Wednesday, January 22, 2020

मानव सेवा के लिए रेडक्रॉस से जुडऩे का आह्वान, 1920 में हुई शुरूआत,100 साल पूरे

 
फरीदाबाद(Abtaknews.com)22 जनवरी। राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय एनएच-तीन में हरियाणा राज्य रेडक्रॉस सोसायटी चंडीगढ़ के निर्देशानुसार जिला रेडक्रास सोसायटी फरीदाबाद द्वारा बुधवार को तीन दिवसीय काउंसलर्स शिविर विद्यालय प्राचार्य रविन्द्र कुमार मनचन्दा की अध्यक्षता में आरंभ किया गया। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में जिला राजस्व अधिकारी नरेश जोवल, विशिष्ट अधिकारी के तौर पर जिला रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव विकास कुमार उपस्थित रहे।  शिविर की शुरुआत करते हुए जाने-माने शिक्षाविद् और विश्व विख्यात मोटीवेटर डॉ. एमपी सिंह ने प्रतिभागी अध्यापक काउंसलर्स से कहा कि रेडक्रॉस के काउंसलर बनने का आप को सौभाग्य मिला है। आपको अपने अपने विद्यालय में जाकर रेडक्रॉस की गतिविधियों को प्रोमोट करना है। उन्होंने प्रतिभागी अध्यापकों को बताया कि रेडक्रॉस की स्थापना पार्लियामेंट एक्ट के अंतर्गत 1920 में कि गई थी और हम यह वर्ष रेडक्रॉस के भारत में 100 वर्ष पूरा होने के अवसर पर विशेष आयोजन आयोजित कर भी मना रहे है।         
 डॉ. सिंह ने प्रतिभागियों को बताया कि रेडक्रॉस लगभग 206 देशों में काम कर रही है और भारत में रेडक्रॉस को जिला स्तर से ही है संगठनात्मक स्तर से जोड़ा गया है यहां जूनियर और यूथ रेडक्रॉस तथा सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड के रूप में रेडक्रॉस विद्यालयों व महाविद्यालयों में रेडक्रॉस के सिद्धांतों स्वास्थ्य, सेवा और मित्रता के कार्यान्वयन में लगे हंै इसके अतिरिक्त रक्तदान, प्राथमिक चिकित्सा, विशेष आवश्यकता वाले दिव्यांगों को कृत्रिम अंग और समाज के वंचित एवं आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग की चिकित्सा सहायता आदि अनेक परोपकारी कार्यों में दक्षता से तत्पर हैं। 
मुख्य अतिथि डीआरओ नरेश जोवल ने कहा रेडक्रॉस से जुडऩा अपने आप में बहुत बड़ी बात है। यह गर्व का विषय है कि हम रेडक्रॉस से जुड़ कर मानव सेवा के कार्यों को बढ़ावा देकर मानव जाति के दुखों को कम करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने अध्यापकों को आह्वान किया कि वे अच्छे से रेडक्रॉस के सिद्धांतों और उद्देश्यों को समझ लें ताकि आगे विद्यालयों में बच्चों में इन गुणों को विकसित करने में प्रभावी हो सकें। 
सचिव रेडक्रॉस विकास कुमार ने भी इस प्रशिक्षण शिविर के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। विद्यालय के प्राचार्य रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने पधारे मुख्य अतिथि, सचिव, रिसोर्स पर्सन और प्रतिभागी अध्यापकों का स्वागत और आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस शिविर में डॉ. सिंह आप को रेडक्रॉस के इतिहास, वॉलंटियर्स और काउंसलर्स द्वारा संपादित किए जाने वाले कार्यों के बारे में चर्चा करेंगे। बिजेंद्र सोरोत, बी.बी कथूरिया, रतन सिंह आजाद, दर्शन भाटिया, पुरुषोत्तम सैनी भी विभिन्न विषयों जैसे नशा मुक्ति, रक्तदान, नेत्रदान, अंगदान, आपदा प्रबंधन, रिलीफ एंड रेस्क्यू ऑपरेशन आदि बारे परिचर्चा इस शिविर में की जाएगी। 
उधर पांच दिवसीय जे आर सी शिविर के तीसरे दिन बुधवार को पट्टियां बांधने, रेडक्रॉस वॉलंटियर्स के गुणों तथा देक्लामेशन प्रतियोगिता आयोजित की गई। आज इन दोनों शिविरों में भाग ले रहे 80 छात्रों और 100 से अधिक अध्यापकों के लिए संतोष मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल की ओर से स्वास्थ्य जांच शिविर भी लगाया गया। स्वास्थ्य जांच शिविर में डा. संदीप मल्होत्रा के निर्देशन में उनके साथी डॉक्टरों की टीम ने शिविर आने वाले सभी बच्चों और अध्यापकों के स्वास्थ्य की जांच भी की गई। जिला रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव विकास कुमार ने शिविर के संयोजन के लिए सभी रिसोर्स पर्सन्स विशेष रूप से डॉ. सिंह और विद्यालय प्राचार्य मनचंदा तथा उनके स्टाफ का विशेष रूप से आभार और धन्यवाद प्रकट किया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages