सभी बैंक 13 दिसंबर तक प्रधानमंत्री आवासीय योजना का विशेष शिविर लगाएँगे


फरीदाबादा(Abtaknews.com)11 दिसम्बर। राज्य स्तरीय बैंकर समिति द्वारा  उपायुक्त अतुल कुमार के मार्ग दर्शन में सरकार कै निर्देशानुसार गत 10 दिसम्बर से आगामी 13 दिसंबर तक प्रधानमंत्री आवासीय योजना का विशेष शिविर आयोजित किया जा रहे है। जिसके अतंर्गत गत 10 दिसम्बर 2019 को सिंडिकेट, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन बैंक तथा नगर निगम द्वारा कैंपो का आयोजन किया जा रहा है ।अग्रणी जिला मुख्य प्रबंधक श्री अलभ्य मिश्रा ने लोगो से निवेदन किया है कि वो इस योजना का अधिक से अधिक फायदा उठाये तथा इस शिविर में बढ़ चढ़कर हिस्सा ले।
इसी श्रंखला में बुधवार को सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक, इण्डियन बैंक , पंजाब एंड सिंध बैंक, ओरिएण्टल बैंक ऑफ कॉमर्स, सिंडिकेट बैंक सहित विभिन बैंको मे  कैंपो का आयोजन किया गया। 
 जिला अग्रणी बैंक अधिकारी डॉ अलभ्य मिश्रा ने बताया कि  आवेदनकर्ता क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम के अंतर्गत अपना आवेदन नजदीकी बैंक शाखा में जमा करवा सकता है।
 उन्होंने बताया कि इस शिविर में सभी बैंक अधिकारी तथा राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के कर्मचारी उपस्थित होकर  "प्रधानमंत्री जी का सपना 2022 में घर हो सबका अपना 'थीम पर कार्य करते हुए इस शिविर का आयोजन किया जा रहा है। जिसके बारे में सभी बैंकों को निर्देश जारी कर दिया गया है कि इस योजना के अंतर्गत अधिक से अधिक लाभार्थियों को लाभान्वित किया जाएगा ।
 जिला की बैंक शाखाओ के बैंक अधिकारी,  नगर परिषद व नगर निगम के कर्मचारी तथा अधिकारी  मिलकर इन शिविरों को सफल बनाने में अपना योगदान दें रहे हैं ।
 इसी प्रकार  सुभाष कुमार अग्रणी बैंक अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना में नागरिकों को मकान बनाने तथा मकान की मरम्मत करवाने के लिए अलग-अलग आय स्तर की श्रेणियों में अलग-अलग मात्रा व सब्सिडी पर लोन दिया जाता है। इस योजना में तीन लाख तक की सालाना आय के पात्र को इडब्ल्यूएस श्रेणी के अंर्तगत रखा गया है। तीन से छह लाख तक की सालाना आय के व्यक्ति को एलआईजी श्रेणी में तथा  छ: से बारह लाख तक की सालाना आमदनी वाले व्यक्ति को एमआईजी वन श्रेणी में  और  बारह से अठारह लाख तक की सालाना आय वाले व्यक्ति को एमआईजी 2 श्रेणी में रखा गया है ।
  उन्होंने बताया कि ईडब्ल्यूएस व एलआईजी श्रेणी को 6.50 प्रतिशत, एमआईजी 1 को 4% तथा एमआईजी 2 में 3% ब्याज अनुदान का लाभ दिया जाता है।  ईडब्ल्यूएस व एलआईजी श्रेणी वाले व्यक्तियों को 6 लाख तक, एमआईजी 1 को 9 लाख तक तथा एमआईजी 2 को 12 लाख तक का ऋण बैंक की अन्य शर्तो को पुरा करने पर दिया जाता है।

No comments

Powered by Blogger.