Friday, October 25, 2019

जे.सी. बोस विश्वविद्यालय वाईएमसीए,फरीदाबाद में डेटा एनालिटिक्स पर आठ दिवसीय कार्यशाला संपन्न


फरीदाबाद(Abtaknews.com)25 अक्तूबर,2019:जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद के कंप्यूटर इंजीनियरिंग विभाग द्वारा डेटा एनालिटिक्स की विभिन्न तकनीकों का प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य आयोजित आठ दिवसीय कार्यशाला आज संपनन हो गई। टीईक्यूआईपी-3 कार्यक्रम के तहत आयोजित इस कार्यशाला में लगभग 60 शोधार्थियों और संकाय सदस्यों ने हिस्सा लिया। समापन सत्र में कुलपति प्रो. दिनेश कुमार मुख्य अतिथि रहे और प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र प्रदान किए। इस सत्र में कुलसचिव डॉ. सुनील कुमार गर्ग, कंप्यूटर इंजीनियरिंग विभाग के अध्यक्ष डॉ. कोमल कुमार भाटिया और कंप्यूटर अनुप्रयोग विभाग के अध्यक्ष डॉ. अतुल मिश्रा भी उपस्थित थे।
कार्यशाला के तकनीकी सत्रों का संचालन डेटा वैज्ञानिक और मशीन लर्निंग विशेषज्ञ मोहित कुमार तथा व्यवसाय सलाहकार विशेषज्ञ गुंजन थरेजा द्वारा किया गया। कार्यशाला का संयोजन डॉ. नीलम दूहन और डॉ. ज्योति द्वारा किया गया, जिसे डॉ. ममता, डॉ. दीपिका और डॉ. आश्लेषा द्वारा समन्वित किया गया। कुलपति प्रो दिनेश कुमार ने कार्यशाला के सफलतापूर्वक संचालन के लिए विभाग को बधाई दी तथा कहा कि तेजी से बदलती प्रौद्योगिकी में औद्योगिक जरूरतों को पूरा करने तथा भविष्य की चुनौतियों का सामना करने के लिए ऐसी कार्यशालाओं के निरंतर आयोजन की आवश्यकता है। उन्होंने प्रतिभागियों को नई प्रौद्योगिकी के अनुरूप ज्ञान एवं कौशल अर्जित करने के लिए प्रेरित किया। कुलपति ने कार्यशाला के विशेषज्ञ वक्ताओं को स्मृति चिन्ह भेंट किए।
डॉ. कोमल कुमार भाटिया ने बताया कि कार्यशाला के दौरान, डेटा एनालिटिक्स जैसे पाइथन, सांख्यिकी, मशीन लर्निंग, एडवांस एक्सेल और एसक्यूएल में वास्तविक समस्याओं एवं मामलों के अध्ययन के साथ-साथ प्रतिभागियों को व्यावहारिक अभ्यास करवाया गया ताकि वे डेटा एनालिटिक्स का उपयोग करते हुए व्यवसाय और डेटा रणनीति बनाने में सक्षम हो। इस अवसर पर डॉ. नीलम दूहन ने आठ दिवसीय कार्यशाला पर विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की और कार्यशाला के विशेषज्ञ संसाधन व्यक्तियों और सभी प्रतिभागियों को धन्यवाद किया। 

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages