Saturday, August 24, 2019

एमडीयू गर्ल्स हॉस्टल में हुई आत्महत्याओं व ड्रोन कैमरा मामला पहुंचा महिला आयोग

 
रोहतक(Abtaknews.com)24 अगस्त,2019:महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में हॉस्टल की छात्राओं की सुरक्षा का मुद्दा राज्य महिला आयोग में पहुंच गया है। इनसो प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप देशवाल ने हरियाणा महिला आयोग को पत्र लिखकर एमडीयू गर्ल्स हॉस्टलों में छात्राओं द्वारा की गई आत्महत्याओं की न्यायिक जांच की मांग की है। इसके अतिरिक्त गर्ल्स हॉस्टल में ड्रोन कैमरे के मामले में भी जांच कराकर सख्त कार्रवाई का आग्रह किया है।

इनसो प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप देशवाल ने राज्य महिला आयोग को पत्र लिखकर अवगत कराया है कि एमडीयू में पिछले कुछ वर्षों में ही करीब दर्जनों छात्राएं आत्महत्या कर चुकी हैं, जिनमे से ज्यादातर छात्राएं वो हैं जो हॉस्टल में रह रही थी। इतनी ज्यादा संख्या में छात्राओं द्वारा आत्महत्या करने के मामले की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच करानी चाहिए, ताकि आत्महत्या के वास्तविक कारणों का पता चल सके।

प्रदीप देशवाल ने कहा है कि कुछ दिन से हॉस्टल की छात्राओं की ड्रोन कैमरे से निगरानी की जा रही है। छात्राओं ने उस ड्रोन की वीडियो भी बनाई व प्रशासन को लिखित में शिकायत भी की। परन्तु  हॉस्टल की चीफ वार्डन कोई सख्त कार्यवाही करने की बजाय इस मामले को दबाना चाहती हैं। छात्राओं की सुरक्षा से संबंधित गंभीर मामले को चीफ वार्डन व कुछ अन्य अधिकारियों द्वारा दबाया जाना प्रशासन की कार्यप्रणाली पर कई सवाल खड़े करता है।

इनसो छात्र संघ ने पत्र के द्वारा राज्य महिला आयोग से मांग की है कि वो इस मामले में तुरंत संज्ञान लेकर जांच शुरु कराए ताकि छात्राओं द्वारा की गई आत्महत्या के कारणों की वास्तविक सच्चाई सामने आ सके। इनसो छात्र संघ ने चिंता जाहिर की है की कहीं छात्राओं की आत्महत्या के पीछे ड्रोन कैमरे से वीडियो बनाकर या अन्य किसी तरीके से ब्लैकमेल करने जैसा कोई कारण तो नहीं है, इसलिए इसकी जांच होना बेहद जरूरी है।

प्रदीप देशवाल ने एमडीयू कुलपति व भाजपा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर तुरंत प्रभाव से इस संबंध में सख्त कार्रवाई नहीं हुई तो रोहतक में इनसो कार्यकर्ता मुख्यमंत्री की रथ यात्रा को रोक कर एमडीयू के हॉस्टलों में रहने वाली छात्राओं की सुरक्षा का मुद्दा को उठाएंगे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages