Thursday, March 12, 2020

हरियाणा की जेलों में बंदियों के हुनर व कौशल विकास के लिए धुन प्रोजैक्ट शुरू : विजय वर्धन

फरीदाबाद(Abtaknews.com)12 मार्च,2020:  गृह एवं जेल विभाग हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव विजय वर्धन ने कहा कि जेलों में बंदियों के हुनर व कौशल विकास के लिए धुन प्रोजैक्ट शुरू किया गया है। अभी तक यह प्रोजेक्ट रोहतक, गुरूग्राम व अंबाला जेल में शुरू किया गया था, लेकिन अब इसकी शुरुआत प्रदेश के अन्य जिलों की जेलों में भी की जाएगी।
अतिरिक्त मुख्य सचिव वीरवार को जिला कारागार में अंतर जेल संगीत प्रतियोगिता के विजेता प्रतिभागियों को सम्मानित करने के बाद उन्हें संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जीवन में किसी भी परिस्थिति मेें ना उम्मीद नहीं होना चाहिए। जीवन में कई बार उतार-चढ़ाव आते हैं तथा विपरीत परिस्थितियों के कारण ही उसे जेल जाना पड़ जाता है। इसे ईश्वर की परीक्षा की घड़ी समझते हुए धैर्य व शांति के साथ आगे बढ़े। स्वयं में सकारात्मक परिवर्तन लाने का प्रयास करें तथा अच्छा नागरिक बनकर देश व समाज की भलाई के लिए कार्य करें। केवल स्वयं के बारे में न सोचें, बल्कि अपने अंदर रोशनी जलाएं तथा उसके प्रकाश से और लोगों को जीवन भी बेहतर बनाने का प्रयास करें। अपने जीवन में बुराइयों का पूरी तरह से त्याग कर दें। उन्होंने कहा कि जेलों में टैलेंट की कमी नहीं है। धुन प्रोजैक्ट के माध्यम से इंडिया विजन फाउंडेशन एनजीओ तथा सोनी पिक्चर इंडिया लिमिटेड के संयुक्त प्रयास से कैदियों को संगीत का हुनर दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जेलों में सभी आवश्यक सुविधाएं दी जा रही हैं ताकि किसी को कोई दिक्कत न हो। इस अवसर पर उन्होंने कैदियों से मुलाकात कर उनका हालचाल भी जाना।
जेल विभाग के महानिदेशक के. सेल्वराज ने कहा कि आईवीएफ व सोनी पिक्चर की ओर से बंदियों के हुनर निखारने का सराहनीय प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने सभी प्रतिभागियों को उनकी प्रतिभा के लिए बधाई भी दी।
जेल अधीक्षक संजीव बुधवार ने बताया कि अंतर-जेल संगीत प्रतियोगिता में अंबाला, रोहतक और गुरुग्राम के जेल कैदियों ने भाग लिया। इन कैदियों को डीएचयूएन नामक एक परियोजना के माध्यम से संगीत की कला में प्रशिक्षित किया गया है। प्रत्येक जेल से 25 कैदियों ने मुखर और वाद्य सीखने के माध्यम से सूफी, कव्वाली, लोक और पश्चिमी जैसे विभिन्न संगीत शैलियों में अपनी प्रतिभा और कौशल का प्रदर्शन किया। साथ ही जींद और गुरुग्राम के जेल वार्डन ने भी कार्यक्रम में प्रदर्शन किया। रोहतक जेल के प्रतिभागियों ने ओवरआल ट्राफी जीती तथा दूसरे नंबर पर अंबाला तथा तीसरे स्थान पर गुरुग्राम जेल के प्रतिभागी रहे।
 इस अवसर पर डीसीपी हैड क्वार्टर अर्पित जैन, गुरुग्राम जेल अधीक्षक जय किशन छिल्लर, सेंट्रल जेल अंबाला के अधीक्षक लखबीर सिंह, रोहतक जेल के अधीक्षक सुनील सांगवान, इंडिया विजन फाउंडेशन की निदेशक मोनिका धवन व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
‐---‐-------------------------------------------------------------------------------------------
फरीदाबाद, 12 मार्चराजपुताना राइफल्स दिल्ली छावनी-10 की ओर से यूनिट हैडक्वार्टर कोर्ट के सिपाही जनरल ड्यूटी, सिपाही ट्रेडमैन, सिपाही ट्रेडमैन सैनिक म्यूजिशियन पदों की भर्ती 15 अप्रैल से 24 अप्रैल 2020 तक होगी। इस भर्ती में सैन्य सेवारत, सैन्य सेवानिवृत जवानों के योग्य बच्चे व भाई भाग ले सकते हैं। इसमें हरियाणा, उत्तरप्रदेश व राजस्थान प्रदेश के मूल निवासी व भारतीय समस्त जातियों के योग्य युवा उमीदवार भाग ले सकते हैं। सिपाही ट्रेडमैन सैनिक म्यूजिशियन पदों के लिए सभी राज्य के समस्त जातियों के योग्य उमीदवारों इस खुली भर्ती में भाग ले सकते हैं।
जिला सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण विभाग के अध्यक्ष तथा उपायुक्त अमित खत्री ने बताया कि सिपाही जनरल ड्यूटी के लिए उम्मीदवार की आयु 17 वर्ष 6 महीने से कम व 21 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए तथा उसकी शिक्षा दसवीं कक्षा 45 प्रतिशत अंकों से उत्तीर्ण होना अनिवार्य है व प्रत्येक विषय में 33 प्रतिशत से कम अंक न हो। उन्होंने बताया कि सिपाही ट्रेडमैन हाउस कीनर व मैस कीपर के लिए उम्मीदवार 8वीं कक्षा उत्तीर्ण हो तथा उसके प्रत्येक विषय में 33 प्रतिशत से कम अंक न हों। इसी प्रकार सिपाही ट्रेडमैन सैनिक म्यूजिशियन के लिए उम्मीदवार 10वीं कक्षा में उत्तीर्ण हो तथा उसके प्रत्येक विषय में 33 प्रतिशत से कम अंक न हों। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए जिला सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण कार्यालय, सेक्टर-16, फरीदाबाद के दूरभाष नंबर 0129-4871909 पर भी संपर्क किया जा सकता है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages