फरीदाबाद में हवन-यज्ञ करके मनाया शहीद राजा नाहर सिंह का 162वां बलिदान दिवस


फरीदाबाद(abtaknews.com) 09 जनवरी, 2020: शहीद राजा नाहर सिंह का 162वां बलिदान दिवस आज सेक्टर-3 स्थित राजा नाहर सिंह पैलेस में मनाया गया। इस अवसर पर हवन-यज्ञ व श्रद्धांजलि सभा का भी आयोजन किया गया। राजा नाहर सिंह के वंशज सुनील तेवतिया, अनिल तेवतिया, वरिष्ठ भाजपा नेता प्रदीप जैलदार, पूर्व विधायक आनंद कौशिक, बलजीत कौशिक, सोहनलाल सैनी सहित सैकड़ों लोगों ने राजा नाहर सिंह की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। वहीं राजा नाहर सिंह के परपौत्र राजा राजकुमार तेवतिया के अस्वस्थ्य होने पर उनके जल्द स्वास्थ्य होने की कामना भी की। इस अवसर पर सभी लोगों ने राजा नाहर सिंह की जीवनी पर प्रकाश डाला और उनके बताए हुए रास्तों पर चलने के लिए कहा। इस मौके पर पूर्व विधायक आनंद कौशिक ने कहा कि शहीद राजा नाहर सिंह एक बहादुर योद्धा थे और अंग्रेज उन्हें आयरन गेट के नाम से पुकारते थे। राजा नाहर सिंह को अंग्रेजों ने धोखे से गिरफ्तार करके दिल्ली के चांदनी चौक पर लाल कुंआ पर फांसी के फंदे पर लटका दिया था। भाजपा नेता प्रदीप जैलदार ने कहा कि राजा नाहर सिंह व उनके सहयोगियों ने मौत को हंसते-हंसते हुए गले लगाया था और आज हम जो आजादी की खुली हवा में सांस ले रहे है, वह नाहर सिंह जैसे योद्धाओं की बदौलत ही है। उन्होंने सरकार से मांग की कि ऐसे योद्धाओं का विवरण स्कूली पाठ्यक्रम में शमिल किया जाए, जिससे कि आने वाली युवा पीढ़ी को उनकी वीरता व कौशल के बारे में जानकारी हासिल हो सके। वहीं उन्होंने कहा कि उनके नाम से एक प्रतिमा बल्लभगढ़ के द्वार पर लगाई जाए और उनके नाम से जगह-जगह शहीद स्मारक भी बनाए जाए। वहीं राजा नाहर सिंह वंशज सुनील तेवतिया व अनिल तेवतिया ने कहा कि राजा नाहर सिंह फरीदाबाद ही नहीं बल्कि पूरे भारत वर्ष के एक महान योद्धा थे, जिन्होंने अंग्रेजी हकूमत से लोहा लेते हुए अपने प्राणों को न्यौछावर कर दिया। ऐसे महान योद्धा को लोगों के दिलों में जिंदा रखने के लिए वह और उनके परिजन इस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित कर उन्हें याद करते है ताकि उनका गौरवशाली इतिहास युवा पीढ़ी सदैव याद रखे। इस अवसर पर जगदीश हुड्डा, अश्वनी कौशिक, सूबेदार पतराम, रणवीर चौधरी, जुल्फीखान मलिक, महेंद्र सांगवान, कुलदीप हुड्डा, जयदेव भट्ट, जयभगवान भारद्वाज, प्रमोद दीक्षित, प्रवीन तेवतिया, सचिन शर्मा, रतनलाल राणा, गौरव तेवतिया, मिश्रा जी, महावीर कलाकार, शंकर नागर, अशोक अत्री, गजेंद्र चौधरी सहित अनेकों लोग मौजूद थे।

No comments

Powered by Blogger.