Thursday, March 19, 2020

करनाल का सिरसी गांव पहला लाल डोरा मुक्त घोषित,हरियाणा के 75 गांव शीघ्र होंगे लाल डोरामुक्त

चंडीगढ़(Abtaknews.com)19 मार्च, 2020: हरियाणा के 15 जिलों के पांच-पांच गांवों और तीन शहरों नामत: सोनीपतजींद और करनाल में ड्रोनस के माध्यम से किए जा रहे बड़े पैमाने के मानचित्रण के कार्य के  दायरे का विस्तार करते हुए राज्य सरकार ने इस कार्य को चरणबद्ध तरीके से सभी गांवों में करने का निर्णय लिया है। करनाल जिले का सिरसी गांव पहला ऐसा गांव है जिसे लाल डोरा मुक्त घोषित किया गया है। सिरसी गांव के बाद अब अगले 75 गांवों को शीघ्र ही लाल डोरा मुक्त घोषित किया जाएगा।
          इस आशय का निर्णय राज्य में सर्वे ऑफ इंडिया के माध्यम से राज्य की भू-संपत्तियों और अन्य विशेषताओं की कि जा रही मैपिंग की परियोजना की समीक्षा करने के लिए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में आज यहां हुई एक बैठक में लिया गया। बैठक में उप-मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला भी उपस्थित थे।
          इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने पब्लिक डॉमेन में प्रकाशन के लिए हरियाणा के पांच मीटर के अंतराल पर कान्टुर मानचित्रों को भी जारी कियाजिसे हरियाणा अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्रविज्ञान और प्रौद्योगिकी विभागहरियाणा द्वारा तैयार किया गया है। इतने बड़े अंतराल पर ये कान्टुर ग्रामीण स्तर की जानकारी प्रदान करेंगेजिससे जल शक्ति अभियानवाटरशेड प्रबंधनजल संरक्षण गतिविधियों और जल निकासी कार्यों जैसे विभिन्न सरकारी कार्यक्रमों के सफल कार्यान्वयन को सम्भव किया जा सकेगा।
          मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि सिरसी गांव के कुल क्षेत्र को आबादी-देहसरकारी भूमि और कृषि भूमि के तहत  संकलित और मिलान किया जाए और यदि कोई अंतर पाया जाता हैतो इसे ठीक किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सीमांकन के अलावाभू-शीर्षक भी बनाया जाना चाहिए ताकि भूमि के स्वामित्व की पहचान की जा सके। उन्होंने अंतरराज्यीय सीमा के पार ड्रोन का उपयोग करके राज्य की सीमा का मानचित्रण करने का भी निर्देश दिया।
         बैठक में बताया गया कि 15 जिलों के 75 गांवों में ड्रोन का उपयोग करते हुए डाटा अधिग्रहण का कार्य पूरा हो चुका हैजबकि करनाल और सोनीपत जिलों में डाटा अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है।
       यह भी बताया गया कि जिला सोनीपत में तीन गांवोंपंचकूला एवं करनाल में पांच-पांच गांवोंसिरसा एवं पानीपत में चार-चार गांवों और जिला फरीदाबाद में पांच गांवों के लिए आबादी-देह (लाल डोरा) का प्रारंभिक आधार नक्शा तैयार और मुद्रित किया जा चुका है। ये 26 गांव सात दिनों के भीतर आपत्तियां या सुझाव आमंत्रित करने और इस तरह की आपत्तियों के समाधान या निपटान के लिए तैयार हैं। जिला विकास और पंचायत अधिकारी को अबादी-देह क्षेत्र से संबंधित गतिविधियों के लिए नोडल अधिकारी के रूप में नामित किया जाएगा। इसके अलावाशहरी स्थानीय निकाय विभाग द्वारा शहरी क्षेत्रों के लिए दी जाने वाली आईडी की तर्ज पर ही आबादी-देह में प्रत्येक संपत्ति या भूमि को यूनिक आईडी प्रदान की जाएगी। इस संबंध में विकास और पंचायत विभाग द्वारा आवश्यक निर्देश जारी किए गए हैं।
          इससे पूर्वमुख्यमंत्री ने जिला करनाल के सिरसी गांव को लाल डोरा मुक्त बनाने में सर्वे ऑफ इंडिया की टीम के उत्कृष्ट योगदान के लिए उन्हें एक लाख रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की।
          बैठक में मुख्य सचिव श्रीमती किशनी आनंद अरोड़ामुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव श्री वी.उमाशंकरराजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री धनपत सिंहविज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री अमित झाशहरी स्थानीय निकाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री एस.एन रॉयविकास और पंचायत विभाग के प्रधान सचिव श्री सुधीर राजपालनगर एवं ग्राम आयोजन विभाग के प्रधान सचिव श्री ए के सिंहराजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव श्री विजयेंद्र कुमारपंचकूला के उपायुक्त श्री मुकेश कुमार आहूजासर्वे जनरल ऑफ इण्डिया लेफ्टिनेंट जनरल गिरीश कुमार और राज्य सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
-------------------------------------------------------------
चंडीगढ़19 मार्च- हरियाणा के सरकारी व प्राइवेट सभी स्कूलों में कार्यरत शैक्षणिक व गैर-शैक्षणिक स्टॉफ भी अब घर बैठकर ही कार्य करेगा।
         एक सरकारी प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि हरियाणा के स्कूल शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव डॉ. महावीर सिंह द्वारा जारी आदेशों में कहा गया है कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि प्रदेश के सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूल आगामी 31 मार्च 2020 तक पूर्ण रूप से बंद रहेंगे। उन्होंने बताया कि अब शैक्षणिक व गैर-शैक्षणिक स्टॉफ भी आगामी आदेशों तक घर से ही मूल्यांकन व अन्य कार्य करेंगे।
‐--------------------------------------------------------‐------------
चंडीगढ़19 मार्च - हरियाणा पुलिस ने मध्यप्रदेश पुलिस की मोस्टवांटेड लिस्ट में शामिल 50,000 रुपये के ईनामी अपराधी को पलवल जिले से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।
         पुलिस ने आरोपी के कब्जे से एक देसी पिस्तौल और तीन जिंदा कारतूस भी बरामद किए गए हैं। आरोपी पर मध्यप्रदेश पुलिस द्वारा 50,000 रुपये का इनाम रखा हुआ है।
         हरियाणा पुलिस के प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार आरोपी की पहचान घाघौट निवासी यासीन के रूप में हुई है। उसे पलवल पुलिस की एक टीम ने पलवल में बीघावली अड्डा के पास से गुप्त सूचना के बाद काबू किया गया है।
         प्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ कि गिरफ्तार आरोपीजो मध्य प्रदेश और फरीदाबाद में कई मामलों में शामिल रहा हैएटीएम धोखाधड़ी करने में माहिर है। आरोपी के कबूलनामे और पूछताछ के आधार पर उम्मीद है कि और भी कई मामलों का खुलासा हो सकता है।
         आरोपी के खिलाफ आम्र्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। उसे अदालत में पेश किया गया जहां से उसे हिरासत में भेज दिया गया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages