Monday, December 9, 2019

अरावली के अवैध फ़ार्म हाउसों में दिल्ली जैसी कोई घटना हुई तो जिम्मेदार होंगे अधिकारी: एल.एन.पाराशर

फरीदाबाद(Abtaknews.com) सूरजकुंड रोड पर आये दिनों कई-कई घंटे का जाम लग जाता है और अगर दिल्ली जैसा हादसा किसी फ़ार्म हाउस में हो गया तो फ़ार्म हाउस में मौजूद सैकड़ों लोगों को भगवान् ही बचा सकता है।क्यू कि समय से फायर फ्रिगेड शायद ही घटना स्थल पर पहुँच सके। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के प्रधान एडवोकेट एलएन पाराशर का जिन्होंने एक प्रेस विज्ञप्ति के माधयम से फरीदाबाद प्रशाशन से कई सवाल पूंछा है।
पाराशर का सवाल है कि कई वर्षों से फरीदाबाद-सूरजकुंड रोड पर बने 100 से ज्यादा अवैध फ़ार्म हाउसों पर निगम कार्यवाही की बात करता है लेकिन अब तक कोई कार्यवाही क्यू नहीं हुई? पाराशर के मुताबिक़ निगम में जब भी कोई नया निगम कमिश्नर आता है उसका बयान आता है कि अरावली क्षेत्र में 140 फ़ार्म हाउस ढहाए जाएंगे लेकिन आगे कोई कार्यवाही नहीं की जाती। पाराशर का कहना है कि शायद फ़ार्म हाउस मालिकों को डराने के लिए ऐसे बयान दिए जाते हैं ताकि फ़ार्म हाउस मालिकों से मोटा चढ़ावा मिल सके।
पाराशर ने कहा कि फरीदाबाद-सूरजकुंड रोड पर कई  फ़ार्म हाउस ऐसे हैं जिनमे पार्किंग की कोई सुविधा नहीं है और ये  शादी-पार्टियों के लिए कई-कई लाख लेते हैं और सड़क पर पार्किंग करवाते हैं जिस कारण भारी जाम लग जाता है क्यू कि कई फार्म हाउस के बाहर हजारों की संख्या में वाहन सड़क पर खड़े कर दिए जाते हैं। 
पाराशर ने कहा कि आग लगने की एक घटना एक फ़ार्म हाउस में हो चुकी है लेकिन वो घटना दिन में हुई थी इसलिए जानमाल का कोई नुकशान नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि मई 2018 में जन्नत वैली में आग लगी थी और करोड़ों का नुक्सान हुआ था और इस साल भी मई में एक फ़ार्म हाउस में आग लगी थी।
पाराशर ने कहा कि फरीदाबाद-सूरजकुंड रोड पर स्थित अवैध फ़ार्म हाउसों में बुकिंग कराने वाले हजारों लोगों की जान खतरे में डाल रहे हैं और फरीदाबाद प्रशासन चुपचाप तमाशा देख रहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली जैसी घटना कभी किसी फ़ार्म हाउस में हो जाएगी तभी प्रशासन नींद से जागेगा। उन्होंने कहा कि कभी यहाँ कोई हादसा होगा तो फरीदाबाद प्रशासन ही जिम्मेदार होगा। उन्होंने कहा कि मैं गृह मंत्री अनिल विज को पत्र लिख रहा हूँ और उनसे मांग करूंगा कि तुरंत सभी अवैध फ़ार्म हाउसों पर कार्यवाही की जाए।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages