रविंद्र फागना क्रिकेट टूर्नामेंट में 53 बॉल पर 205 रन ठोककर 17 साल के नमन ने बनाया रिकार्ड

फरीदाबाद(abtaknews.com)11 दिसंबर,2019: 17 साल के नमन तिवारी ने बुधवार को रविंद्र फागना अंडर-17 क्रिकेट टूर्नामेंट में वह पारी खेली जो शायद कभी दोबारा देखने को नहीं मिले। नमन ने मात्र 53 गेंद पर 205 रन ठोककर दूसरी टीम को अकेले की पस्त कर दिया। नमन की अक्रामक बल्लेबाजी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने 150 रन केवल अपने छक्क ों से ही बना दिए। नमन ने अपनी पारी में 11 चौके और 25 छक्के मारे। शहर के पूर्व क्रिकेटरों ने भी नमन के बल्लेबाजी की जमकर तारीफ की।
पाली स्थित रविंद्र फागना मैदान पर अंडर-17 टूर्नामेंट खेला जा रहा है। बुधवार को अर्चीवर्स क्लब और आरसीसी क्लब के बीच मुकाबला था। अर्चीवर्स क्लब के एक समय सस्ते में तीन विकेट गिर चुके है। 40 ओवर के मुकाबले में शुरुआत में ही तीन विकेट गिरने के बाद विरोधी टीम के खिलाड़ी भी पूरी तरह आरामदायक स्थिति में थे। लेकिन चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए नमन के बल्ले से ऐसा तूफान निकला, जिसमें विरोधी टीम के गेंदबाज टिक नहीं सके। नमन से सभी दिशाओं में शॉट खेलते हुए अपना दोहरा शतक पूरा किया। नमन राइट हैंड बल्लेबाजी करने के साथ आफ स्पिन गेंदबाजी भी करते हैं।

सोनेट क्लब से खेलते है नमन--भारतीय टीम के लिए कई इंटरनेशनल खिलाड़ी निकालने वाले सोनेट क्लब में नमन भी प्रैक्टिस करते है। नमन दिल्ली की तरफ से अंडर-16 भी खेल चुके है। वहीं अंडर-19 टीम में भी स्टैंडबाय खिलाड़ी के रूप में शामिल हुए थे। नमन के पिता कमलेश कुमार तिवारी डिस्पेंसरी में कार्यरत है। नमन ने बताया कि जब वह बल्लेबाजी करने आए थे तो उनके दिमाग में किसी तरह का रिकार्ड नहीं था। लेकिन जैसे जैसे पिच पर समय बिताते गए बल्लेबाजी आसान हो गई।
यशस्वी ने विजय हजारे में ठोका था दोहरा शतक--बीसीसीआई लेवल वन कोच धर्मेंद्र फागना ने बताया कि यशस्वी जयसवाल ने अभी हाल में ही विजय हजारे में दोहरा शतक ठोका था। यशस्वी ने यह दोहरा शतक 17 साल की आयु में बनाया। लेकिन दोहरा शतक बनाने के लिए उन्होंने 153 बॉल खेली। उन्होंने बताया कि नमन अपनी बल्लेबाजी के दम पर जल्द ही रणजी और फिर भारतीय टीम का दरवाजा खटखटाएगा।

No comments

Powered by Blogger.