बनाकर घर-घर दी जा रही है। उन्होंने कहा कि योजना के तहत कुछ समाज सेवी संस्थाओं ने 100 से अधिक परिवारों को भी गोद लिया है और यह सिलसिला लगातार जारी है।
उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्तगैर सरकारी संगठनों एवं सरकारी टीमों के सहयोग से भी कच्चा राशन जरूरतमंद लोगों के घर-घर पहुंचाया जा रहा हैजिनमें दैनिक वेतन भोगीआश्रयहीन व्यक्तिनिर्माण कार्य में लगे मजदूररिक्शाचालक तथा भिखारी आदि शामिल हैं। उन्होंने बताया कि योजना के लिए जिला स्तर पर रिलीफ फंड बनाया हैजिसका बैंक खाता नम्बर-4137000100112736, आईएफएससी कोड-पीयूएनबी 0413700, शाखा पंजाब नैशनल बैंक कुंजपुरा रोड़ करनाल है।  कोई भी दानी एडॉप्ट ए फैमिली’ योजना में सहयोग देने के लिए इस बैंक खाते में राशि जमा करा सकता है। एडॉप्ट ए फैमिली’ योजना के तहतप्रति परिवार प्रति सप्ताह 500 रुपये या 1000 एवं 1500 रुपये की सहायता प्रति परिवार क्रमश: दो-तीन सप्ताह के लिए दी जा सकती है जो 21 दिन के पूर्ण लॉक डाउन की अवधि के लिए है। उन्होंने बताया कि जो लोग कोविड-19 में आर्थिक रूप से प्रभावित हुए हैउनके  सहयोग के लिए करनाल के नागरिकों को नीड यूअर हेल्प’ यानी आपकी मदद की जरूरत हैकी भी अपील की गई है। 
उन्होंने बताया कि 10 या इससे ज्यादा परिवारों को गोद लेने वाले लोगों को जिला प्रशासन की ओर से प्रशंसा पत्र दिया जाएगा तथा जो व्यक्ति 20 या 20 से ज्यादा परिवारों को गोद लेगाउसे उपायुक्त अपने कार्यालय में बुलाकर सम्मानित करेंगे।

No comments

Powered by Blogger.