Tuesday, October 8, 2019

विजयादशमी पर शस्र पूजा करते राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के स्वयं सेवक,तिगांव में आरएसएस का पथसंचलन

फरीदाबाद(Abtaknews.com) 08अकटूबर,2019: विजयादशमी पर शस्र पूजा करते राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के स्वयं सेवक ।
समाज में कोई संगठन खड़ा करना संघ का कार्य नहीं बल्कि सम्पूर्ण हिन्दू समाज का संगठन खड़ा करना संघ का कार्य है।  क्योंकि संगठित हिन्दू शक्ति के अभाव के कारण ही अपना देश लगभग एक हजार वर्ष तक विदेशी सत्ता के अधीन रहा। संगठित एवं जागृत हिन्दू समाज ही सशक्त एवं समृद्ध भारत की गारंटी है।
उक्त विचार आज विजयादशमी के पावन पर्व पर सेक्टर 12 फरीदाबाद स्थित टाउन पार्क में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा आयोजित शस्त्र पूजन कार्यक्रम के अवसर पर प्रान्त प्रचारक श्री विजय कुमार ने व्यक्त किये। उन्होने कहा कि नौ दिनों तक लगातार शक्ति की देवी माँ दुर्गा की उपासना के बाद दसवें दिन अर्थात दशहरे के दिन हम शस्त्र पूजन करते हैं जिसका उद्देश्य अपने धर्म एवं राष्ट्र की रक्षा हेतु संकल्पित होना होता है।  
ज्ञात हो कि अधर्म पर धर्म की, अंधकार पर प्रकाश की, असत्य पर सत्य की जीत के प्रतीक पर्व विजयादशमी पर्व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का स्थापना दिवस भी है। आज ही के दिन 1925 में नागपुर में परम पूज्य डॉ केशव बलिराम हेडगेवार जी ने संघ की स्थापना की थी। इस अवसर पर संघ पुरे देश में शस्त्र पूजन एवं पथ संचलन के कार्यक्रम आयोजित करता है। फरीदाबाद महानगर पूर्व ने टाउन पार्क में एक बड़ा कार्यक्रम आयोजित किया जहां  एक ही स्थान पर 54 शाखाओं का संगम हुआ  जिसमे 1054 स्वयंसेवकों ने भाग लिया। दलित इंडस्ट्रियल चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स के अध्यक्ष कवि बिजेंद्र जी ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।
फरीदाबाद महानगर पश्चिम में कुल 11 स्थानों पर शस्त्र पूजन एवं पथ संचलन के कार्यक्रम आयोजित किये गए। ग्रीन फील्ड स्थित डॉ आंबेडकर पार्क में आयोजित कार्यक्रम में दिल्ली प्रान्त सह संघचालक एवं विश्व हिन्दू परिषद् के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री आलोक कुमार ने कहा कि 1947 में यदि हिन्दू समाज शक्तिशाली एवं संगठित होता तो देश का विभाजन नहीं होता ।  परन्तु आज परिस्थितियां बदल रही हैं, हिन्दू समाज जाग रहा है, संगठित हो रहा है जिसका परिणाम जम्मू कश्मीर से विभाजनकारी अनुच्छेद 370 की समाप्ति है। संघ पहले दिन से ही अनुच्छेद 370 को हटाने की मांग करता रहा है। क्योंकि यह अनुच्छेद जाने अनजाने देश विरोधी शक्तियों का पोषण कर रहा था। उन्होंने आशा जताई कि अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर का निर्माण भी अब शीघ्र होगा। उन्होंने कहा कि राममंदिर का मुद्दा केवल एक मंदिर का मुद्दा नहीं बल्कि इस  परम पुनीत भारत राष्ट्र की अस्मिता का मुद्दा है, देश की पहचान का मुद्दा है, उस भगवान् श्रीराम के जन्मस्थान का मुद्दा है जो विश्व के करोड़ों लोगों के आराध्य हैं। तीन तलाक विधेयक का पारित होना भी समान नागरिक संहिता की ओर बढ़ते कदमों के प्रतीक के रूप में देखा जा सकता है।बल्लबगढ़ में आदर्श नगर स्थित राजकीय प्राथमिक पाठशाला में आयोजित कार्यक्रम में संघ के प्रान्त सह संपर्क प्रमुख श्री गंगा शंकर मिश्रा ने कहा कि संघ के प्रत्येक स्वयंसेवक को अपने मन, वचन, कर्म एवं व्यवहार से सामाजिक समरसता का उदाहरण प्रस्तुत करना होगा। समरस समाज के बिना हिन्दू संगठन की कल्पना बेमानी है। पर्यावरण की रक्षा पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि हम सब को अधिक से अधिक पेड़ लगाकर उनकी पर्याप्त देखभाल भी करनी होगी और पानी की बर्बादी को रोकना होगा। उन्होंने प्लास्टिक का प्रयोग कम से कम करने और अपने घर, मुहल्ले एवं नगर को स्वच्छ रखने के लिए भी आग्रह किया।  
शस्त्र पूजन के पश्चात् अनेक स्थानों पर पथ संचलन निकाला गया। बल्लबगढ़ नगर में राजकीय प्राथमिक पाठशाला आदर्श नगर से प्रारम्भ होकर आदर्श नगर, सुभाष कॉलोनी, हरिनगर, छज्जूराम स्कूल रोड आदि से होता हुए वापस पाठशाला में ही संपन्न हुआ।  मार्ग में अनेक स्थानों पर स्थानीय महिलाओं ने पुष्प वर्षा कर पथ संचलन का भव्य स्वागत किया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages