Monday, October 28, 2019

मनोहर लाल मुख्यमंत्री और दुष्यंत चौटाला उपमुख्यमंत्री, नयी सरकार के संभावित मंत्री

चंडीगढ़(Abtaknews.com)28अक्टूबर, 2019: हरियाणा की नयी सरकार में संभावित मंत्रियों में विज, घनश्याम सर्राफ, संदीप सिंह, अभय सिंह यादव, सुभाष सुधा, सीमा त्रिखा, कंवरपाल गुर्जर इस रेस में है. साथ ही धीर सिंगला, नरेंद्र गुप्ता, डॉ. कमल गुप्ता, ज्ञान चंद गुप्ता और दीपक मंगला के नाम की भी चर्चा है. हरियाणा में सुभाष बराला, कैप्टन अभिमन्यु और ओम प्रकाश धनखड़ जैसे बड़े जाट नेता और पिछली कैबिनेट में मंत्री रहे ये तमाम लोग चुनाव हार चुके हैं. ऐसे में महिपाल ढांडा, कमलेश ढांडा, जेपी दलाल और प्रवीण डागर जैसे जाट चेहरे चुनाव जीते हैं. इनमें से एक चेहरे को मंत्री बनाना मजबूरी होगी क्योंकि ये पार्टी के टिकट पर जीत कर आए जाट चेहरे हैं।                                                हरियाणा की 14वीं विधानसभा के लिए 65 साल के मनोहर लाल खट्टर ने दूसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उनके साथ 31 साल के जजपा अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला ने भी उपमुख्यमंत्री
पद की शपथ ली। हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने दोनों को शपथ दिलाई। नई सरकार में भाजपा कोजजपा और 7 निर्दलीय विधायकोंने समर्थन दियाहै। मंत्रियों काशपथ ग्रहण दिवाली के बाद होगा।
खट्टर के शपथग्रहण में शामिल होने के लिए भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा,उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा,पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल व उनके बेटे सुखबीर बादल भी पहुंचे। इसके अलावा चौटाला परिवार सेनैना चौटाला, दुष्यंत चौटाला की पत्नी मेघना भी कार्यक्रम में मौजूद रहीं।दुष्यंत के पिता अजय सिंह चौटालाभी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए। अजय को शनिवार को दो हफ्ते की फरलो मिली थी।
ऐसे हुआ गठबंधन
21अक्टूबर को हुए हरियाणा विधानसभा चुनाव के 24 अक्टूबर को परिणाम आए थे। इसमें भाजपा ने 40 सीटें हासिल की थी। सरकार बनाने के लिए उन्हें46 विधायकों की जरूरत थी। 7 निर्दलीय विधायकों समेतहरियाणा लोकहित पार्टी के गोपाल कांडा ने भाजपा को समर्थन देने की घोषणा की।रातों-रात कई विधायक दिल्ली स्थित हरियाणा भवन पहुंच भी गए थे। इसी बीच अमित शाह से मुलाकात के बाद, जजपा नेता दुष्यंत चौटाला ने भाजपा को समर्थन देने की बात कही। शुक्रवार देर रात भाजपा ने जजपा और निर्दलीय विधायकों के साथ मिलकर सरकार बनाने का ऐलान कर दिया।
गोपाल कांडा के समर्थन पर हुआ विवाद
जीत के बाद गोपाल कांडा ने भाजपा को समर्थन देने का ऐलान किया, तो सोशल मीडिया से लेकर आम लोगों के बीच चर्चातेज हो गई। कांडा पर एयरहोस्टेस के सुसाइड केस में सीधे आरोप हैं, इसके चलते उनके समर्थन पर विवाद गर्मा गया।पार्टी नेता उमा भारती ने ट्वीट कर इसका विरोध किया। कांडा के समर्थन पर हां और ना के बीच, आखिरकार शनिवार को विधायक दल की बैठक के बाद अनिल जैन ने कांडा का समर्थन नहीं लेने की बात कही।
खट्टर चुने गए थे विधायक दल के नेता
शनिवार को भाजपा विधायक दल की बैठक हुई। इस बैठक में केंद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में निर्मला सीतारमणको आना था, लेकिन वहनहीं आ सकी। उनकी जगह केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद पहुंचे। विधायक दल की बैठक में मनोहर लाल खट्टर को सर्वसम्मति सेनेता चुना गया। भाजपा के प्रदेश प्रभारी अनिल जैन ने खट्टरको ही दोबारा सीएम बनाए जाने की घोषणा की।
जजपा-भाजपा गठबंधन पर हुड्डा ने तंज कसा था
जजपा द्वारा भाजपा को समर्थन देने के बाद भूपिंदरसिंह हुड्डा ने तंज कसते हुए अपनी प्रतिक्रिया दी थी। हुड्डा दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करके लौट रहे थे। इस दौरान पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए हुड्डा ने कहा- वोट किसी का, समर्थन किसी का, लोग समझ चुके हैं कि क्या खेल चल रहा है और अब आगे क्या होने वाला है। इस तरह का खेल खेलने वालों को जनता सबक जरूर सिखाएगी। चुनाव में हरियाणा कांग्रेस के प्रदर्शन से सोनिया गांधी खुश हैं। उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन के लिए पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को बधाई दी।
ये थे विधानसभा चुनाव के नतीजे
  • भाजपा - 40 सीटें
  • कांग्रेस - 31 सीटें
  • जजपा - 10 सीटें
  • इनेलो - 1 सीट
  • हलोपा - 1 सीट
  • निर्दलीय - 10 सीट

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages