Sunday, September 8, 2019

तिगांव विधायक ललित नागर के संयोजन में हुआ दलित सम्मेलन का आयोजन


फरीदाबाद(abtaknews.com)08अगस्त,2019; होडल विधानसभा क्षेत्र के विधायक एवं प्रदेश के प्रमुख दलित नेता उदयभान ने आरएसएस पर बड़ा हमला बोलते हुए आरएसएस को राष्ट्रीय षडयंत्रकारी संघ के नामकरण की संज्ञा दी। उन्होंने कहा कि एक सोची समझी रणनीति के तहत मौजूदा सरकार में दलितों की रिर्जेवेशन को खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है, जिससे कि दलितों को पूरी तरह से दबाया जा सके और इस सारे प्रकरण में आरएसएस की महत्वपूर्ण भूमिका है, लेकिन कांग्रेस पार्टी ऐसी षडयंत्रकारी ताकतों के षडयंत्र को कामयाब नहीं होने देगी। विधायक उदयभान आज खेड़ी कलां स्थित रंगोली गार्डन में तिगांव विधानसभा क्षेत्र के विधायक ललित नागर के संयोजन में आयोजित दलित सम्मेलन को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन में पहुंचने पर इलाके से आए दलित समाज के लोगों ने विधायक उदयभान का पगड़ी बांधकर जोरदार स्वागत किया वहीं उन्हें आने वाले चुनाव में एकजुट हो कांग्रेस पार्टी को अपने पूरे समर्थन का भी ऐलान किया। सम्मेलन की शुरुआत बाबा भीमराव अंबेडकर के चित्र पर पुष्प अर्पित करके की गई। सम्मेलन में भारी संख्या में दलित समाज के मौजिज लोगों ने पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं राज्यसभा सांसद कुमारी सैलजा के हरियाणा प्रदेश कांगे्रस कमेटी का अध्यक्ष बनाने पर भी एकमत से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का आभार जताते हुए कांग्रेस पार्टी को ही सही मायनों में दलित हितैषी पार्टी की संज्ञा दी। 

दलित सम्मेलन में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए उदयभान ने भाजपा पर जमकर निशाना साधे। उन्होंने भाजपा को दलित विरोधी पार्टी करार देते हुए कहा कि भाजपा के 5 साल में दलितों को हाशिये पर लाने का काम किया गया है, समय-समय पर दलित विरोधी गतिविधियों को अंजाम दिया गया है। दलित विरोधी होने का इससे बड़ा प्रमाण क्या होगा कि मौजूदा सरकार ने एससी कमीशन को ही भंग कर दिया वहीं 25 लाख लोगों के बीपीएल कार्ड सूची से नाम काट दिए गए। वहीं बैकलॉग को भी पूरा किया गया। उन्होंने कहा कि आज दलित समाज भाजपा के षडयंत्र को पूरी तरह से समझ चुका है तथा आने वाले विधानसभा चुनावों में वोट की चोट से जोरदार आवाज में जवाब दिया जाएगा और इनका 75 प्लस का नारा 25 के आंकड़े को भी नहीं छू पाएगा। इस अवसर पर दलित सम्मेलन के आयोजक तिगांव विधानसभा क्षेत्र के विधायक ललित नागर ने सम्मेलन में उपस्थित लोगों की भावनाओं को कांग्रेस से जोड़ते हुए कहा कि मैं पंडित जवाहर लाल नेहरु, इंदिरा गांधी व राजीव गांधी की उस कांग्रेस पार्टी से नाता रखता हूं, जिस पार्टी ने हमेशा दलितों के हितों को सर्वाेपरि रखा है। मैंने भी उन्हीं को आदर्श मानते हुए अपने विधायक काल में सडक़ से लेकर विधानसभा तक दलित हित से जुड़े मुद्दों को पुरजोर से उठाकर दलितों के हितार्थ काम करके दिखाया। उन्होंने कहा कि इतिहास गवाह है कि दलित समाज ने हमेशा बढ़चढक़र कांग्रेस का साथ दिया है, ऐसे में अब समय आ गया है कि सभी एकजुट हो भाजपा रुपी विघटनकारी ताकतों को करार जवाब दिया जा सके क्योंकि ऐसी सत्ता लोलुप भाजपाई नेता चुनाव नजदीक आता देख अब फिर से गरीब व दलित लोगों के समक्ष अपने जादुई बाण फैंक उन्हें भ्रमित करने की कोशिश करेंगे लेकिन उन्हें यह बताने की जरुरत है कि अब दलित समाज पूरी तरह से अपने हक-हकूक के लिए जागरुक हो चुका है। उन्होंने मंच से ऐलान किया जल्द ही प्रदेश में कांग्रेस की सरकार का गठन होगा और सरकार बनते ही पहली कलम से भाजपा सरकार द्वारा दलित विरोधी लिए गए फैसलो को बंद कर दलितों के हितार्थ योजनाएं बनाई जाएगी। 
इस अवसर पर मामचंद नंबरदार, पृथ्वी सिंह मास्टर, रामजीलाल प्रधान, दलित नेता बाबूलाल रवि, सदस्य ब्लाक समिति अशोक रावल, डांगी सिंह, महेंद्र नंबरदार, महेश नागर, वेदपाल दायमा, लेखराज सरपंच, किरण सरपंच, धनसिंह ददसिया, महेंद्र सिंह, राजबीर महाशय, अनिल चेची, अशोक कीर, सतबीर सिंह, सुंदर नेताजी, भीम सिंह, रामपाल सरपंच, गजेंद्र सिंह, रघुबीर सिंह, रतिराम पाहट, पूर्व पार्षद दया खेड़ी, निरोत्तम दास, कृष्ण सरपंच, नैन सिंह प्रधान, रॉकी वाल्मीकि, खजान सिंह, शंकर नंबरदार, सूरजपाल भूरा, रघुराज वाल्मीकि सहित दलित समाज के अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे।


No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages