Tuesday, November 12, 2019

गुरु की याद में कीर्तन यात्रा से पहले गुरु साहिब की पालकी को फूलों से सजाया

फरीदाबाद(Abtaknews.com)12 नवम्बर। श्री गुरु नानकदेव जी महाराज के 550वें प्रकाशोत्सव पर गुरुद्वारा सैय्यदवाड़ा ओल्ड फरीदाबाद के महिला मंडल द्वारा कीर्तन एवं भंडारे का आयोजन किया गया। कीर्तन यात्रा से पहले गुरु साहिब की पालकी को फूलों से सजाया गया। वाहे गुरु के जयघोष के बाद यात्रा शुरू हुई। इस बीच हर रास्ता गुरुबाणी से गूंजता रहा। सेवादार दिनेश छाबड़ा, चुन्नीलाल चोपड़ा व टोनी पहलवान ने संयुक्त रूप से कहा यह पूरा कार्तिक महीना गुरुद्वारे की ओर से प्रभातफेरी निकाली जाती है। गायकों ने गुरबाणी से पूरे संगत को निहाल कर दिया। वहीं सिख समुदाय की महिलाओं ने सबद गाया। ‘पावन पवितर मितर आज मोहे आए है...’, ‘गुरु प्यारे मेरे नाल है... और ‘कल तारण गुरुनानक आया...’ गुरुबाणी व सबद गायन से हर कोना गूंज उठा। 
इस मौके पर किशनलाल शर्मा, सोनू शर्मा, टीटू मटकेवाला, जसकरण मेहता, पवन अरोड़ा, केडी शर्मा, हैप्पी, राकेश दुआ, विनोद दुआ, पंडित सरवन कुमार शर्मा, किशोरी लाल शर्मा, हरिकिशन अरोड़ा, साहिल अरोड़ा, राजेश खटाना, विक्रम मल्होत्रा, राहुल मल्होत्रा तथा महिला मंडल से भगवती देवी, शशि बरेजा, दर्शना रानी नद्राजोग विशेष रूप से मौजूद रहे।                   शास्त्री कालोनी स्थित गुरुद्वारा श्री सिंह सभा द्वारा नगर कीर्तन का आयोजन किया गया, जिसमें गतका ग्रुप ने जमकर कलाबाजी दिखाई। तलवारबाजी के साथ एक से बढक़र एक करतब दिखाए। गुरुद्वारे के प्रधान जरमेज सिंह चौहान ने बताया कि प्रकाशोत्सव पर्व को लेकर निकाले गए नगर कीर्तन यात्रा में पंच प्यारे को देखने के लिए लोग एकत्र हुए। हाथों में तलवार थामे शांति के प्रतीक पंच प्यारे जिस मार्ग से गुजरे, लोगों का हुजूम दिखा। महिलाएं व युवतियां उनके रास्ते की सफाई करती दिखीं, साथ ही मार्ग पर फूल बिछाए गए। सिख समुदाय के कई बच्चे-बच्चियां भी पंच प्यारे में वेष में नजर आये।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages