Breaking

Friday, August 9, 2019

कर्मचारियों को समान काम के लिए समान वेतन एवं सेवा सुरक्षा न देने से सरकार से नाराज़ ;सुभाष लाम्बा

फरीदाबाद(abtaknews.com)9 अगस्त.2019:मुख्यमंत्री भले ही समाप्त हुए विधानसभा सत्र में धोषणा पत्र में किए वादों से बढ़कर काम करने का दावा कर रहे हैं।  लेकिन सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ने कर्मचारियों से धोषणा पत्र में किए एक भी वादें पर अमल न करने का आरोप लगाया है। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के महासचिव सुभाष लांबा ने यह आरोप शुक्रवार को चिमनी बाई धर्मशाला में आयोजित जिला सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए लगाया। उन्होंने कहा कि प्रदेश का कर्मचारी पुरानी पेंशन स्कीम बहाल न करने,कच्चे कर्मचारियों को पक्का न करने, बिना भेदभाव के पार्ट एक व दो में लगे कर्मचारियों को समान काम के लिए समान वेतन एवं सेवा सुरक्षा न देने से सरकार से नाराज़ हैं। उन्होंने ऐलान किया कि 16-17-18 अगस्त को सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा का 15 वां राज्य प्रतिनिधि सम्मेलन सर छोटूराम जाट भवन पंचकूला में आयोजित किया जाएगा। जिसमें सरकार के खिलाफ आन्दोलन की रणनीति बनाई जाएगी। सम्मेलन में केन्द्र सरकार से धारा 370 खत्म करने की तरह एनपीएस को खत्म कर पुरानी पेंशन बहाल करने की मांग की है। जिससे जनवरी 2004 के बाद सरकारी सेवा में आए करीब 50 लाख कर्मचारियों का भला हो सकें। प्रचंड बहुमत की सरकार अगर ऐसा नहीं करती है तो यह बात बिल्कुल स्पष्ट हो जाएंगी कि 370 हटाने का फैसला वोटों के ध्रुवीकरण करने के लिए ही किया है। सम्मेलन की अध्यक्षता जिला प्रधान अशोक कुमार ने की। जिला सचिव युद्धवीर सिंह खत्री द्वारा संचालित इस सम्मेलन में बल्लभगढ़ व फरीदाबाद खंड कमेटियों के निर्वाचित प्रतिनिधियों के अलावा विभागीय संगठनों के सदस्यता पर आधारित चुने हुए सैंकड़ों प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।

सम्मेलन में सर्व सम्मति से पारित किए गए प्रस्ताव में सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा द्वारा 27-28-29 अगस्त को होने वाली हड़ताल व इसके समर्थन में आयोजित सभी प्रकार के आन्दोलन में पुरजोर समर्थन करने का फैसला लिया गया। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री ने बतौर मुख्य वक्ता बोलते हुए सरकार पर नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के साथ 24 मई को तीन मंत्रियों की गठित कमेटी द्वारा किए गए समझोते को लागू न करने का आरोप लगाया। मुख्य संगठनकर्ता बीरेंद्र सिंह डंगवाल ने आरोप लगाया कि सरकार घोषणा पत्र में किए वादों पर अमल न करने कर्मचारी वर्ग को आंदोलन करने पर मजबूर कर रही है।सम्मेलन में विगत तीन वर्षों के कार्यकाल की सांगठनिक वह वित्त की रिपोर्ट प्रतिनिधियों के समक्ष पेश की।जिसको प्रतिनिधियों ने कुछ सुझाव के साथ पारित कर दी।

सम्मेलन में सर्व सम्मति से आगामी तीन साल के लिए नयी जिला कमेटी का चुनाव किया गया-

सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के महासचिव सुभाष लांबा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री व मुख्य संगठनकर्ता बीरेंद्र सिंह डंगवाल की देखरेख में आगामी तीन साल के लिए नयी जिला कमेटी का चुनाव किया गया। जिसमें अशोक कुमार को प्रधान,बलबीर सिंह बालगुहेर को सचिव व युद्धवीर सिंह खत्री को कोषाध्यक्ष चुना गया। इसके अलावा देवराज को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, जितेन्द्र धनखड़ व अतर सिंह केशवाल को उप प्रधान, श्रीमती ललिता को सह सचिव, मुकेश बेनिवाल को संगठन सचिव व उपकार फौगाट को आडीटर चुना गया।

सम्मेलन में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा व विभागीय संगठनों के नेता सुभाष लांबा, नरेश कुमार शास्त्री, बीरेंद्र सिंह डंगवाल, पूर्व राज्य आडीटर श्रीपाल सिंह भाटी, पूर्व जिला प्रधान लज्जा राम, सतपाल नरवत,राम आसरे यादव,हाजी सहजाद, रविन्द्र नागर, शब्बीर अहमद, करतार सिंह, सुभाष देसवाल, रमेश चन्द्र तेवतिया, टीका राम शर्मा,डिगम्बर डागर मुरली लाल, जगदीश चन्द्र, नानक चंद खरालियां,गुरचरण सिंह खाडियां,भीम सिंह, बीरेंद्र सिंह, दिनेश कुमार, नरेश कुमार, सोमपाल झंझोटियां,कर्मचंद नागर, कृष्ण कुमार,गिरिश चन्द्र,भूप सिंह आदि उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages