Header Ads

Header ADS

गणतंत्र दिवस समारोह को लेकर हरियाणा पुलिस द्वारा राज्य भर में किए गए सुरक्षा के कडे़ इंतजाम

चंडीगढ़(Abtaknews.com)24 जनवरी, 2020: हरियाणा पुलिस द्वारा राज्य भर में मनाए जाने वाले गणतंत्र दिवस समारोह को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा के कडे़ इंतजाम किए गए हैं।यह जानकारी देते हुए अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) श्री नवदीप सिंह विर्क ने बताया कि सभी पुलिस आयुक्तों और जिला पुलिस अधीक्षकों को 26 जनवरी को होने वाले ध्वजारोहण व अन्य समारोहों के लिए सभी स्थानों पर उचित सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। पुलिस ने किसी प्रकार की अप्रिय घटना को रोकने के लिए अतिरिक्त बल की तैनाती की है।
श्री विर्क ने कहा कि गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस द्वारा संवेदनशील स्थानों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। साथ ही सुरक्षा बल लावारिस सामान, वाहनों के साथ-साथ संदिग्ध व्यक्तियों पर भी कड़ी नजर रख रहे हैं। पूरे राज्य में पुलिस गश्त बढा दी गई है और पुलिस दलों को रात की पैट्रोलिंग के दौरान विशेष सतर्क रहने को कहा गया है। राज्य में ट्रेनों और सार्वजनिक परिवहन के अन्य साधनों की भी विशेष जाँच की जा रही है।
उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा व्यस्त बाजारोंबस स्टैंडरेलवे स्टेशनहोटल और गेस्ट हाउस जैसे स्थानों पर विशेष नजर रखी जा रही है। जनता की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिस पैट्रोलिंग के अतिरिक्त रात के समय वाहनों की चैकिंग बढा दी गई है। उन्होंने आमजन से आग्रह करते हुए कहा कि वे किसी भी संदिग्ध व्यक्ति या वस्तु की सूचना मिलने पर तुरंत पुलिस से संपर्क करे।    
-----------------------------------

चंडीगढ़, 24 जनवरी- हरियाणा की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमति कमलेश ढांडा ने कहा कि सभ्य समाज की नींव मजबूत करने के लिए बेटियों को शिक्षित करने के साथ उन्हें अन्य गतिविधियों में भी आगे बढाना चाहिए ताकि वे बुलन्दियों को छूकर देश व प्रदेश का नाम रोशन कर सकें। बाल विकास मंत्री कमलेश ढांडा राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर पंचकूला में आयोजित राज्य स्तरीय बेटी बचाओ बेटी पढाओ वॉकथॉन कार्यक्रम को सम्बोधित कर रही थी।
महिला एवं बाल विकास मंत्री ने कहा कि सरकार ने महिलाओं एवं बच्चों के कल्याणार्थ अनेक योजनाएं क्रियान्वित की है। इन योजनाओं का लाभ उठाकर महिलाएं न केवल आत्मनिर्भर हो रही है बल्कि पूर्णरूप से स्वावलम्बी होकर समाज की नींव को मजबूत करने का कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रतिस्र्पधा के युग में महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है लेकिन महिलाओं को ओर ज्यादा अवसर मिलें तो वे विश्वस्तर पर देश का परचम लहराने में अहम योगदान कर सकती है। इसलिए समाज को महिलाओं विशेषकर बेटियों को ओर ज्यादा अवसर प्रदान करने चाहिए।
महिला एंव बाल विकास मंत्री ने कहा कि  वर्ष 2015 में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किए गए बेटी बचाओ बेटी पढाओ कार्यक्रम के समय लिंगानुपात 830 होता था जो वर्तमान 2020 में बढकर 923 हो गया है। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से महिलाओं के लिए एक ही छत के नीचे वन स्टॉप सेंटर चलाए जा रहे हैं तथा घरेलू हिंसा से पीडि़तों की मदद की जा रही है। महिलाओं के लिए 1081 हैल्पलाईन भी क्रियान्वित की जा रही है।श्रीमति ढांडा ने कहा कि खेल एवं शिक्षा के क्षेत्र में प्रदेश की महिलाओं ने अभूतपूर्व उपलब्धियां हासिल की है। इसके अलावा ग्रामखण्डएवं जिला स्तरीय पंचायती राज संस्थाओं में भी महिलाएं अहम भागीदारी निभा रही है।
श्रीमति ढांडा ने इस अवसर पर वार्षिक कलेण्डर  का भी विमोचन किया। उन्होंने महिलाओं में ऋतु चक्र के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों एवं स्वच्छता को लेकर भी एक कलेण्डर जारी किया। उन्होंने महिलाओं की 100 मीटर, 200 मीटर ओर 400 मीटर दौड के विजेता खिलाडिय़ों को क्रमश: 5100, 2100 एवं 1100 रुपए की नकद राशि देकर सम्मानित किया। महिलाओं की दौड मे सारिकासंजनाखुशीदीक्षाशिखामोनिकासुमीआरतीनैंसी शामिल है।कार्यक्रम में सुरक्षित बेटी विषय पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम से प्रभावित होकर महिला एवं बाल विकास मंत्री ने स्वंय नन्ही बालिकाओ का हौसला बढ़ाने के लिए उनके साथ फोटो सैशन किया।
महिला एंव बाल विकास विभाग के निदेशक कैप्टन मनोज कुमार ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस बालिका सप्ताह  के दौरान लगातर 30 जनवरी तक गांवखण्ड एंव जिला स्तर पर कार्यक्रम आयोजित किए जाएगें। इसके दौरान महिलाओं को उनके कानूनी अधिकारों के बारे में जानकारी देने के साथ साथ सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की भी जानकारी भी दी जाएगी।
उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा चलाए जा रहे वन स्टॉप सैंटर में अब तक 6 हजार से अधिक विवादों का निपटारा किया गया है। इसके अलावा 3703 बाल विवाह विवादों का निवारण किया गया है। महिलाओं एवं बालिकाओं के विकास हेतू क्रियान्वित मुख्यमंत्री सुकन्या समृद्वि योजना के तहत 79 लाख 80 हजार रुपए की राशि जमा करवाई जा चुकी है।


No comments

Powered by Blogger.