बोनी पॉलिमर के कर्मचारियों की छटनी किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं

बल्लभगढ(Abtaknews.com)1 दिसंबर, 2019: बोनी पॉलिमर के कर्मचारियों की  छटनी किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। यह निर्णय बल्लभगढ़ के सिटी पार्क में आयोजित पॉलिमर के कर्मचारियों की General Body Meeting में लिया गया।इस बैठक की अध्यक्षता जिला कामगार यूनियन सीटू के उपप्रधान विरेंद्र पाल ने की। जबकि मुख्य वक्ता के रूप में सीटू के उपाध्यक्ष विरेंद्र सिंह डंगवाल उपस्थित रहे। उन्होंने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए सेक्टर 6 स्थित बोनी पॉलीमर के प्रबंधकों पर मजदूरों की जबरन छटनी करने का आरोप लगाया। उन्होंने बताया कि कारखाने के मालिकों ने मजदूरों को पिछले साल की महंगाई भत्ते की किस्त नहीं दी। और  उन्होंने कहा कि रेगुलर मजदूरों को काम से हटाकर कैजुअल मजदूरों की भर्ती की जा रही है। जो कि श्रम कानूनों के नियमों के मुताबिक नहीं  हैं। उन्होंने कहा की नौकरी से निकाले गए 45 मजदूरों की सेवा बहाल की  जाए। और छटनी की प्रक्रिया पर तत्काल रोक लगाई जाए। उन्होंने कहा बोनी पॉलीमर के सैकड़ों मजदूरों ने मालिकों की मजदूर विरोधी नीतियों का श्रम विरोधी व 45 में मजदूरों को चटनी का विरोध करते हुए यह निर्णय लिया कि 5 दिसंबर को 3:30 बजे संस्था के गेट पर गेट मीटिंग करके वे 10 दिसंबर को डीएलसी कार्यालय पर सामूहिक अवकाश लेकर प्रदर्शन किया जाएगा।
आज की सभा को सीटू के जिला प्रधान निरंतर पराशर जिला सेक्रेटरी लाल बाबू शर्मा जिले के उपप्रधान विजय झा और ट्रेड यूनियन लीडर कामरेड शिव प्रसाद आशा वर्कर यूनियन की सचिव सुधा ने भी संबोधित किया। बैठक में सैकड़ों कर्मचारियों ने आंदोलन को मजबूती प्रदान करने के लिए सड़क पर उतरने के फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि प्रबंधकों की तानाशाही लंबे समय तक नहीं की जा सकती है। क्योंकि प्रबंधक मजदूरों को निशाना बनाकर प्रताड़ित करते रहते हैं।

No comments

Powered by Blogger.